Submit your post

Follow Us

बीजेपी ने कोरोना वायरस से बचाने के लिए जो 'मोदी मास्क' बांटे हैं उस पर विवाद क्यों हो रहा है?

प्रचार. बड़ी बला है. दूरदर्शन पर रामायण देखते हुए बीच में आता था प्रचार. उसे कहते हैं Advertisment. या ऐड. प्रचार के लिए दुनिया भर में किसिम-किसिम के रास्ते अपनाए जाते हैं. लेकिन पश्चिम बंगाल में बीजेपी ने जो रास्ता अपनाया उसके लिए ट्रोल हो रही है. कोरोना के डर को पार्टी प्रचार में कैसे बदलें ये सीखना हो तो बंगाल बीजेपी से सीख सकते हैं. बंगाल बीजेपी ने ऐसे मास्क बांटे हैं जिसमें लिखा हुआ है ‘सेव फ्रॉम कोरोना वायरस इनफेक्शन मोदी जी’. अब बंगाल बीजेपी के इस मास्क पर लोग सवाल उठा रहे हैं.

# क्या है पूरा मामला

भारत समेत दुनिया के अधिकांश देश कोरोना वायरस की चपेट में हैं. हज़ारों लोग मर चुके हैं. लगभग एक लाख लोग बीमार हैं. इस बीच दुनिया के डर का लोग फ़ायदा भी उठा रहे हैं. बाज़ार से मास्क ग़ायब हैं. जो मिल रहे हैं वो ब्लैक मार्केट के दाम से भी तेज़ हैं. 20 रुपए का पिदिल्ली सा मास्क अब आराम से 250 रुपए का मिल रहा है. मार्केट से सैनेटाइज़र साफ़ हो चुका है. ऐसे में बंगाल बीजेपी ने प्रचार के लिए मास्क बांटना शुरू किया. मास्क बांटने तक तो ठीक था. जाड़ा पड़ता है तो दया दुआ के लिए लोग कम्बल बांटते हैं. लेकिन बंगाल बीजेपी ने जो मास्क बांटे उनमें मोदी जी के लिए एक मैसेज लिखा था.

लिखा था ‘मोदी जी कोरोना वायरस इन्फेक्शन से बचाइए’.

कोलकाता में भारतीय जनता पार्टी की राज्य इकाई के स्थानीय नेताओं ने लोगों में ऐसे मास्क बांटे हैं. इस पर बंगाल की राजनीति में कहासुनी होने लगी. आरोप लगे कि कोरोना बीमारी का फ़ायदा उठा रही है बीजेपी.

# क्वालिटी पर भी उठे सवाल

बंगाल बीजेपी ने जो मास्क बांटे उसे लेकर एक और सवाल उठ रहा है. कहा जा रहा है कि जो मास्क मोदी के नाम पर बांटे गए वो कोरोना वायरस रोकने में पूरी तरह नाकाम हैं. जानकार बताते हैं कि कोरोना वायरस रोकने के लिए जो मास्क असरदार हैं उनकी क्वालिटी कम से कम N-95 मास्क के बराबर होनी ही चाहिए. मतलब मास्क में कम से कम 3 परतें होनी चाहिए.


वीडियो देखें:

कोरोनावायरस के दौरान गाय का पेशाब और गोबर मरीज़ को देने पर क्या होगा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मज़दूरों को पैदल घर जाता देख दो एयरलाइंस ने कहा- जहाज़ खड़े हैं

सरकार से अनुमति मांगी है ताकि मज़दूरों को उनके घर के आसपास छोड़ा जा सके.

UK के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन भी कोरोना वायरस के लपेटे में आ गए हैं

UK में कोरोना के 11 हज़ार से ज्यादा मामले आ चुके हैं.

कोरोना से तो निपट लेंगे, लेकिन जो बड़ी आफत आई है, वो तो पूरा साल ले जाएगी!

मूडीज़ ने बताया है कि पूरे साल कितनी ग्रोथ रेट रह सकती है.

कोरोना वायरस लॉकडाउन के बीच RBI गवर्नर ने राहत की ख़बर दी है

क्या होगा आने वाले दिनों में, इसकी जानकारी दी.

नीतीश कुमार ने कोरोना का 'फेसबुक पोस्ट डिलीट' वाला इलाज खोजा

खबर तो ये तक कि कोरोना के लक्षण वाले 83 डॉक्टर अब भी इलाज कर रहे!

पूरा देश लॉकडाउन है और हरियाणा के इस कॉलेज में लेक्चर पर लेक्चर हो रहे हैं

कॉलेज वाले कह रहे सरकार ने कोई ऑर्डर नहीं दिया!

सरकार ने दिया कोरोना पर राहत पैकेज, 80 करोड़ को मुफ्त अनाज और बहुत कुछ

वित्त मंत्री ने कहा, हर व्यक्ति के हाथ में अन्न और धन हमारी पहली प्राथमिकता.

कोरोना के बीच सरकार ने गठिया वाली दवा के एक्सपोर्ट पर रोक क्यों लगा दी?

इस दवा का कोरोना के इलाज में क्या रोल है?

रात को लॉकडाउन के कायदे बताने के बाद सुबह हुजूम के बीच कहां निकल गए सीएम योगी?

सीएम ने लोगों से कहा था, 'घर पर ही रहें, बाहर न निकलें.'

21 दिन के लॉकडाउन में आपको कौन-कौन सी छूट मिलेगी, यहां जान लीजिए

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए पूरा देश 15 अप्रैल तक लॉकडाउन रहेगा.