Submit your post

Follow Us

राम मंदिर भूमि पूजन: रामलला के हरे वस्त्र पहनने पर सवाल उठाने वालों से चंपत राय ने क्या कहा है?

अयोध्या. पांच अगस्त को राम मंदिर का भूमि पूजन है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर की नींव रखेंगे. तीन अगस्त को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तैयारियों का जायजा लिया. भूमि पूजन से पहले 4 तारीख को ही अयोध्या की सीमाएं सील कर दी जाएंगी. कोरोना की वजह से कई तरह के एहतियात बरते जा रहे हैं. इस बीच सोमवार, 3 अगस्त को श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. भूमि पूजन को लेकर कई बातें बताईं. जानते हैं उन्होंने क्या कहा.

संत दलित नहीं होता

एक सवाल के जवाब में चंपत राय ने कहा कि पूर्वाग्रह की वजह से कुछ लोगों ने सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा-

हमने संतों को बुलाया है. साधु होने के बाद कोई दलित नहीं होता. कुछ लोग संतों को भी दलित कहते हैं, जबकि वो लोग भगवान के लोग हैं. संतों सहित पौने दो सौ लोग भूमि पूजन में आएंगे. भारत के भूगोल का हर हिस्सा यहां होगा.

उन्होंने बताया कि नेपाल के संतों को भी न्योता दिया गया है. फैजाबाद के मोहम्मद यूनुस, जो पद्मश्री पा चुके है, उन्हें भी बुलाया गया है. वो लावारिस लाशों का अंतिम संस्कार करते हैं. इकबाल अंसारी को भी बुलाया गया है.

निमंत्रण पत्र की ये खासियत है

चंपत राय ने बताया कि सुरक्षा का अभूतपूर्व इंतजाम किया गया है. हर निमंत्रण पत्र पर सिक्योरिटी कोड है. एक बार ही ये कोड काम करेगा. कोई भी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण नहीं लाया जा सकता. कैमरा भी नहीं ले जा सकते. उन्होंने बताया कि 4 अगस्त से अयोध्या आने वाले मेहमानों को कार्ड दिया जा रहा है. बाहर वालों को फोन पर सूचना देकर बुलाया गया है. यहां आने पर कार्ड दिया जाएगा. किसी को भी वाहन का पास नहीं दिया गया है. सभी को वाहन बाहर ही छोड़ना होगा. सुबह आठ बजे से दोपहर दो बजे तक कार्यक्रम चलेगा.

रामलला के हरे वस्त्र पर

चंपत राय ने कहा कि कुछ लोगों ने रामलला के हरे वस्त्र पहनने पर भी सवाल उठाए हैं. ये तो परंपरा से होता आया है. उन्होंने सवाल किया कि क्या पेड़ों की हरियाली इस्लाम है? हरी साग-सब्जी क्या इस्लाम का खाना है? ये तो भारत और दुनिया की समृद्धि और खुशहाली का प्रतीक है.

उन्होंने कहा कि वस्त्र के रंग को लेकर सवाल उठाना बेहूदा बात है, इसे आगे नहीं बढ़ाया जाना चाहिए. उन्होंने इस तरह के विवाद को बौद्धिक दिवालियापन करार दिया.

वहीं स्वामी गोविन्द देव गिरि ने कहा कि हमारे आश्रमों में उत्सव के रंग-बिरंगे ध्वजों में हरा भी होता है. लॉकडाउन में भगवान की पूजा हो, इसलिए गर्भगृह पर वास्तु देवता और अन्य पूजन शुरू किया. 108 दिन से पूजन यज्ञ, विष्णु सहस्रनाम रुद्राभिषेक, दुर्गा गुप्त नवरात्र में भी पूजा हुई. आज (3 अगस्त) गणपति और अथर्व शीर्ष पूजन और नौ शिलाओं की पूजा हुई. आज छोटी-बड़ी देवकाली पूजा हुई. मंगलवार को रामार्चा पूजा होगी. हनुमान गढ़ी के निशान की भी पूजा हो, ऐसा वो चाहते थे.

संयोग को लेकर क्या बोले?

18 अप्रैल से देवताओं का आह्वान प्रारंभ हुआ. जून के महीने में ये बात तय हुई कि प्रधानमंत्री 5 अगस्त को आएंगे. उन्होंने कहा कि गणित लगाइए कि 5 अगस्त को 108 दिन पूरे हो रहे हैं कि नहीं. ये अच्छा संयोग है. वहां लगातार पूजा हो रही है. गुप्त नवरात्रि में 700 मंत्रों से पूजा हुई. गणेश पूजन शुरू किया गया है. हनुमान गढ़ी में पूजन मंगलवार को होगा. 5 अगस्त को गर्भगृह में पूजा होगी.

ये भी बताया कि मंच पर ट्रस्ट के अध्यक्ष नृत्यगोपाल दास, राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी होंगे. मुख्य यजमान अशोक सिंघल के भतीजे सलिल सिंघल होंगे.


Video: नेता नगरी: अयोध्या राम मंदिर भूमि पूजन से क्या पीएम मोदी 2024 की तैयारी करने में जुटे हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बिहार पुलिस के एसपी विनय तिवारी मुंबई पहुंचे, प्रशासन ने ज़बरन होम क्वारंटीन कर दिया!

इस पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने क्या कहा है?

आ गया, आ गया, आ गया … IPL 2020 का पूरा नियम-कानून आ गया

हज़रात हज़रात हज़रात

पैंगोंग झील को लेकर चीन ने भारत की मुश्किल बढ़ा दी है

चीन पैंगोंग झील के बारे में बात ही नहीं करना चाहता.

यूपी की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण की कोरोना से मौत

लखनऊ PGI में ली अंतिम सांस.

ईरान ने समुद्री डाकुओं को रिहा किया और 11 भारतीय नाविकों को तस्कर बताकर जेल में डाल दिया!

ढाई महीने हो गए, कहीं कोई खोज ख़बर नहीं.

सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने रिया चक्रवर्ती के ख़िलाफ FIR दर्ज़ करवाई

सुशांत ने 14 जून को सुसाइड कर लिया था.

अयोध्या में 5 अगस्त के भूमि पूजन को लेकर क्या-क्या तैयारियां चल रही हैं

रामलला की पोशाक से लेकर अयोध्या में रंग-रोगन तक की सारी बातें.

कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को हड़काया, दिल्ली दंगे में पिंजरा तोड़ पर ऐसी बयानबाज़ी क्यों?

पुलिस ने क्या जवाब दिया, वो भी देखिए.

जिस मेट्रो स्टेशन के नीचे दंगे हुए, 5 महीने बाद भी दिल्ली पुलिस ने वहां से CCTV फ़ुटेज नहीं निकाली!

कोर्ट ने कहा, 'पुलिस में अजीब-सी सुस्ती है वीडियो फ़ुटेज को लेकर'

मास्क बांटने के बहाने बच्चे को किडनैप किया, चार करोड़ मांगे, पुलिस ने 24 घंटे में पकड़ लिया

यूपी के गोंडा का मामला, पांच आरोपी भी गिरफ्तार.