Submit your post

Follow Us

CAA-NRC: घटिया और हिंसक बयान देने में पप्पू यादव दे रहे हैं बीजेपी को कड़ी चुनौती

देश में कुछ जगहों पर नागरिकता संशोधन कानून (CAA) का विरोध हो रहा है. दूसरी ओर कुछ लोग इसके समर्थन में रैलियां निकाल रहे हैं. अलीगढ़ के नुमाइश ग्राउंड में 12 जनवरी को एक रैली हुई. इसमें एक नेता ने कहा कि जो भी पीएम मोदी और सीएम योगी के खिलाफ नारे लगाएगा, उसे वो जिंदा दफन कर देंगे. इनका नाम है- रघुराज सिंह. यूपी सरकार में श्रम मंत्रालय में राज्यमंत्री हैं.

दरअसल, अलीगढ़ में यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या एक जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे. इसी दौरान बीजेपी नेता रघुराज सिंह ने भी लोगों को संबोधित किया. कहा-

ये मुट्ठीभर लोग, केवल 1 प्रतिशत लोग, जो अपराधी किस्म के, बेईमान किस्म के AMU में आए हुए हैं. हमारा पैसा, देश का पैसा, टैक्स का पैसा पैसा बर्बाद कर रहे हैं. तुम लोग मुर्दाबाद करोगे, तुम लोगों को मैं जिंदा दफन कर दूंगा.

आज CAA की जरूरत इसीलिए पड़ी है, क्योंकि जवाहरलाल एक बीज बो गया. लेकिन हम डरने वाले नहीं है, हम समझौता करने वाले नहीं, देश को हम चलाएंगे. सुनने की क्षमता रखो, नहीं तो जेल भेज देंगे. किसी को छोड़ेंगे नहीं.

हिंदुस्तान में रहने का सबको अधिकार है, पर ये धर्मशाला नहीं है. कोई भी आएगा, यहां रहेगा, तो हम यहां रहने नहीं देंगे. NRC लागू होगा, तो आपकी जन्म-कुंडली खुल जाएगी.

इस बयान के बाद रघुराज सिंह का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. लोग बीजेपी पर हिंसा बढ़ाने का आरोप लगा रहे हैं.

दिलीप घोष भी पीछे नहीं हैं 

खैर, एक और बीजेपी नेता हैं, जिन्होंने विवादित बयान दिया और अब चर्चा में बने हुए हैं. नेता का नाम दिलीप घोष है. बंगाल में बीजेपी अध्यक्ष हैं. इन्होंने भी 12 जनवरी को पब्लिक प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाने वाले को गोली मारने की बात रही. दरअसल, वे वहां के नाडिया जिले में एक रैली संबोधित कर रहे थे. ANI न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, घोष ने कहा-

उन्हें लगता है कि वो पब्लिक प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचा रहे हैं. ये उनके पिता की है? ये प्रॉपर्टी टैक्सपेयर की है. आप यहां आएंगे. हमारा खाना खाएंगे, यहां रहेंगे और पब्लिक प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाएंगे? क्या यह आपकी ज़मींदारी है? तुम पर लाठा चलाएंगे और गोली मारकर तुम्हें जेल में डाल देंगे.

दिलीप घोष ने ममता बनर्जी पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी की पुलिस ने उन लोगों के खिलाफ एक्शन नहीं लिया. जिन्होंने पब्लिक प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाया, क्योंकि वो उनके वोटर हैं. यूपी, असम और कर्नाटक में सरकार ने तो ऐसे लोगों को कुत्तों की तरह मारा है.

उधर, इसी बयान पर केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने ट्वीट कर लिखा-

दिलीप दा ने जो भी कहा है, वो बहुत ही गैर जिम्मेदाराना है. उनके बयान से पार्टी का कुछ लेना-देना नहीं है. यूपी, असम और कर्नाटक सरकार ने कभी भी लोगों को गोली मारने का सहारा नहीं लिया, बेशक वजह कुछ भी रही हो. 

एक तरह से बाबलु सुप्रियो ने दिलीप घोष के बयान से पल्ला झाड़ लिया.

उधर, जन अधिकार पार्टी के प्रमुख पप्पू यादव ने सीएम योगी की ‘हड्डी’ तोड़ने की बात कह दी है. दरअसल, पप्पू यादव NRC-CAA को लेकर एक जनसभा में बोल रहे थे. उन्होंने इस दौरान योगी को धमकी दे दी. राजेश रंजन उर्फ पप्पू ने कहा-

योगी उत्तर प्रदेश में हैं, और हम बिहार में. यही गलती हो गई. अगर हम दोनों एक ही राज्य में होते, तो मैं इनके सीने पर चढ़कर 32 हड्डियां तोड़ देते. वो कहते हैं कि बदला लेंगे, क्या इन्हीं को बदला लेना आता है.

पप्पू यादव ने लोगों से कहा कि अगर सरकार कागज़ मांगे, तो बोल देना बह गया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में रहते हैं.


वीडियो देखें : जबलपुर में अमित शाह ने कहा, JNU में कुछ लड़कों ने देश विरोधी नारे लगाए, इनकी जगह जेल है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अब केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने लगवाया नारा, "देश के गद्दारों को, गोली मारो *लों को"

क्या केन्द्रीय मंत्री ऐसे बयान दे सकता है?

माओवादियों ने डराया तो गांववालों ने पत्थर और तीर चलाकर माओवादी को ही मार डाला

और बदले में जलाए गए गांववालों के घर

बंगले की दीवार लांघकर पी. चिदम्बरम को गिरफ्तार किया, अब राष्ट्रपति मेडल मिला

CBI के 28 अधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस मेडल दिया गया.

झारखंड के लोहरदगा में मार्च निकल रहा था, जबरदस्त बवाल हुआ, इसका CAA कनेक्शन भी है

एक महीने में दूसरी बार झारखंड में ऐसा बवाल हुआ है.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय लोगों को पोहा खाते देख उनकी नागरिकता जान लेते हैं!

विजयवर्गीय ने कहा- देश में अवैध रूप से रह रहे लोग सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

CAA-NRC, अयोध्या और जम्मू-कश्मीर पर नेशन का मूड क्या है?

आज लोकसभा चुनाव हुए तो क्या होगा मोदी सरकार का हाल?

JNU हिंसा केस में दिल्ली पुलिस की बड़ी गड़बड़ी सामने आई है

RTI से सामने आई ये बात.

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

असम में NRC पर अब अलग से बात होगी.

दिल्ली चुनाव में BJP से गठबंधन पर JDU प्रवक्ता ने CM नीतीश को पुरानी बातें याद दिला दीं

चिट्ठी लिखी, जो अब वायरल हो रही है.

CAA और कश्मीर पर बोलने वाले मलयेशियाई PM अब खुद को छोटा क्यों बता रहे हैं?

हाल में भारत और मलयेशिया के बीच रिश्तों में खटास बढ़ती गई है.