Submit your post

Follow Us

इस कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर में जिसका जूता-चप्पल आगे हो, उसका नंबर पहले आता है

आपने बस में सफर किया है तो ये जरूर जानते होंगे कि वहां लोग सीट कैसे बुक करते हैं. धक्का-मुक्की करके किसी तरह सीट पर पहुंचने वाला व्यक्ति वहां अपना रुमाल, थैला, टिफिन या कोई अन्य चीज रख देता है और उसके बाद टिकट लेने जाता है. इस तरह उसकी सीट कन्फर्म हो जाती है. हमारे यहां किसी को बस की सीट पर बैठना हो या किसी लाइन में आगे जाना हो तो वो इसी तरह अपना स्पॉट बुक करता है. कोविड-19 के वैक्सीनेशन अभियान में भी ऐसा देखने को मिला है. जगह है असम का करीमगंज जिला. यहां के एक कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटर में लोग आधी रात को आते हैं और सुबह लगने वाली लाइन में अपनी जगह बुक करने के लिए बोतल, जूते-चप्पल छोड़ जाते हैं. सुबह उसी जगह आकर खड़े हो जाते हैं.

3
वैक्सीन सेंटर में इस तरह तय हो रही लाइन. (तस्वीर- हेमंत कुमार नाथ/इंडियाटुडे-आजतक)

ऐसा क्यों कर रहे लोग?

इंडिया टुडे/आजतक से जुड़े हेमंत कुमार नाथ ने बताया कि करीमगंज के इस वैक्सीनेशन सेंटर में पहले किसे टीका लगेगा, ये देश के अधिकतर टीकाकरण केंद्रों से थोड़ा अलग तरीके से तय हो रहा है. आमतौर पर किसी वैक्सीनेशन सेंटर के सुबह खुलने पर लोग उसके आगे लाइन लगाते हैं. जो पहले आता है, उसका नंबर आगे. बाद में आने वाले लोग पीछे खड़े होते हैं. लेकिन करीमगंज स्थित सेंटर में अगर कोई सुबह आए तो शायद उसे सबसे पीछे खड़ा होना पड़े. क्योंकि यहां लाइन रात में ही तय हो जाती है. सबसे पहले वैक्सीन शॉट पाने के लिए लोग रात में आकर वैक्सीनेशन रूम के सामने बोतलें, जूते, बैग, कागज यहां तक कि पेड़ के पत्ते छोड़कर अपना नंबर बुक कर लेते हैं.

रिपोर्टर हेमंत कुमार नाथ ने बताया कि असम में कोरोना वैक्सीन की कमी है. वहीं, कोविड-19 की दूसरी लहर से घबराए लोगों में टीका लगवाने की मारामारी है. लेकिन स्टॉक है नहीं. इसलिए लोग बाकी बची डोज पहले लगवाने के लिए इस तरह नंबर लगाते हैं.

सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं

करीमगंज के गिरीश मॉडल हॉस्पिटल में बना ये सेंटर इस इलाके का एकमात्र टीकाकरण केंद्र है. रिपोर्ट के मुताबिक, इलाके के कम से कम 20 गांव इस सेंटर के तहत आते हैं. सरकार ने अपने दिशा-निर्देशों में कहा है कि कोविड वैक्सीन लगवाने के लिए वैक्सीनेशन सेंटर आने वाले लोगों को वहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा. लेकिन यहां इस नियम का पालन होता नहीं दिखता. पहले ही लाइन में अपनी जगह तय कर चुके लोगों को इसमें दिलचस्पी नहीं. यहां रात में नंबर लगाने आए एक युवा ने रिपोर्टर से बातचीत में कहा,

‘मैं यहां कल शाम को ही आ गया था और रात यहीं बिताऊंगा.’

इस युवक ने बताया कि कई लोग बोतलें, जूते और दूसरे चीजें रखकर लाइन में अपनी जगह रिजर्व कर लेते हैं.

वहीं, एक महिला ने बताया कि वो सुबह 5 बजे सेंटर पहुंच गई थीं. हालांकि उन्होंने बोतल या जूता-चप्पल रखकर अपनी जगह रिजर्व नहीं की. इस महिला ने अन्य लोगों के साथ लाइन में पीछे लगकर अपना नंबर आने का इंतजार किया. वो कहती हैं,

‘मैंने अपनी जगह रिजर्व करने के लिए बोतल या किसी और चीज का इस्तेमाल नहीं किया. लेकिन कई लोग ऐसा कर रहे हैं.’

2
सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं. (तस्वीरें- हेमंत कुमार नाथ/इंडिया टुडे- आजतक)

करीब 58 लाख लोगों को टीके लगे

असम की आबादी 3 करोड़ से ज्यादा है. कोविन पोर्टल के मुताबिक, इनमें से करीब 58 लाख लोगों को टीका लग चुका है. इनमें से 12 लाख 28 हजार लोग ऐसे हैं, जिन्हें वैक्सीन का दूसरा शॉट भी लग गया है. जाहिर है आबादी के बड़े हिस्से के पूरे वैक्सीनेशन के लिए अभी समय लगेगा. इस दौरान राज्यभर के वैक्सीन सेंटरों में स्टॉक बनाए रखना होगा. बता दें कि असम में कुल 353 जगहों पर कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही हैं. इनमें 317 वैक्सीन सेंटर सरकारी है, जबकि प्राइवेट वैक्सीनेशन सेंटरों की संख्या 36 है.


वीडियो: जानिए असम और यूपी में 2 चाइल्ड पॉलिसी को लेकर क्या चल रहा है? 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मनोज पाटिल सुसाइड अटेम्प्ट केस: साहिल खान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की, कहा नकली स्टेरॉयड्स का रैकेट

मनोज पाटिल सुसाइड अटेम्प्ट केस: साहिल खान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की, कहा नकली स्टेरॉयड्स का रैकेट

कहानी में एक और किरदार सामने आया है, राज फौजदार.

राजस्थान में अब सब-इंस्पेक्टर परीक्षा का पेपर लीक, वॉट्सऐप बना जरिया

राजस्थान में अब सब-इंस्पेक्टर परीक्षा का पेपर लीक, वॉट्सऐप बना जरिया

पुलिस ने बीकानेर, जयपुर, पाली और उदयपुर से 17 लोगों को गिरफ्तार किया है.

क्या पाकिस्तान यूपी चुनाव में आतंकी हमले कराने की तैयारी में है?

क्या पाकिस्तान यूपी चुनाव में आतंकी हमले कराने की तैयारी में है?

दिल्ली पुलिस ने 6 संदिग्धों को गिरफ्तार कर कई दावे किए हैं.

नसीरुद्दीन शाह ने योगी आदित्यनाथ के 'अब्बा जान' वाले बयान पर बड़ी बात कह दी है!

नसीरुद्दीन शाह ने योगी आदित्यनाथ के 'अब्बा जान' वाले बयान पर बड़ी बात कह दी है!

नसीर ने ये भी कहा कि कई मुस्लिम अपने पिता को बाबा भी कहते हैं.

AIMIM के पूर्व नेता पर FIR, दोस्त के साथ हलाला कराने की कोशिश का आरोप

AIMIM के पूर्व नेता पर FIR, दोस्त के साथ हलाला कराने की कोशिश का आरोप

पूर्व पत्नी ने लगाया रेप के प्रयास का आरोप, AIMIM नेता ने कहा- बेबुनियाद.

75 साल बाद नर्सिंग के पाठ्यक्रम में किए गए बड़े बदलाव हैं क्या?

75 साल बाद नर्सिंग के पाठ्यक्रम में किए गए बड़े बदलाव हैं क्या?

ये बदलाव जनवरी 2022 से लागू होंगे.

पश्चिम बंगाल के पूर्व CM बुद्धदेव भट्टाचार्य की साली बेघर हैं, फुटपाथ पर सोती हैं

पश्चिम बंगाल के पूर्व CM बुद्धदेव भट्टाचार्य की साली बेघर हैं, फुटपाथ पर सोती हैं

इरा बसु वायरोलॉजी में PhD हैं और 30 साल से भी ज्यादा समय तक पढ़ाया है.

'माओवादी' बताकर CRPF ने 8 आदिवासियों का एनकाउंटर किया था, 8 साल बाद ये 'एक भूल' साबित हुई है

'माओवादी' बताकर CRPF ने 8 आदिवासियों का एनकाउंटर किया था, 8 साल बाद ये 'एक भूल' साबित हुई है

यहां तक कि CRPF कान्स्टेबल की मौत भी फ्रेंडली फायर में हुई थी!

अक्षय कुमार की मां का निधन

अक्षय कुमार की मां का निधन

अपने जन्मदिन से सिर्फ एक दिन पहले अक्षय को मिला गहरा सदमा.

अफगानिस्तान: तालिबान ने नई सरकार की घोषणा की, किसे बनाया मुखिया?

अफगानिस्तान: तालिबान ने नई सरकार की घोषणा की, किसे बनाया मुखिया?

नई अफगानिस्तान सरकार का लीडर यूएन की आतंकियों की लिस्ट में शामिल है.