Submit your post

Follow Us

बैंक के लॉकर में 37 लाख के चूरन वाले नोट मिले, सब पर 'चिल्ड्रन बैंक ऑफ इंडिया' लिखा था

गुजरात के सूरत में वराछा नाम का एक कस्बा है. यहां के खांड बाजार में बैंक ऑफ बड़ौदा (BoB) की एक ब्रांच है. इस ब्रांच के लॉकर से हाल ही में 37 लाख के चूरन वाले नोट निकले, जिसके बाद छानबीन हुई. और कैशियर दीपेश पटेल के खिलाफ कड़ा एक्शन लिया गया.

क्या है पूरा मामला?

घटना 21 अक्टूबर की है. दैनिक भास्कर की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस दिन बैंक के चीफ मैनेजर प्रमोद कुमार निरिक्षण के लिए पहुंचे. सारी जरूरी फाइल्स और कैश की जांच करने के बाद ये लॉकर सेक्शन में गए. उनके साथ बैंक के एक सीनियर कर्मचारी रमन मेहता भी थे.

दोनों जब लॉकर में रखे कैश की जांच कर रहे थे, तो देखा कि नोट की गड्डियों में कुछ नकली नोट रखे हुए हैं. इन नोटों पर ‘चिल्ड्रन बैंक ऑफ इंडिया’ लिखा हुआ था. यानी ये बच्चों के खेलने के नोट थे. ठीक से चेक किया गया, तो दिखा कि 36.52 लाख रुपए के नकली नोट रखे हुए थे.

मैनेजर ने कैशियर दीपेश पटेल को बुलाया. पूछताछ की, तो उसने कहा कि उसे कुछ नहीं पता है. दूसरे दिन कड़ाई से पूछने के बाद बताया कि उसने ही इन नोटों की अदला-बदली की थी. उसने बैंक के जॉइंट कस्टोडियन मधुसूदन याधानी के साथ मिलकर ऐसा किया था.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, दीपेश और मधुसूदन करीब तीन महीनों से नोटों की अदला-बदली कर रहे थे. रोज़ थोड़े-थोड़े नोट बदल दिए जाते थे. इन पैसों से दीपेश ने तो हाल ही में एक नया फ्लैट भी खरीदा था. दोनों के खिलाफ मामला दर्ज हो चुका है और बैंक ने दोनों को निलंबित कर दिया है.


 वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गैंगस्टर विकास दुबे एनकाउंटर में मारा गया

एक दिन पहले ही उज्जैन के महाकाल से पकड़ा गया था विकास दुबे.

कानपुर कांड : आरोपी की गिरफ़्तारी में सच कौन बोल रहा? यूपी पुलिस या आरोपी के घरवाले?

वीडियो में क्या कहा कानपुर कांड के आरोपी ने?

विकास दुबे को बचाने के लिए अपने ही साथियों को धोखा देने वाले दो पुलिसवाले धर लिए गए हैं

घटना में आठ पुलिसवाले शहीद हुए थे.

PM Cares के पैसों से बने वेंटिलेटर पर सवाल उठे तो बनाने वाले ने राहुल गांधी को घेर लिया

कहा कि राहुल गांधी के सामने डेमो दिखा सकता हूं.

क्या गलवान में पीछे हटकर चीन 1962 वाली चाल दोहरा रहा है?

58 साल पहले भी ऐसा ही हुआ था. पहले चीन गलवान में पीछे हटा और कुछ दिन बाद भारत पर हमला कर दिया.

सरकार ने वो आदेश दिया है कि कंपनियां मास्क और सैनिटाइज़र के दाम में मनचाहा बदलाव कर सकती हैं

राज्यों ने शिकायत नहीं की, तो सरकार ने आदेश निकाल दिया

बुरी खबर! 'मेरे जीवनसाथी', 'काला सोना' जैसी फ़िल्में बनाने वाले प्रड्यूसर हरीश शाह नहीं रहे

कैंसर से जारी जंग आखिरकार हार गए.

दिल्ली की जेल में सजा काट रहे सिख दंगे के दोषी नेता की कोरोना से मौत हो गई

विधायक रह चुके इस नेता की कोरोना रिपोर्ट 26 जून को पॉज़िटिव आई थी.

श्रीलंका का ये क्रिकेटर हत्या के आरोप में गिरफ्तार

44 टेस्ट, 76 वनडे और 26 टी20 खेल चुका है.

लेह में दिए अपने भाषण में पीएम मोदी ने चीन का नाम लिए बिना क्या-क्या कहा?

जवानों पर, बॉर्डर के विकास पर, दुनिया की सोच पर बहुत कुछ बोला है.