Submit your post

Follow Us

शादी के बाद पंडित जी ने कथा सुनाई थी, जब उनकी कोरोना रिपोर्ट आई, तो खलबली मच गई!

भोपाल में कोरोना फैलने के दो ऐसे मामले सामने आए हैं, जहां थोड़ी-सी लापरवाही से संक्रमण की चपेट में कई लोग आ गए. पहला मामला है शादी के बाद घर में कथा करवाने का. दूसरा मामला एक मृत्युभोज से जुड़ा हुआ है.

पंडित जी को कोरोना  

‘दैनिक भास्कर’ की रिपोर्ट के मुताबिक, पहला केस है गोविंदपुरा की बिजली कॉलोनी का. विवाह के बाद घर में कथा (पूजा) करवाना यहां के एक परिवार को भारी पड़ गया. हुआ ये कि एक परिवार में लड़के की शादी हुई. शादी समारोह के लिए प्रशासन से अनुमति ली गई थी. लेकिन भीड़ जमा हो गई. खैर, शादी होने के बाद इन लोगों ने घर में कथा करवाने का विचार किया. लड़की के घर से भी कुछ लोगों को न्योता दिया गया. सोचा कि काहे का कोरोना, सब जान-पहचान के ही लोग तो हैं. पुजारी जी भी जान-पहचान वाले ही बुलाए गए थे.

कथा पूरी हुई. अगले दिन पुजारी जी को कोरोना के लक्षण दिखने लगे. जांच करवाई गई, तो वे कोरोना पॉज़िटिव पाए गए. यह सुनकर इस परिवार के 12 लोगों के सैंपल लिए गए. दूल्हे को और उनके बड़े भाई को कोरोना संक्रमित पाया गया. दोनों को क्वारंटीन कर दिया गया है. दुल्हन को मायके भेज दिया गया. उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई है.

मृत्युभोज में जाना भारी पड़ गया

दूसरा मामला है बैरागढ़ इलाके का. यहां एक परिवार की बहू किसी परिचित के यहां मृत्यु भोज में गईं. दो-तीन दिन बाद उनमें कोरोना के लक्षण दिखने लगे. जब स्थिति गंभीर होती दिखी, तो उनकी जांच की गई. उनको कोरोना इंफेक्शन हो चुका था. आशंका हुई कि यह घर के दूसरे लोगों में न फैल गया हो, इसलिए परिवार के बाकी सदस्यों की भी जांच हुई. उनमें से चार को कोरोना पॉज़िटिव पाया गया. इनमें महिला के पति और ससुर शामिल हैं. सभी लोगों को क्वारंटीन में रखा गया है.


वीडियो देखें: ये सोशल बबल क्या है, जिसकी मदद से न्यूज़ीलैंड ने कोरोना को हरा दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ज्योतिरादित्य सिंधिया की दूसरी कोरोना जांच रिपोर्ट में क्या निकला?

पिछले दिनों सिंधिया और उनकी मां को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था.

WHO ने कोरोना पर राहत देने वाली बात की तो दुनियाभर के वैज्ञानिकों ने कहा, “अरी मोरी मईया!”

पलटकर WHO से ही सबूत मांग रहे हैं लोग.

ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनकी मां को हुआ कोरोना इंफेक्शन, दिल्ली के अस्पताल में भर्ती

बीते कुछ दिनों से दोनों की तबीयत खराब थी.

बिहार: अमित शाह ने वर्चुअल रैली में तेजस्वी को घेरा, कहा-लालटेन राज से एलईडी युग में आ गए

तेजस्वी यादव ने रैली पर 144 करोड़ खर्च करने का आरोप लगाया.

गर्भवती ने 13 घंटे तक आठ अस्पतालों के चक्कर लगाए, किसी ने भर्ती नहीं किया, मौत हो गई

महिला की मौत के बाद अब जिला प्रशासन जांच की बात कर रहा है.

दिल्ली के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में अब सिर्फ दिल्ली वालों का इलाज होगा

दिल्ली के बॉर्डर खोले जाने पर भी हुआ फैसला.

लद्दाख में तनाव: भारत-चीन सेना के कमांडरों की मीटिंग में क्या हुआ, विदेश मंत्रालय ने बताया

6 जून को दोनों देशों के सेना के कमांडरों की मीटिंग करीब 3 घंटे तक चली थी.

पहले से फंसी 69000 शिक्षक भर्ती में अब पता चला, रुमाल से हो रही थी नकल!

शुरू से विवादों में रही 69 हजार शिक्षक भर्ती में जुड़ा एक और विवाद

'निसर्ग' चक्रवात क्या है और ये कितना ख़तरनाक है?

'निसर्ग' नाम का मतलब भी बता रहे हैं.

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले मनोज तिवारी ‘आउट’

दिल्ली में हार के बाद बीजेपी का पहला बड़ा फैसला.