Submit your post

Follow Us

फोन में 'आरोग्य सेतु' ऐप डाउनलोड कीजिए या फिर कड़ी सजा के लिए तैयार रहिए!

आरोग्य सेतु ऐप. कोरोना के इस दौर में सरकार ने लॉन्च किया इस ऐप को. इसे डाउनलोड कराने के लिए सरकार ने पहले दिन से ही काफी मेहनत शुरू कर दी थी. खुद प्रधानमंत्री ये ऐप डाउनलोड करने को कह चुके हैं. लेकिन अब इसे डाउनलोड न करने पर IPC की धारा 188 के तहत गंभीर कार्रवाई हो सकती है. फिलहाल दिल्ली से सटे नोएडा में इसको डाउनलोड कराने के लिए प्रशासन ने आदेश जारी किया है.

क्या है आदेश में

वे लोग जो नोएडा अथवा ग्रेटर नोएडा में रह रहे हैं, उन्हें ये ऐप अपने फोन में डाउनलोड करके रखना होगा. अगर किसी के स्मार्टफोन में यह ऐप नहीं होगा, तो उसके खिलाफ IPC की धारा 188 के तहत मामला दर्ज किया जा सकता है. यह धारा सरकारी आदेश को न मानने पर लगाई जाती है. इसमें व्यक्ति को छह महीने की कैद या 1000 का जुर्माना हो सकता है.

डीसीपी लॉ एंड ऑर्डर अखिलेश कुमार के मुताबिक-

यह ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट तय करेंगे कि व्यक्ति को चेतावनी देकर छोड़ दिया जाए या जुर्माना अथवा जेल होगी. अगर लोग इसे जल्द डाउनलोड कर लेंगे, तो हम उन्हें जाने देंगे. हम ऐसा सिर्फ इसलिए कर रहे हैं कि लोग आदेश को गंभीरता से लें. अगर फोन में डेटा नहीं है, तो हम तुरंत ही उन्हें फोन का हॉट-स्पॉट देंगे. अगर फोन में जगह नहीं होने जैसी समस्या आएगी, तो हम व्यक्ति का फोन नंबर लेंगे और बाद में कॉल करके चेक करेंगे कि डाउनलोड किया या नहीं? पुलिस जहां भी ड्यूटी पर है, इसकी जांच करेगी.

केंद्र के द्वारा जारी गाइडलाइंस के अनुसार, यह ऐप उनके लिए अनिवार्य है, जो ऑफिस जा रहे हैं. यह नियम सरकारी या प्राइवेट सेक्टर, कहीं भी काम कर रहे व्यक्ति के लिए अनिवार्य है. हालांकि राज्य चाहे, तो केंद्र के इस आदेश में और कड़ाई कर सकता है. यही कड़ाई नोएडा और ग्रेटर नोएडा में देखी भी जा रही है.



वीडियो देखें: आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करने के फायदे क्या हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

चिराग पासवान के चचेरे भाई सांसद प्रिंस राज पर लगे रेप के आरोप का पूरा मामला है क्या?

चिराग पासवान के चचेरे भाई सांसद प्रिंस राज पर लगे रेप के आरोप का पूरा मामला है क्या?

आरोप लगाने वाली महिला के खिलाफ प्रिंस ने भी फरवरी में दर्ज कराई थी FIR.

किसान आंदोलन में शामिल लोगों पर आरोप- पहले ग्रामीण को शराब पिलाई, फिर जिंदा जला दिया!

किसान आंदोलन में शामिल लोगों पर आरोप- पहले ग्रामीण को शराब पिलाई, फिर जिंदा जला दिया!

बहादुरगढ़ की घटना, पुलिस ने दो लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है.

CBSE ने सुप्रीम कोर्ट में बताया, 12वीं के मार्क्स देने का 30:30:40 फॉर्मूला क्या है

CBSE ने सुप्रीम कोर्ट में बताया, 12वीं के मार्क्स देने का 30:30:40 फॉर्मूला क्या है

31 जुलाई से पहले फाइनल रिजल्ट जारी करने की जानकारी भी दी है.

योगी सरकार के संपत्ति रजिस्ट्री को लेकर लगने वाले स्टाम्प शुल्क के नए नियम में क्या है?

योगी सरकार के संपत्ति रजिस्ट्री को लेकर लगने वाले स्टाम्प शुल्क के नए नियम में क्या है?

नए नियम के बाद विवादों में कमी आएगी?

हरिद्वार कुंभ के दौरान बांटी गयी 1 लाख फ़र्ज़ी कोरोना रिपोर्ट? जानिए क्या है कहानी

हरिद्वार कुंभ के दौरान बांटी गयी 1 लाख फ़र्ज़ी कोरोना रिपोर्ट? जानिए क्या है कहानी

अख़बार का दावा, सरकारी जांच में हुआ ख़ुलासा

दिल्ली दंगा : नताशा, देवांगना और आसिफ़ को ज़मानत देते हुए कोर्ट ने कहा, 'कब तक इंतज़ार करें?'

दिल्ली दंगा : नताशा, देवांगना और आसिफ़ को ज़मानत देते हुए कोर्ट ने कहा, 'कब तक इंतज़ार करें?'

जानिए क्या है पूरा मामला?

सैन्य ऑपरेशन से जुड़े 25 साल से ज्यादा पुराने रिकॉर्ड सार्वजनिक होंगे

सैन्य ऑपरेशन से जुड़े 25 साल से ज्यादा पुराने रिकॉर्ड सार्वजनिक होंगे

सेना के इतिहास से जुड़ी जानकारियां सार्वजनिक करने की पॉलिसी को मंजूरी

पंजाब चुनाव: अकाली दल और बसपा गठबंधन का ऐलान, कितनी सीटों पर लड़ेगी मायावती की पार्टी?

पंजाब चुनाव: अकाली दल और बसपा गठबंधन का ऐलान, कितनी सीटों पर लड़ेगी मायावती की पार्टी?

पंजाब के अलावा बाकी चुनाव भी साथ लड़ने की घोषणा.

TMC में घर वापसी करने वाले मुकुल रॉय ने 4 साल बाद बीजेपी छोड़ने का फैसला क्यों लिया?

TMC में घर वापसी करने वाले मुकुल रॉय ने 4 साल बाद बीजेपी छोड़ने का फैसला क्यों लिया?

मुकुल रॉय को बराबर में बिठाकर ममता बनर्जी किन गद्दारों पर भड़कीं?

लक्षद्वीप: किस एक बयान के बाद फिल्म निर्माता आयशा सुल्ताना पर राजद्रोह का केस हो गया?

लक्षद्वीप: किस एक बयान के बाद फिल्म निर्माता आयशा सुल्ताना पर राजद्रोह का केस हो गया?

पहले TV डिबेट में बोला, फिर फेसबुक पर पोस्ट लिखा.