Submit your post

Follow Us

अरबपति ने शतरंज के खेल में विश्वनाथन आनंद को कैसे हराया कि बाद में माफ़ी मांगनी पड़ी?

एक चेस का मैच. एक तरफ दुनिया के महान खिलाड़ी ग्रैंडमास्टर विश्वनाथन आनंद तो दूसरी तरफ भारत के अरबपति बिजनेसमैन निखिल कामथ. मैच में निखिल ने विश्वनाथन आनंद को हरा दिया. लोग हैरान रह गए. बाद में पता चला कि निखिल कामथ ने इस मैच को बेइमानी से जीता था. उन्होंने बेइमानी के लिए माफी मांगी लेकिन तब तक देरी हो चुकी थी. जिस ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर यह मैच हुआ था उसने निखिल को सस्पेंड कर दिया. सोशल मीडिया पर निखिल को काफी लताड़ पड़ी. आखिर क्या है पूरा मामला, आइए जानते हैं.

चैरिटी इवेंट में हुआ ‘खेल’

अक्षय पात्र फाउंडेशन नाम की एनजीओ ने कोरोना पीड़ित परिवारों की मदद के लिए 13 जून को चैरिटी इवेंट के तौर पर चेस मैच का आयोजन कराया. इवेंट का नाम था ‘चेकमेट कोविड’. यह इवेंट चेस डॉट कॉम के सहयोग से कराया गया. बता दें कि चेस डॉट कॉम एक ग्लोबल चेस कम्यूनिटी है. इस पर जाकर कोई भी ऑनलाइन चेस मैच खेल सकता है. इसके अलावा यह वेबसाइट बड़े चेस इवेंट्स भी कराती है.

ऑनलाइन चैरिटी इवेंट का फॉरमेट कुछ ऐसा था कि एक तरफ थे कुछ सिलेब्रिटी तो दूसरी तरफ ग्रैंड मास्टर विश्वनाथन आनंद. आमंत्रित सिलेब्रिटी इस ऑनलाइन चेस मैच के लिए डोनेशन देने के बाद आनंद के साथ चेस खेल रहे थे. इस इवेंट में क्रिकेटर युजवेंद्र चहल और एक्टर आमिर खान जैसे हस्तियों ने भी हिस्सा लिया. इवेंट में ऑनलाइन स्टॉक ब्रोकर कंपनी जे़रोधा के करोड़पति को-फाउंडर निखिल कामथ भी शामिल हुए. निखिल ने ऑनलाइन चेस मैच में विश्वनाथन आनंद को हराकर सबको चौंका दिया. इधर जब चेस डॉट कॉम ने मैच को ऑनलाइन टूल्स के जरिए एनलाइज़ किया तो पाया कि निखिल ने मैच खेलते वक्त दूसरे तरीकों से मदद ली थी. इसे नियमानुसार बेइमानी माना गया. चेस डॉट कॉम ने फौरन निखिल कामत के अकाउंट को प्लेटफॉर्म से सस्पेंड कर दिया.

निखिल ने मांगी माफी

इस घटना के बाद निखिल कामत ने ट्विटर पर अपने किए की माफी मांगी. उन्होंने ट्विटर पर लिखा

“ऐसा सोचना ही हास्यास्पद है कि कुछ लोगों को लगता है कि मैंने विशी सर (विश्वनाथन आनंद) को चेस गेम में हरा दिया. यह वैसा ही है जैसे कोई सोकर उठे और 100 मीटर की रेस में उसेन बोल्ट को हरा दे. मैंने गेम के दौरान दूसरे लोगों और कंप्यूटर की मदद ली. यह चैरिटी मैच मेरे लिए एक मजेदार अनुभव था. बुरा ये हुआ कि कंफ्यूजन के चलते यह विवाद हो गया. मैं इसके लिए माफी मांगता हूं.”

निखिल कामत को जवाब देते हुए विश्वनाथान आनंद ने ट्विटर पर लिखा

” कल (13 जून) को पैसे इकट्टठा करने के लिए एक सिलेब्रिटी मैच था. खेल के नियम-कायदे को बनाए रखना एक मजेदार अनुभव रहा. मैंने सिर्फ चेस बोर्ड पर मौजूद पोजिशन के हिसाब से खेल खेला और ऐसी ही उम्मीद दूसरों से की.”

 

ट्विटर पर लोगों ने निखिल को लताड़ा

निखिल कामत की इस हरकत ने चैरिटी से ज्यादा ध्यान मैच में हुई बेइमानी की तरफ खींचा. कई लोगों ने उन्हें बहुत लताड़ा.

प्रसाद करवा ने लिखा

प्रतिष्ठा बनाने में बरसों लगते हैं लेकिन यह कुछ पल में ही बर्बाद हो जाती है. निखिल ने जो किया उससे वह बर्बाद हो गई.

सोहिनी ने लिखा

शर्मनाक, किसी भी तरीके से जीतने की मानसिकता हमें एक दिन बहुत नीचे ले जाएगी.

 

चेस फेडरेशन का क्या कहना है?

इस मामले पर देश में चेस की सबसे बड़ी संस्था ऑल इंडिया चेस फेडरेशन ने भी प्रतिक्रिया दी है. फेडरेशन के सेक्रेटरी भारत सिंह चौहान ने समाचार एजेंसी पीटीआई से बात करते हुए इसे बहुत दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. उन्होंने कहा कि

यह दुर्भाग्यपूर्ण है. निखिल कामत एक बड़े सिलेब्रिटी हैं. उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए था. यह बुरा है. यह सब लोगों की मदद और अच्छे काम के लिए किया जा रहा था, ऐसी चीजें नहीं होनी चाहिए.

जब उनसे कामथ पर एक्शन के बारे में पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया

वह एक रेग्युलर प्लेयर नहीं हैं. न ही वह हमारे मेंबर हैं ऐसे में उन पर एक्शन लेने का हमें कोई अधिकार नहीं है.

इस चैरिटी मैच से कुल 10 लाख रुपए जमा किए गए. जिससे उन परिवारों की मदद की जाएगी जिनके परिजनों की कोरोना की वजह से मौत हो गई है.


वीडियो – तारीख़: जब पहली बार एक वर्ल्ड चैंपियन और कंप्यूटर के बीच चेस का मुकाबला हुआ

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सैन्य ऑपरेशन से जुड़े 25 साल से ज्यादा पुराने रिकॉर्ड सार्वजनिक होंगे

सेना के इतिहास से जुड़ी जानकारियां सार्वजनिक करने की पॉलिसी को मंजूरी

पंजाब चुनाव: अकाली दल और बसपा गठबंधन का ऐलान, कितनी सीटों पर लड़ेगी मायावती की पार्टी?

पंजाब के अलावा बाकी चुनाव भी साथ लड़ने की घोषणा.

TMC में घर वापसी करने वाले मुकुल रॉय ने 4 साल बाद बीजेपी छोड़ने का फैसला क्यों लिया?

मुकुल रॉय को बराबर में बिठाकर ममता बनर्जी किन गद्दारों पर भड़कीं?

लक्षद्वीप: किस एक बयान के बाद फिल्म निर्माता आयशा सुल्ताना पर राजद्रोह का केस हो गया?

पहले TV डिबेट में बोला, फिर फेसबुक पर पोस्ट लिखा.

कोरोना वैक्सीन लेने के बाद शरीर से सिक्के-चम्मच चिपकने के दावों में कितना सच?

क्या शरीर में वाकई चुंबकीय शक्ति पैदा हो जाती है?

पावर बैंक ऐप, जिसने 15 दिन में पैसे डबल करने का झांसा दे 4 महीने में 250 करोड़ उड़ा लिए

पैसा शेल कंपनियों में लगाते, फिर क्रिप्टोकरंसी बनाकर विदेश भेज देते थे.

भूटान के बाद अब नेपाल ने पतंजलि की कोरोनिल दवा बांटने पर रोक क्यों लगा दी?

नेपाल के अधिकारियों ने IMA के उस लेटर का भी हवाला दिया है, जिसमें कोरोनिल को लेकर रामदेव को चुनौती दी गई थी.

दक्षिण में बीजेपी की मुश्किलें बढ़ीं, कर्नाटक और केरल में टॉप नेता सवालों में क्यों हैं?

मामला इतना बढ़ गया कि बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व को दखल देना पड़ा है.

आसिफ को भीड़ ने पीटकर मार डाला तो आरोपियों की रिहाई के लिए महापंचायतें क्यों हो रही हैं?

करणी सेना के नेता धमकी दे रहे- जो भी हमें रोकेंगे, उन्हें ठोक देंगे.

तमिल नेता ने अमेज़न से कहा 'फैमिली मैन 2' को बंद करो, वरना...

अमेज़न प्राइम वीडियो की हेड को लेटर लिख दी है खुली चेतावनी.