Submit your post

Follow Us

आगरा के इस बुजुर्ग ने अपनी 3 करोड़ की संपत्ति डीएम के नाम क्यों कर दी?

मां-बाप अपने बच्चों की अच्छी परवरिश के लिए क्या कुछ नहीं करते, लेकिन कई बार बच्चे अपने मां-बाप के बलिदान को भूल जाते हैं, और बुढ़ापे में उन्हें अकेला छोड़ देते हैं. ऐसा ही कुछ आगरा (Agra) के बुजुर्ग गणेश शंकर पांडे के साथ हुआ है. गणेश शंकर की उम्र 88 साल है, उनके तीन बेटे और दो बेटियां हैं, इसके बावजूद उन्होंने अपनी सारी संपत्ति जिलाधिकारी (DM) के नाम कर दी है. उनकी संपत्ति की अनुमानित कीमत 3 करोड़ बताई जा रही है.

क्यों लिया ये फैसला?

साल 1983 में गणेश शंकर ने अपने तीन भाईयों नरेश शंकर, रघुनाथ और अजय शंकर पांडे के साथ मिलकर आगरा के छत्ता इलाके में एक आलीशान घर बनवाया था. वक्त गुजरा और चारों भाई अलग हो गए. घर का बंटवारा हुआ और गणेश शंकर के हिस्से एक चौथाई यानी 250 गज जमीन आई. आज इस 250 गज जमीन पर बने गणेश शंकर के मकान की कीमत तकरीबन 3 करोड़ रुपए है. उन्होंने इसी मकान को जिलाधिकारी के नाम कर दिया है.

आजतक के रिपोर्टर अरविन्द शर्मा के मुताबिक गणेश शंकर पांडे ने बताया कि उनके तीन बेटे हैं. एक बेटा दिमागी रूप से कमजोर है, वो कुछ काम नहीं करता है. बाकी दोनों बेटों ने उनका ध्यान नहीं रखा. दो वक्त की रोटी के लिए उन्हें अपने तीन भाइयों पर आश्रित होना पड़ रहा है. जब उनके बेटों को समझाया गया, तो बेटों ने उनसे नाता तोड़ लिया.

गणेश शंकर आगे कहते कि उन्हें अपने बेटों की ये हरकत नागवार गुजरी और इसलिए उन्होंने 2018 में ही अपनी सारी संपत्ति जिला अधिकारी के नाम करने का फैसला किया. गणेश शंकर के मुताबिक उन्होंने हाल ही में जनता दर्शन में पहुंचकर खुद अपनी वसीयत के दस्तावेज सिटी मजिस्ट्रेट प्रतिपाल चौहान को सौंपे.

गणेश शंकर ने अपनी वसीयत में लिखा है कि

“मैं फिलहाल पूरी तरह से शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ हूं, और अपनी सारी चल-अचल संपत्ति का मालिक हूं. मेरे मरने के बाद मेरे हिस्से की जमीन डीएम आगरा के नाम हो जाएगी.”

गणेश शंकर के इस फैसले पर आगरा के सिटी मजिस्ट्रेट प्रतिपाल चौहान ने बताया कि उन्हें वसीयत प्राप्त हुई है. बुजुर्ग गणेश शंकर पांडे ने अपनी सारी जायदाद जिला अधिकारी के नाम कर दी है. जो जमीन उन्होंने आगरा के डीएम के नाम की है, उसकी कीमत लगभग 3 करोड़ रुपये है. प्रतिपाल चौहान के मुताबिक वसीयत की एक प्रति उनके भाइयों के पास भी है और भाइयों को गणेश शंकर के इस फैसले पर कोई ऐतराज नहीं है.


वीडियो: ओडिशा की एक बुजुर्ग महिला ने अपनी सारी संपत्ति एक रिक्शावाले के नाम क्यों कर दी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

मृतक व्यक्ति पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप था.

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5G के रोल आउट को लेकर दिक्कतें चालू.

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

बीमा कंपनी गाड़ी चोरी या दुर्घटनाग्रस्त होने का बहाना बनाए तो ये आदेश दिखा देना.

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

दबी जुबान में क्या कह रही है पुलिस?

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.