Submit your post

Follow Us

पहले टेस्ट में वेस्टइंडीज़ की टीम मैदान पर दुनिया को आईना दिखाने वाली है!

कोरोना काल के बाद एक बार फिर से क्रिकेट की मैदान पर वापसी हो रही है. 8 जुलाई को साउथैम्पटन के एजिस बाउल क्रिकेट मैदान पर इंग्लैंड और वेस्टइंडीज़ की टीमें टेस्ट सीरीज़ की शुरुआत करेंगी. लेकिन लंबे वक्त बाद क्रिकेट की वापसी के साथ ही इस सीरीज़ में एक खास बात होगी. सीरीज़ के पहले मुकाबले में वेस्टइंडीज़ की टीम अपनी जर्सी पर ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ कैम्पेन का लोगो लगाकर उतरेगी. टीम ने इसके लिए आईसीसी से भी परमिशन ले ली है. दुनियाभर में रंगभेद के खिलाफ ये कैम्पेन चल रहा है.

इस कैम्पेन की शुरुआत 20 प्रीमियर लीग फुटबॉल क्लब्स ने की थी. जिसे अब क्रिकेट में भी सपोर्ट किया जा रहा है. इसे लेकर वेस्टइंडीज़ टीम के कप्तान जेसन होल्डर ने कहा,

”खेल के इतिहास में ये क्रिकेट और वेस्टइंडीज़ क्रिकेट के लिए ये एक अहम क्षण हैं. हम इंग्लैंड में विस्डन ट्रॉफी को रिटेन करने के इरादे से आए हैं, लेकिन दुनिया में जो भी हो रहा है, हम उसे लेकर जागरूक हैं. हम न्याय और बराबरी के लिए लड़ेंगे.”

Jason Holder 1
जेसन होल्डर.

होल्डर ने आगे कहा,

”हम अपने इस फैसले को बिल्कुल भी हलके में नहीं ले सकते. हम इस बात को जानते हैं कि त्वचा के रंग के कारण लोगों के बारे में कैसी-कैसी धारणाएं बनाई जाती हैं. ऐसे में पीड़ित लोग कैसा महसूस करते हैं, हम इसे भी अच्छे से जानते हैं. लेकिन अब इन अत्याचारों ने सीमाएं पार कर दी हैं. समाज में समानता और एकता होनी चाहिए. जब तक हमें इंसान नहीं समझा जाएगा, हम नहीं रुकेंगे.”

उन्होंने आगे कहा,

”बराबरी के अधिकारों के लिए हमें कोई रास्ता तलाशना ही होगा. लोगों को उनके रंग या पिछड़े बैकग्राउंड की वजह से अलग तरह से नहीं देखा जा सकता.”

संयुक्त राष्ट्र अमेरिका में जॉर्ज फ्लॉयड नाम के एक अफ्रीकी-अमेरिकी शख्स की हत्या के बाद ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ कैम्पेन पश्चिमी देशों में चरम पर हैं.

इंग्लैंड और वेस्टइंडीज़ के बीच खेली जाने वाली तीन मैचों की सीरीज़ बिना फैंस के खेली जाएगी. इस सीरीज़ का नाम #RaiseTheBat रखा गया है. जो कि क्रिकेट से जुड़े उन लोगों के सम्मान में है. जिन्होंने कोविड 19 महामारी के मुश्किल वक्त में मुश्किल से गुज़र रहे लोगों की मदद की.


2019 वर्ल्ड कप में भारत पाकिस्तान मैच से पहले टीम इंडिया को किसने गालियां दीं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अलीगढ़ शराबकांड का मुख्य आरोपी और एक लाख का इनामी ऋषि शर्मा गिरफ्तार

अलीगढ़ शराबकांड का मुख्य आरोपी और एक लाख का इनामी ऋषि शर्मा गिरफ्तार

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जहरीली शराब से अब तक 108 लोगों की मौत हो चुकी है.

ट्विटर ने उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू के अकाउंट से ब्लू टिक हटाया, कुछ ही घंटे में रिस्टोर किया

ट्विटर ने उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू के अकाउंट से ब्लू टिक हटाया, कुछ ही घंटे में रिस्टोर किया

पर्सनल अकाउंट से हटा था ब्लू टिक, ट्विटर ने वजह बताई.

यूपीः भाजपा नेताओं ने हिस्ट्रीशीटर को पुलिस की गिरफ्त से छुड़ाकर भगा दिया, पुलिस अब तक तलाश रही है

यूपीः भाजपा नेताओं ने हिस्ट्रीशीटर को पुलिस की गिरफ्त से छुड़ाकर भगा दिया, पुलिस अब तक तलाश रही है

कानपुर की घटना, पुलिस ने शुरुआती FIR में बीजेपी नेताओं का नाम ही नहीं लिखा.

राजस्थान में क्या सचमुच कोरोना वैक्सीन की जमकर बर्बादी हो रही है?

राजस्थान में क्या सचमुच कोरोना वैक्सीन की जमकर बर्बादी हो रही है?

अशोक गहलोत सरकार का इनकार, लेकिन आंकड़े कुछ और ही बता रहे.

रिटायर्ड जस्टिस अरुण मिश्रा को मोदी सरकार ने NHRC चेयरमैन बनाया तो बवाल क्यों हो रहा है?

रिटायर्ड जस्टिस अरुण मिश्रा को मोदी सरकार ने NHRC चेयरमैन बनाया तो बवाल क्यों हो रहा है?

लोग जस्टिस अरुण मिश्रा को इस पद के लिए चुने जाने का बस एक ही कारण गिना रहे हैं.

क्या कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों को लेकर मोदी सरकार झूठ बोल रही है?

क्या कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों को लेकर मोदी सरकार झूठ बोल रही है?

अलग-अलग आंकड़े क्या कहानी बताते हैं?

लक्षद्वीप में दारू और बीफ़ वाले नियमों पर बवाल बढ़ा तो अमित शाह ने क्या कहा?

लक्षद्वीप में दारू और बीफ़ वाले नियमों पर बवाल बढ़ा तो अमित शाह ने क्या कहा?

लक्षद्वीप के सांसद मोहम्मद फैज़ल ख़ुद मिलने गए थे अमित शाह से

पत्रकार से IAS बने अलपन बंदोपाध्याय, जो ममता और मोदी सरकार में रस्साकशी की नई वजह बन गए हैं

पत्रकार से IAS बने अलपन बंदोपाध्याय, जो ममता और मोदी सरकार में रस्साकशी की नई वजह बन गए हैं

ममता बनर्जी ने केंद्र के आदेश की क्या काट ढूंढ निकाली है?

वैक्सीनेशन पर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को घेरा, पूछा- वैक्सीन का एक रेट क्यों नहीं?

वैक्सीनेशन पर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को घेरा, पूछा- वैक्सीन का एक रेट क्यों नहीं?

वैक्सीन की कमी, राज्यों के टेंडर जैसे मुद्दों पर भी सरकार से तीखे सवाल किए.

यूपी के महोबा में कूड़ा ढोने वाली गाड़ी से शव मोर्चरी में पहुंचाया

यूपी के महोबा में कूड़ा ढोने वाली गाड़ी से शव मोर्चरी में पहुंचाया

विवाद बढ़ता देख अब जांच के आदेश दिए गए.