Submit your post

Follow Us

आर्यन खान के लिए मायूसी वाली ख़बर, अभी और रहना होगा जेल में

ड्रग्स केस में गिरफ्तार किए गए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को कोर्ट से कोई राहत नहीं मिली. 7 अक्टूबर को लोअर कोर्ट ने आर्यन खान, अरबाज़ मर्चेंट और मुनमुन धमेचा को 14 दिनों की जूडिशियल कस्टडी में भेज दिया था. 08 अक्टूबर को आर्यन की बेल अर्जी पर सुनवाई शुरू हुई. मगर कोर्ट ने कहा कि इस मामले की सुनवाई स्पेशल NDPS कोर्ट में होगी. इसके बाद आर्यन समेत इस केस में गिरफ्तार किए गए तमाम लोगों को आर्थर रोड जेल में भेज दिया गया. 11 अक्टूबर को ये मामला सेशंस कोर्ट पहुंचा. जहां एडिशनल सेशंस जज वीवी पाटिल ने बेल अर्जी पर सुनवाई के लिए 13 अक्टूबर की तारीख दी है.

आर्यन खान का केस लड़ रहे सीनियर एडवोकेट अमित देसाई और सतीष मानेशिंदे सुबह 10:30 बजे अपनी टीमों के साथ कोर्ट पहुंच गए थे. मगर कोर्ट ने उनका मामला सुनने से पहले कुछ दूसरे केसेज़ निपटाए. जब आर्यन खान बेल याचिका पर सुनवाई शुरू हुई, तो अमित देसाई ने NCB पर दबाव डाला कि वो सोमवार को दोपहर तक या मैक्सिमम मंगलवार सुबह तक उनकी याचिका पर अपना जवाब फाइल कर दें. ताकि जल्द से जल्द इस मामले की सुनवाई हो सके.

सतीष मानेशिंदे ने कोर्ट को ये भी बताया कि उन्होंने NCB को बेल एप्लिकेशन की इलेक्ट्रॉनिक और फिज़िकल दोनों कॉपी शुक्रवार को ही दे दी थी. इसके जवाब में NCB को रिप्रेज़ेंट कर रहे स्पेशल पब्लिक प्रोसेक्यूटर ए.एम. चिमालकर ने कहा कि मामले की तहकीकात चल रही है, सबूत इकट्ठे किए जा रहे हैं. ऐसे में NCB को अपना जवाब फाइल करने में कम से कम एक हफ्ते का समय लग सकता है. चिमालकर ने ये भी जोड़ा कि उनके पास जवाब फाइल करने के लिए सिर्फ आर्यन का ही मामला नहीं, तमाम अन्य केसेज़ भी हैं. इसलिए उन्हें समय चाहिए होगा.

इस तर्क के जवाब में अमित देसाई ने कहा कि वो उस शख्स के लिए बेल की मांग कर रहे हैं, जिसके पास से किसी तरह की कोई इललीगल चीज़ बरामद नहीं हुई है. और बेल मिलने से NCB की इनवेस्टिगेशन पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा. क्योंकि आर्यन खान पहले ही कस्टडी में 7 दिन बिता चुके हैं. चिमालकर ने कहा कि NCB को अपना जवाब फाइल करने के लिए दो से तीन दिन का समय मिलना चाहिए. चिमालकर की मांग को जायज़ बताते हुए अद्वैत सेठना ने कहा कि इस मामले में कोई अर्जेंसी नहीं है. उन्हें अपना जवाब फाइल करने के लिए दो दिन का समय तो मिलना ही चाहिए. आम तौर पर वो लोग इसके लिए सात दिन का समय लेते हैं.

दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद जज वीवी पाटिल ने कहा कि इस मामले की अगली सुनवाई 13 अक्टूबर को होगी. इसके बाद समय को लेकर जिरह शुरू हुई. आर्यन के वकील चाहते थे कि कोर्ट 11 बजे इस मामले की सुनवाई करे. मगर NCB के वकीलों ने कहा कि उन्हें कुछ और मामलों को भी डील करना है. वो 13 अक्टूबर को दोपहर में ही फ्री हो पाएंगे. इसके बाद ये तय हुआ कि NCB 13 अक्टूबर की सुबह 11 बजे कोर्ट को अपना जवाब सौंप देगी. और मामले की सुनवाई दोपहर 02:45 बजे शुरू होगी.


वीडियो देखें: आर्यन खान उस जेल में हैं, जहां कभी संजय दत्त और अजमल कसाब को रखा गया था

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप.

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

NCB की रेड को फर्जी बताया, ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की कॉल डिटेल की जांच की मांग की

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

अजय मिश्रा कुछ और कह रहे, परिवारवाले कुछ और कह रहे.

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI की मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी (MPC) की बैठक आज खत्म हो गई.

लखीमपुर: SC ने यूपी सरकार से रिपोर्ट मांगते हुए ऐसी बात पूछी है कि जवाब देना मुश्किल हो सकता है

विस्तृत रिपोर्ट दाखिल करने के लिए यूपी सरकार को एक दिन का वक्त दिया है.

छत्तीसगढ़: कवर्धा में किस बात पर ऐसी हिंसा हुई कि इंटरनेट बंद करना पड़ गया?

रविवार 3 अक्टूबर की शाम से यहां कर्फ्यू लगा है.

पैंडोरा पेपर्स: लक्ष्मी निवास मित्तल के भाई प्रमोद मित्तल पर बड़ी टैक्स चोरी और धोखाधड़ी का आरोप

ब्रिटेन की अदालतों में इन दोनों ने अपनी आय शून्य बताई थी.

लखीमपुर का रोंगटे खड़े करने वाला वीडियो, प्रदर्शन कर रहे किसानों पर पीछे से कैसे चढ़ा दी गाड़ी!

घटना में घायल शख्स ने 'दी लल्लनटॉप' को बताई पूरी कहानी.

फोन पर नेताओं की कुर्सी फिक्स करती थी, अब नई तरह की हैट्रिक बनाई है

पनामा हो या पैराडाइज़, या हो पैंडोरा. लीक जहां, नीरा राडिया का नाम वहां.

जब कोर्ट में बहस के दौरान आर्यन खान के वकील बोले, "वो चाहे तो पूरी शिप खरीद सकता है"

आर्यन खान 7 अक्टूबर तक कस्टडी में रहेंगे.