Submit your post

Follow Us

सोशल मीडिया पर तालिबान के समर्थन में पोस्ट, 14 आरोपी गिरफ्तार

असम में पुलिस ने 14 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस का दावा है कि ये सभी सोशल मीडिया पर तालिबान का समर्थन कर रहे थे. पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है. कट्टरपंथी संगठन तालिबान ने हाल ही में अफगानिस्तान पर पूरी तरह से कब्जा कर लिया है.

शनिवार 21 अगस्त को विशेष डीजीपी जीपी सिंह ने ट्वीट किया,

“असम पुलिस ने सोशल मीडिया पर तालिबान एक्टिविटी के बारे में पोस्ट करने वाले 14 लोगों को गिरफ्तार किया है. लोगों को सलाह दी जाती है कि वो सोशल मीडिया पर पोस्ट या लाइक करने में सावधानी बरतें.”

इंडिया टुडे संवाददाता हेमंता कुमार नाथ की एक रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस अधिकारियों ने कहा कि आरोपियों को UAPA एक्ट, IT एक्ट और CrPC की धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया है.

असम पुलिस ने कामरूप, धुबरी और बारपेटा से दो-दो लोगों को गिरफ्तार किया है. चीफ पब्लिक रिलेशन ऑफिसर राजीब सैकिया ने कहा कि इन लोगों को तालिबान के समर्थन में पोस्ट करने के लिए गिरफ्तार किया गया है. इनके अलावा दरांग, कछारस हैलाकांडी, दक्षिण सलमारा, होजाई और गोलपारा जिलों से एक-एक शख्स को गिरफ्तार किया गया है.

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि, “हम भड़काऊ पोस्टों पर नजर रखने के लिए सोशल मीडिया पर अलर्ट हैं. जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है, उनमें से एक छात्र भी है.”

डीआईजी वॉयलेट बरुआ ने ट्वीट में कहा कि सोशल मीडिया पर तालिबान समर्थक कमेंट करने वालों के खिलाफ असम पुलिस सख्त लीगल एक्शन ले रही है. ऐसे लोगों के खिलाफ क्रिमिनल केस दर्ज किए जा रहे हैं. अगर आपको भी ऐसी कोई बात पता चलती है तो उसे पुलिस को बताएं.

तालिबान को लेकर विवादित बयान

हाल ही में मशहूर शायर मुनव्वर राणा ने कहा था कि जितनी क्रूरता अफगानिस्तान में है, उससे ज्यादा क्रूरता तो हिंदुस्तान में है. पहले रामराज था, लेकिन अब कामराज है, अगर राम से काम है तो ठीक, वरना कुछ नहीं. उनके इस बयान को लेकर केस दर्ज हो गया था. इसके बाद वे अपने इस बयान से खुद को अलग करते दिखे और कहा कि तालिबान पर उनके बयान को गंभीरता से नहीं लिया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि

“यह बात मैंने कही थी और इसे गंभीरता से नहीं लेना चाहिए. तालिबान एक जंगली कौम है और हिंदुस्तान एक मुल्क है. अगर 10-20 भी भारत में हथियार निकले तो ये बुरी बात है.”

हाल ही में उत्तर प्रदेश के संभल से समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने कहा था,

“हमारा देश जब अंग्रेज़ों के कब्जे में था तो सारा हिंदुस्तान आज़ादी के लिए लड़ रहा था. ऐसे ही वहां (अफगानिस्तान) भी. अमेरिका ने कब्जा कर रखा था. इससे पहले रशिया था. जगह-जगह उनका कब्जा था. वो भी आज़ाद रहना चाहते हैं. ये तो उनका पर्सनल मामला है. इसमें हम क्या दख़ल देंगे? वो अपनी आज़ादी चाह रहे हैं तालिबान के ज़रिये. तालिबान एक ताकत है, जिसने अमेरिका के पांव नहीं जमने दिए, रशिया के नहीं जमने दिए. वो अपने देश को ख़ुद चलाना चाहते हैं. अपने तौर पर चलाना चाहते हैं.”

उनके इस बयान के बाद 18 अगस्त उनके खिलाफ राष्ट्रद्रोह आदि की धाराओं में केस दर्ज हो गया. तमाम विवाद और FIR के बाद बर्क ने सफाई देते हुए कहा कि उनके बयान को गलत समझा गया है.


वीडियो- दुनियादारी: तालिबान से ज्यादा खूंखार हक्कानी नेटवर्क चलाएगा अफगानिस्तान में सरकार!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

3 अक्टूबर को आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था.

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

किसानों के बहाने फिर बीजेपी पर निशाना साध रहे वरुण गांधी?