Submit your post

Follow Us

धनबाद: चोरी के ऑटो से मारी थी जज को टक्कर; हादसा नहीं, हत्या है?

झारखंड के धनबाद में अतिरिक्त जिला व सत्र न्यायाधीश उत्तम आनंद की मौत के मामले में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. जस्टिस आनंद 28 जुलाई की सुबह मॉर्निंग वॉक पर निकले थे, तभी एक टेम्पो पीछे से उनमें टक्कर मारकर भाग गया था. उत्तम आनंद सड़क किनारे पड़े तड़पते रहे. बाद में एक राहगीर ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया. इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया. अब इस मामले में पुलिस की तफ्तीश से पता चला है कि जिस टेम्पो से जज को टक्कर मारी गई थी, वह चोरी का था. पुलिस ने ऑटो चालक और उसके दो सहयोगियों को गिरफ्तार कर लिया है. इस बीच, सुप्रीम कोर्ट तक ये मामला गूंजा. हाईकोर्ट ने सरकार को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है. वहीं, झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने उच्च स्तरीय जांच समिति बनाकर एक सप्ताह में रिपोर्ट देने का अधिकारियों को निर्देश दिया है.

CCTV फुटेज से मिले सुराग

जज उत्तम आनंद के साथ ये घटना धनबाद के रणधीर वर्मा चौक के आगे न्यू जज कॉलोनी मोड़ पर हुई थी. घटना का CCTV फुटेज सामने आया है. आजतक की रिपोर्ट के मुताबिक, इस फुटेज से ये लगभग साफ हो गया है कि ये हादसा नहीं, हत्या थी. CCTV में दिख रहा है कि सड़क पूरी तरह खाली है. जज उत्तम आनंद सड़क किनारे बाईं ओर चल रहे हैं. तभी एक ऑटो आता है. वह सीधा न जाकर अचानक बाईं ओर मुड़ता है, और जज में टक्कर मार देता है. वह गिर जाते हैं. इसके बावजूद ऑटो नहीं रुकता और तेजी से आगे बढ़ जाता है.

ऑटो ड्राइवर, सहयोगी गिरफ्तार

जिस ऑटो ने जज को टक्कर मारी थी, उसे पुलिस ने जब्त कर लिया है. हादसे के बाद ये ऑटो एक पेट्रोल पंप पर लगे CCTV में कैद हो गया. ये ऑटो पाथरडीह से चुराया गया था. दैनिक भास्कर की खबर के मुताबिक, ऑटो मालकिन सुगनी देवी ने दावा किया कि उनका ऑटो रात में चोरी हो गया था. उन्होंने अपने ऑटो की फोटो भी दिखाई. कथित तौर पर चोरी करने वालों ने ऑटो से हर तरह के निशान मिटाने की कोशिश की थी, लेकिन पिछली सीट की दाईं ओर लगा स्टीकर वही है. शीशे पर दिल के निशान का स्टिकर भी लगा है. पुलिस ने ऑटो चालक और उसके दो सहयोगियों को गिरिडीह से गिरफ्तार किया है. दोनों जोड़ापोखर थाना क्षेत्र के डिगवाडीह 12 नंबर के रहने वाले हैं. उन्हें धनबाद ले जाया गया है.

CJI बोले, अभी हमारे दखल की जरूरत नहीं

जज की हत्या का ये मामला गुरुवार 29 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट में उठा. आजतक की रिपोर्ट के मुताबिक, सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष विकास सिंह ने चीफ जस्टिस एनवी रमना के सामने इसका जिक्र किया. जांच की मांग की. कहा कि शुरू में यह मामला हिट एंड रन का लग रहा था, लेकिन CCTV फुटेज आने के बाद यह साजिशन मर्डर का केस दिख रहा है. CCTV फुटेज के विश्लेषण से स्पष्ट है कि टक्कर जानबूझकर मारी गई थी. विकास सिंह का कहना था कि किसी गैंगस्टर की जमानत खारिज करने के बाद अगर इस तरह जज की हत्या कर दी जाती है तो यह न्यायपालिका के लिए बेहद खतरनाक स्थिति है.

इस पर चीफ जस्टिस रमना ने कहा कि उन्होंने सुबह ही इस सिलसिले में झारखंड के चीफ जस्टिस से बात की है. हाईकोर्ट ने स्वत: संज्ञान लेते हुए सरकार को नोटिस जारी करके पूरी घटना पर जवाब तलब किया है. धनबाद के प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों को भी तलब किया गया है. जस्टिस रमना ने कहा कि अभी हाईकोर्ट सुनवाई कर रहा है. उन्हें मामले को संभालने दें. फिलहाल हमारे हस्तक्षेप की जरूरत नहीं है.

हाईकोर्ट ने पूछा क्यों न जांच CBI को सौंपी जाए?

हाईकोर्ट में गुरुवार, 29 जुलाई को जज उत्तम आनंद की मौत के मामले में सुनवाई हुई. हाईकोर्ट ने स्वतः संज्ञान लेते हुए झारखंड के DGP और धनबाद के SSP से जवाब तलब किया है. हाईकोर्ट ने इस मामले में सरकार से भी जवाब मांगा है. कोर्ट ने DGP से पूछा कि राज्य में ये क्या हो रहा है, क्यों ना इस पूरे मामले को जांच CBI को सौंप दी जाए? सुवाई के दौरान कोर्ट ने पूछा कि पुलिस कंट्रोल रूम से CCTV फुटेज बाहर कैसे पहुंचा? सोशल मीडिया पर ये वायरल कैसे हो गया. इस मामले में भी कोर्ट ने जवाब मांगा है.

चर्चित मामलों की सुनवाई कर रहे थे

न्यायाधीश उत्तम आनंद ने छह महीने पहले ही ADJ के रूप में धनबाद कोर्ट में काम संभाला था. इससे पहले वह बोकारो के जिला एवं सत्र न्यायाधीश थे. जस्टिस आनंद  चर्चित रंजय हत्याकांड केस की सुनवाई कर रहे थे. रंजय सिंह धनबाद के बाहुबली नेता और झरिया के पूर्व विधायक संजीव सिंह के काफी करीबी माने जाते थे. जनवरी 2017 में उनकी हत्या कर दी गई थी. इसी मामले में जस्टिस उत्तम आनंद ने शूटर अभिनव सिंह और एक अन्य आरोपी की जमानत याचिका हाल ही में खारिज कर दी थी.


UP: घूस लेते हुए दरोगा को रंगे हाथों पकड़ा, बनियान-तौलिये में ही उठा ले गई पुलिस

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

जियो का प्रीपेड रिचार्ज भी हुआ महंगा, जानिए अब किस प्लान के कितने रुपए देने होंगे

जियो का प्रीपेड रिचार्ज भी हुआ महंगा, जानिए अब किस प्लान के कितने रुपए देने होंगे

इससे पहले एयरटेल और वोडफोन ने अपने प्रीपेड प्लान्स के दाम बढ़ाए थे

कोरोना वायरस के नए वेरिएंट को लेकर केंद्र ने राज्यों को लेटर लिख क्या निर्देश दिए हैं?

कोरोना वायरस के नए वेरिएंट को लेकर केंद्र ने राज्यों को लेटर लिख क्या निर्देश दिए हैं?

ओमिक्रॉन वेरिएंट को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने लेटर लिखा है.

राहुल द्रविड़ ने अय्यर से क्या कहा कि टीम इंडिया की मैच में वापसी हो गई?

राहुल द्रविड़ ने अय्यर से क्या कहा कि टीम इंडिया की मैच में वापसी हो गई?

अय्यर ने बताया अर्धशतक बनाकर लौटे तो साथियों ने कैसे स्वागत किया.

अय्यर-साहा की पारियों के बीच ये किस खिलाड़ी को ट्विटर पर खूब प्यार मिला?

अय्यर-साहा की पारियों के बीच ये किस खिलाड़ी को ट्विटर पर खूब प्यार मिला?

फैंस ने विराट को किसकी जगह खिलाने की वकालत की.

बेंगलुरु में शो रद्द हुआ तो मुनव्वर फारूकी ने कॉमेडी छोड़ने की बात कह दी!

बेंगलुरु में शो रद्द हुआ तो मुनव्वर फारूकी ने कॉमेडी छोड़ने की बात कह दी!

हिंदूवादी संगठनों के चलते मुनव्वर के पिछले 2 महीने में 12 शो रद्द हो चुके हैं.

विलियमसन के अलावा किन तीन खिलाड़ियों को रिटेन करेगा SRH?

विलियमसन के अलावा किन तीन खिलाड़ियों को रिटेन करेगा SRH?

इरफान पठान ने बताया, वॉर्नर होंगे या नहीं?

चोट की वजह से पूरा दिन नहीं उतरने वाला खिलाड़ी मजबूरी में आया और मैच बना गया

चोट की वजह से पूरा दिन नहीं उतरने वाला खिलाड़ी मजबूरी में आया और मैच बना गया

अय्यर के साथ ये खिलाड़ी ना होता तो मैच निकल गया था.

राजस्थान के सैकड़ों युवा लखनऊ में आकर क्यों प्रदर्शन कर रहे हैं?

राजस्थान के सैकड़ों युवा लखनऊ में आकर क्यों प्रदर्शन कर रहे हैं?

#UPTET के नाम से वायरल तस्वीर का असली सच ये है.

किन पांच टीमों में लगेगी श्रेयस अय्यर को कप्तान बनाने की होड़?

किन पांच टीमों में लगेगी श्रेयस अय्यर को कप्तान बनाने की होड़?

पूर्व भारतीय कप्तान ने सही बात बताई है.

धोनी के अलावा कौन से तीन खिलाड़ी CSK रिटेन करने वाली है?

धोनी के अलावा कौन से तीन खिलाड़ी CSK रिटेन करने वाली है?

विदेशी खिलाड़ी को लेकर बड़ी टेंशन है.