Submit your post

Follow Us

मैं तोतों से नहीं डरता पागल, कायर मोदी: AK

सीबीआई आज सुबह दिल्ली सचिवालय पहुंच गई. चाय बिस्कुट खाने नहीं. वही छापे मारने वाला ‘रुटीन’. बोली-चीफ सेक्रेटरी राजेंद्र कुमार पर भ्रष्टाचार का आरोप है. पर सनक गए सीएम केजरीवाल. बोले- ये मोदी सरकार राजेंद्र के बहाने मेरे दफ्तर पर छापा मार रही है. केंद्र सरकार और सीबीआई बोल रही है, हम तो बस राजेंद्र कुमार पर छापे की खेल रहे थे. केजरीवाल से हमारा कोई लेना देना नहीं.

पर जैसे हर मामला संसद पहुंच जाता है. तो ये वाला भी पहुंचा. हंगामा हुआ. अडजर्न हुआ. दोनों तरफ के माइकमैन एक दूसरे पर पिल पड़े. AAP वाले लोकतंत्र का काला दिन टाइप बात कर रहे हैं. सरकार वाले मोदी फोबिया बता रहे हैं. पर सीबीआई भी कुछ बता रही है. कह रही है राजेंद्र कुमार बीते पांच साल जहां भी गए. प्राइवेट कंपनियों का फायदा पहुंचाते रहे. ‘इत्ती’ सी बात पे केस भी दर्ज कर लिया. बताओ, अन्ना हजारे की ईमानदार लोकशाही नाम की कोई चीज ही याद नहीं रहती किसी को. हुहह.

अब हम तो हैं आम आदमी. हम सीबीआई से डरते हैं. पर जो सुप्रीम कोर्ट है, वो कह चुका है कि सीबीआई पिंजड़े का तोता है. और इसी तोते से नहीं डरने की बात करते हैं केजरीवाल. अरे हां, लगता है केजरीवाल के फोन का वाइफाई फ्री था तो उनने भी कई ट्वीट दाग दिए.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

मां ने बताया, हर साल महाकाल मंदिर जाता था विकास दुबे, ससुराल भी मध्य प्रदेश में है

सरकार से क्या कार्रवाई चाहती हैं विकास की मां?

कश्मीर में BJP नेता की हत्या के बाद पुलिस ने अपने ही 10 साथियों को हिरासत में लिया

हमले के वक्त सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी साथ मौजूद नहीं थे.

विकास दुबे की गिरफ्तारी तो हो गई, अब आगे क्या होगा? UP ADG ने बताया

खुद गिरफ्तार नहीं कर पाने के मलाल पर क्या जवाब दिया?

'सूरमा भोपाली' के जाने के बाद बॉलीवुड ने उन्हें किस तरह विदाई दी?

क्या कहा अजय देवगन, जेनेलिया, मनोज बाजपेयी और अनिल कपूर ने?

महाकाल मंदिर के कर्मचारियों ने बताया, वो चीख रहा था- मैं विकास दुबे हूं, कानपुर वाला

मंदिर के उस कर्मचारी की बात सुनिए, जिसने विकास की गिरफ्तारी देखी.

कैसे पकड़ा गया विकास दुबे? उज्जैन के कलेक्टर ने पूरी बात बताई है

सबसे पहले एक दुकानदार ने विकास को पहचाना.

विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद शिवराज ने अपनी पुलिस के लिए क्या कहा?

कानपुर की वारदात के छह दिन बाद गिरफ्तारी हुई.

पुलिस को छह दिन छकाने के बाद उज्जैन से पकड़ा गया गैंगस्टर विकास दुबे

3 जुलाई से फरार था विकास दुबे.

गैंगस्टर विकास दुबे के दो और साथी पुलिस एनकाउंटर में मारे गए हैं

इनमें से एक को फरीदाबाद के होटल से गिरफ्तार किया गया था.

एक और बुरी खबर! 'शोले' के सूरमा भोपाली नहीं रहे

81 की उम्र में अभिनेता जगदीप का निधन.