Submit your post

Follow Us

ताउ’ते ने 165 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गुजरात में तबाही मचाई, एक और तूफान आने की चेतावनी

ताउ’ते (Tauktae) नाम के चक्रवात ने पश्चिमी तटवर्ती राज्यों में भारी तबाही मचाई है. गुजरात और महाराष्ट्र में इस तूफान से सबसे ज्यादा तबाही हुई.  17 मई की रात चक्रवात 165 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गुजरा. इसने गुजरात के समुद्री तट से लेकर दीव और उना तक सबकुछ झकझोर कर रख दिया. पश्चिमी तट पर भी भारी नुकसान पहुंचाया. गुजरात में 17 और महाराष्ट्र में 18 लोगों की जानें जा चुकी हैं. इस बीच, नेवी ने समंदर के बीच ONGC के ऑयल रिग पर काम कर रहे 184 से ज्यादा लोगों को बचाया. लेकिन अभी ताउ’ते की दिक्कत खत्म नहीं हो पाई है कि अगले तूफान की वॉर्निंग आ गई है.

गुजरात का तटीय इलाका अंधेरे में डूबा

गुजरात में ताउ’ते का सबसे भीषण रूप दिखा. तूफान की रात गुजरने के बाद जब लोग घरों से बाहर आए तो तबाही का मंजर दिखा. भावनगर से लेकर जूनागढ़ के 200 किलोमीटर के तटीय इलाके में तूफान ने भारी नुकसान पहुंचाया है. घरों के आसपास हजारों पेड़ उखड़े पड़े थे. बिजली के खंबे गिर गए थे. अस्थायी छतें उड़ गई थीं. भारी बारिश और खंबे गिर जाने से हजारों गावों में बिजली की सप्लाई बाधित हो गई. भावनगर जिले में ही 5 मौत होने की खबरें हैं. इसके अलावा जिन 8 जिलों में बाकी मौतें हुईं, उनमें अमेरेली, गिर सोमनाथ और पंचमहाल जैसे जिले शामिल हैं.

वेरावल हार्बर के आसपास नाव लेकर समंदर में गए 8 मछुआरों को कोस्ट गार्ड ने बचाया. ये मछुआरे अपनी नाव के साथ तूफानी लहरों में बह गए थे.

 

ONGC के 80 कर्मचारी अब भी लापता

इस चक्रवाती तूफान की वजह से समंदर में काम करने वाले तमाम लोग फंस गए. कई जहाज तेज हवा में बह गए. मुंबई के पास ONGC के ऑयल रिग (तेल निकालने वाले कुंए के ऊपर बना प्लेटफॉर्म) पर काम करने वालों की जान पर भी बन आई. कोस्ट गार्ड और नेवी ने बड़ा ऑपरेशन चलाकर 637 लोगों को बचाया. ONGC के 80 लोग अब भी लापता हैं. मुंबई के पास ONGC के लिए काम करने वाले चार जहाज और एक मालवाहक जहाज भी तूफान में फंस गया था. इन पर सवार लोगों को नौसेना और कोस्टगार्ड ने बहादुरी से बचाया. राहत कार्य में लगे नेवी के जहाज ने आईएनएस कोची ने 19 मई दोपहर बाद तक पानी से 22 शवों और 188 जिंदा लोगों को तट पर पहुंचा दिया था. इसके बाद वह फिर से राहत कार्यों में जुटा गया था.

 

केंद्रशासित प्रदेश दीव में ताउ’ते का कहर

ताउ’ते के कहर से केंद्रशासित प्रदेश दीव भी नहीं बच सका. टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, दीव में होटलों को भारी नुकसान हुआ. खिड़कियां टूट गईं. दीव से कुछ किलोमीटर दूर उना तालुका तो पूरे राज्य से ही कट गया. गुजरात में गिर सोमनाथ के जिला कलेक्टर अजय प्रकाश ने बताया कि उना में संपर्क के सभी साधन ध्वस्त हो गए. अमरेली जिले में 18 कोविड हॉस्पिटल भी इस तूफान से प्रभावित हुए हैं. 600 गांव बिजली कटने से अंधेरे में डूब गए. ताउ’ते जब अहमदाबाद पहुंचा तो शहर को जलमग्न कर दिया. सिर्फ तीन घंटे के भीतर ही 4 इंच बारिश हो गई. यही हाल वडोचरा शहर का भी हुआ. ताउ’ते की वजह से फसलों को भी खासा नुकसान हुआ है. बताया जा रहा है कि सौराष्ट्र इलाके की 90 फीसदी फसल चौपट हो गई है.

आगे कहां पहुंचेगा ताउ’ते

केंद्रशासित प्रदेश दीव और गुजरात के सौराष्ट्र में तबाही मचाने के बाद ताउ’ते अब दक्षिणी राजस्थान की तरफ बढ़ रहा है. हालांकि अब ये कमजोर पड़ चुका है. मौसम विभाग ने बताया कि बचे-खुचे तूफान के असर और वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के संपर्क में आने से कई राज्यों में बारिश हो सकती है. इन राज्यों में राजस्थान, उत्तराखंड, हिमाचल, यूपी और दिल्ली शामिल हैं. कई इलाकों में बारिश हो भी रही है. ऐसा अगले दो दिन तक हो सकता है.

एक और तूफान की चेतावनी

ताउ’ते नाम के तूफान के गुजरने के बाद भले ही लोगों ने राहत की सांस ली हो, लेकिन मौसम विभाग के अनुसार अभी एक और तूफान कुछ इलाकों में आ सकता है. यह तूफान 27 मई के आसपास आ सकता है. मौसम विभाग को बंगाल की खाड़ी में एक तूफान बनने के सिस्टम का शुरुआती पता लगा है. भूविज्ञान मंत्रालय के सेक्रेटरी माधवन राजीव ने टाइम्स ऑफ इंडिया अखबार को बताया-

कम दवाब के एक सिस्टम का बंगाल की खाड़ी में शुरुआती पता चला है. 1-2 दिनों में स्थिति और साफ होगी. ये तूफान 23 मई तक पूरी तरह से तैयार हो सकता है. इसके बाद यह ओडिशा और वेस्ट बंगाल की तरफ बढ़ सकता है. यह तटों को 27 मई तक छू सकता है. हालांकि राहत की बात ये है कि इस तूफान की ताकत ताउ’ते जितनी नहीं होगी.

ये पिछले एक महीने में भारत में दूसरा तूफान होगा. फिलहाल ताउ’ते तूफान का प्रकोप गुजरात, महाराष्ट्र, दीव झेल चुके हैं. अब ये तूफान हल्का पड़ते हुए राजस्थान की तरफ बढ़ रहा है. ताउ’ते की वजह से मुंबई, कोंकण, गुजरात के कुछ हिस्सों और कर्नाटक, केरल में भी मूसलाधार बारिश हुई है.


वीडियो – चक्रवाती तूफान ‘Tauktae’ से केरल के बाद अब गोवा में तबाही, आंधी-बारिश से भारी नुकसान

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कपड़े महंगे होंगे या नहीं? जानिए सरकार ने क्या फैसला लिया है

कपड़े महंगे होंगे या नहीं? जानिए सरकार ने क्या फैसला लिया है

GST काउंसिल ने टेक्सटाइल पर टैक्स 12% करने का फैसला टाला

14 साल बाद इरफ़ान की वो फ़िल्म आ रही है, जिसकी शूटिंग के दौरान वो मरते-मरते बचे थे

14 साल बाद इरफ़ान की वो फ़िल्म आ रही है, जिसकी शूटिंग के दौरान वो मरते-मरते बचे थे

इरफान की आखिरी फिल्म आ रही है.

लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट में किसका हाथ? खुफिया एजेंसी और CM चन्नी कर रहे अलग-अलग बात

लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट में किसका हाथ? खुफिया एजेंसी और CM चन्नी कर रहे अलग-अलग बात

ब्लास्ट में हाई क्वालिटी विस्फोटक का इस्तेमाल होने की बात सामने आई है.

'स्पाइडरमैन: नो वे होम' ने पहले दिन करोड़ों की कमाई का वो जाला बुना कि बड़े-बड़े रिकॉर्ड फंस गए

'स्पाइडरमैन: नो वे होम' ने पहले दिन करोड़ों की कमाई का वो जाला बुना कि बड़े-बड़े रिकॉर्ड फंस गए

एक दिन में ही कई रिकॉर्ड टूट गए, अभी तो वीकेंड पड़ा है.

'स्पाइडर मैन : नो वे होम' का ऐसा भौकाल है कि एडवांस खिड़की पर रिकॉर्ड टूट गए

'स्पाइडर मैन : नो वे होम' का ऐसा भौकाल है कि एडवांस खिड़की पर रिकॉर्ड टूट गए

ब्लैक में टिकट खरीदने का ज़माना लौट आया है बॉस!

आतंकी हमले में जम्मू-कश्मीर के 14 पुलिसकर्मी घायल, 2 शहीद, PMO ने डिटेल्स मांगी

आतंकी हमले में जम्मू-कश्मीर के 14 पुलिसकर्मी घायल, 2 शहीद, PMO ने डिटेल्स मांगी

हमला श्रीनगर से जुड़े इलाके में हुआ है.

जानिए CDS बिपिन रावत के साथ हेलिकॉप्टर में कौन-कौन सवार था?

जानिए CDS बिपिन रावत के साथ हेलिकॉप्टर में कौन-कौन सवार था?

क्रैश हुए हेलिकॉप्टर में कुल 14 लोग मौजूद थे

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

बेंगलुरु में 46 साल के एक डॉक्टर कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं.

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?