Submit your post

Follow Us

आंध्र प्रदेश के सरकारी स्कूलों की ये तस्वीरें इंटरनेट पर खूब हलचल मचा रही हैं

आंध्र प्रदेश में सरकारी स्कूलों को लेकर एक योजना सोशल मीडिया पर काफी तारीफें बटोर रही है. आंध्र प्रदेश सरकार ने अपने स्कूलों के लिए एक फ्लैगशिप प्रोग्राम ‘नाडु-नेडु’ लॉन्च किया था. ‘नाडु’ का मतलब है ‘पहले’ और ‘नेडु’ का मतलब है ‘आज’. सीएम वाईएस जगनमोहन रेड्डी सरकार के इस कार्यक्रम के पहले चरण के दौरान करीब 15 हजार सरकारी स्कूलों को रेनोवेट करने के लिए चिह्नित किया गया था. पहला फेज़ पूरा होने के बाद अब सरकारी स्कूलों की तस्वीरें वायरल हो रही हैं.

ये ट्वीट्स देखिए-

क्या है योजना

वाईएसआर कांग्रेस पार्टी की सरकार ने तीन साल के भीतर सभी सरकारी स्कूलों को रेनोवेट करने के लिए एक बड़ा कार्यक्रम शुरू किया था. इस योजना के पहले फेज़ के दौरान 15,715 स्कूलों को पूरी तरह से व्यवस्थित करने का प्लान था. इस योजना के अंतर्गत अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने को कहा गया था कि इन स्कूलों में इन नौ बुनियादी सुविधाएं मुहैया कराएं :

  • साफ टॉयलेट
  • पीने के पानी की सप्लाई
  • जरूरी और मामूली मरम्मत
  • इलेक्ट्रिसिटी की पहुंच
  • स्टूडेंट्स और स्टाफ के लिए फर्नीचर
  • हरे रंग का चॉकबोर्ड
  • स्कूलों की पेंटिंग
  • इंग्लिश लैब
  • कैंपस की बाउंडरी

फिलहाल आंध्र प्रदेश सरकार ने इसी योजना से संबधित एक और पहल की है. सरकार ने ये भी सुनिश्चित करने की बात कही है कि नए बन रहे स्कूलों में पहले से ही यह सुविधाएं हों और उनकी मेंटेनेंस भी होती रहे. राज्य ने प्राइमरी स्कूलों में अंग्रेजी शिक्षा को अनिवार्य कर दिया है. साथ ही प्राइमरी स्कूलों में अपने बच्चे को भेजने वाली माताओं को 15,000 रुपये सालाना देने की योजना है. आंध्र प्रदेश सरकार सभी स्टूडेंट्स को स्कूल ड्रेस, बैग और शू भी देती है.


वीडियो देखें: आंध्र प्रदेश में महिला डॉक्टर ने वाईएसआर कांग्रेस के नेताओं पर गंभीर आरोप लगाया है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

इंग्लैंड टूर से पहले पाकिस्तान के तीन क्रिकेटर कोविड पॉज़िटिव

अहम टूर से पहले पाकिस्तान को लगा झटका.

पटना के बैंक में दिन-दहाड़े 52 लाख रुपए की डकैती

अपराधियों ने बैंक में लगे CCTV की हार्ड डिस्क तोड़ दी.

अब लद्दाख की पैंगोंग झील के पास चीन की हरकत, भारतीय क्षेत्र में बना रहा है बंकर

सैटेलाइट इमेज एक्सपर्ट की बातें यही इशारा कर रही हैं.

भारतीय सेना के पूर्व अधिकारियों ने किस बात पर आपस में भयानक झगड़ा फ़ान लिया?

गौरव आर्या ने भीड़ से पिट जाने की बात कह डाली.

रेलवे की नौकरी के भरोसे न बैठें, रेलवे की जेबें खाली हैं!

कोरोना लॉकडाउन ने रेलवे का हाल खस्ता कर दिया है.

गलवान घाटी में भारत से लड़ाई पर चीन के लोग किस-किस तरह के सवाल उठा रहे हैं?

चीनी टि्वटर 'वीबो' पर कई पोस्ट लिखी गई हैं.

Exclusive: गलवान घाटी में 15 जून को तीन बार हुई लड़ाई में क्या-क्या हुआ था, विस्तार से जानिए

तीसरी लड़ाई के बाद भारत ने 16 चीनी सैनिकों के शव सौंपे थे.

राज्यसभा की 18 सीटों में से कांग्रेस और बीजेपी ने कितनी जीतीं?

एक और पार्टी है जिसने कांग्रेस जितनी सीटें जीती हैं.

दिल्ली के हेल्थ मिनिस्टर सत्येंद्र जैन ऑक्सीजन सपोर्ट पर, दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किए गए

कुछ दिन पहले कोरोना पॉज़िटिव आए थे, अब प्लाज़मा थेरेपी दी जाएगी.

चीनी सेना की यूनिट 61398, जिससे पूरी दुनिया के डेटाबाज़ डरते हैं

बड़ी चालाकी से काम करती है ये यूनिट.