Submit your post

Follow Us

कोविड काल में 21 बरस के इस सरपंच ने अपने गांव को बीमारी से एक कदम आगे ला खड़ा किया!

छोटे-छोटे प्रयासों की अहमियत बताने वाली कितनी कहानियां, कितनी कहावतें हम बचपन से सुनते आए हैं न. “बूंद-बूंद से घट भरता है.” “रसरी आवत जात ते, सिल पर..”. वगैरह. तब लगता था कि यार, सब बातें हैं, बातों का क्या. लेकिन यकीन मानिए, ऐसा होता है.

महाराष्ट्र का जिला है सोलापुर और सोलापुर में गांव है घाटणे. करीब 1500 की आबादी. अभी ‘जीत’ जैसे शब्द इस्तेमाल करना तो जल्दबाजी होगी, लेकिन इस गांव ने ख़ुद को कोविड-19 से एक कदम आगे ज़रूर खड़ा कर लिया है. और इसमें एंकर की भूमिका निभाई है 21 बरस के सरपंच रुतुराज देशमुख ने.

दरअसल कोविड की पहली लहर तो घाटणे झेल गया था. गांव से कोई पॉज़िटिव केस नहीं आया. इस बीच जनवरी 2021 में गांव को नया सरपंच मिला. रुतुराज.  शरद पवार की पार्टी NCP से हैं. रुतुराज ने केमेस्ट्री से ग्रेजुएशन किया है और अभी LLb फर्स्ट ईयर में हैं. गांव धीरे-धीरे सामान्य हो ही रहा था कि दूसरी लहर आ गई और इस बार गांव के एक ही घर से 2 केस आए. इन दोनों लोगों की अप्रैल में कोविड-19 से मौत हो गई. गांव सहम गया.

रुतुराज के भाई आकाश, जो इस पूरी मुहिम में उनके साथ रहे, वे बताते हैं –

“2 मौत के बाद पूरा गांव डर गया था. लोग घर से निकल-निकलकर कहीं और जाकर रहना शुरू कर रहे थे. कोई बगल गांव में अपने रिश्तेदार के घर चला गया. तमाम लोग तो अपने खेतों में ही रहने लगे. ये स्थिति चिंताजनक थी. एक तो इस तरह से पलायन ठीक नहीं था. दूसरा इससे इंफेक्शन का ख़तरा तो और ज़्यादा बढ़ ही रहा था. ऐसे में सरपंच रुतुराज ने टीम बनाई. एक कैंपेन लॉन्च किया – Be Positive, अपने गांव को रखो Corona Negative. घर-घर जाकर लोगों से बात की, उनके मन से कोरोना का डर निकालने की कोशिश की. कोरोना की जानकारी देते मराठी भाषा के विडियो दिखा-दिखाकर लोगों को समझाया गया कि अगर कुछ सावधानियां बरती गईं तो सुरक्षित रहा जा सकता है.”

5 सूत्रीय कार्यक्रम

सरपंच रुतुराज देशमुख ने गांव में 5 सूत्रीय कार्यक्रम तैयार कराया और इसे लागू कराया.

# मरीज को ढूंढना.

# इंफेक्शन होने पर उस तक इलाज पहुंचाना.

# ऑक्सीजन और तापमान चेक करवाने की व्यवस्था.

# कोविड प्रोटोकॉल्स फॉलो करवाना.

# वैक्सीनेशन

इस काम में 4 आशा वर्कर को साथ लिया गया, जिन्होंने लोगों को जागरूक करने का, उन तक प्राथमिक इलाज पहुंचाने का काम किया.

Ghatne
घाटणे गांव का वैक्सीनेशन सेंटर.

हर घर में किट

हर घर में एक कोविड किट पहुंचाने का काम किया गया. इस किट में घर के हर सदस्य के लिए मास्क, साबुन, सैनेटाइज़र रखकर दिए गए. और न सिर्फ दिए गए, बल्कि जिस घर में सैनेटाइज़र या कोई और चीज़ ख़त्म हो रही है, उस घर में फिर से वो चीज दी जा रही है. क्योंकि सरपंच रुतुराज का कहना है कि गांव में लोगों की आमदनी इतनी नहीं है कि वो ये सब चीजें अपने पास से ले सकें. इसलिए ये ज़िम्मेदारी भी पंचायत ने ही ली कि जब एक बार सामान ख़त्म हो जाए तो वो चीज दोबारा दी जाए.

आकाश बताते हैं –

“अब तक हम करीब 50 हज़ार रुपये की किट बांट चुके हैं. ये पैसा पंचायत से मिल गया. इसके अलावा हमने गांव में ज़्यादा से ज़्यादा एंटीजन टेस्ट की व्यवस्था कराई. ये काम प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से बात करके करा लिया गया.”

वैक्सीनेशन

छोटे से गांव में 2 वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं. अब तक 45 साल से ऊपर के करीब 70 फीसदी लोगों को कम से कम एक डोज़ लगाई जा चुकी है. पहले गांव के लोगों में इसे लेकर भी डर था. लेकिन रुतुराज और उनकी टीम ने लोगों से बात करके उनका डर कम करने का काम किया. लोगों को बताया कि वैक्सीन से कोई नुकसान नहीं होगा, बल्कि कोरोना को रोकने का यही सबसे कारगर तरीका है.


पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान और कोविड-19 टीकाकरण अभियान में कोई अंतर नहीं है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

UP बोर्ड: 10वीं की परीक्षा नहीं होगी, 12वीं का एग्जाम जुलाई के दूसरे सप्ताह में!

UP बोर्ड: 10वीं की परीक्षा नहीं होगी, 12वीं का एग्जाम जुलाई के दूसरे सप्ताह में!

शिक्षा मंत्री दिनेश शर्मा का ऐलान.

अलीगढ़: जहरीली शराब से अब तक 22 की मौत,  NSA के तहत कार्रवाई के निर्देश

अलीगढ़: जहरीली शराब से अब तक 22 की मौत, NSA के तहत कार्रवाई के निर्देश

आरोपियों पर 50-50 हजार का इनाम घोषित.

राजस्थान: बीच सड़क गोली मारकर डॉक्टर दंपति की हत्या के मामले में पुलिस को क्या पता चला है?

राजस्थान: बीच सड़क गोली मारकर डॉक्टर दंपति की हत्या के मामले में पुलिस को क्या पता चला है?

सोशल मीडिया में वायरल है CCTV फुटेज.

वो तस्वीर जिसमें पहलवान सुशील कुमार खुद सागर को पीटते दिख रहे हैं

वो तस्वीर जिसमें पहलवान सुशील कुमार खुद सागर को पीटते दिख रहे हैं

'स्टेडियम में मारपीट के दौरान गैंगस्टर के भाई को पेशाब पिलाने की भी कोशिश हुई थी'.

सरकार के नए नियमों पर कोर्ट पहुंचा वॉट्सऐप, कहा- निर्दोष इंसान जेल जा सकता है

सरकार के नए नियमों पर कोर्ट पहुंचा वॉट्सऐप, कहा- निर्दोष इंसान जेल जा सकता है

इस पर सरकार ने भी जवाब दिया है.

किस संस्था ने रामदेव के खिलाफ एक हजार करोड़ की मानहानि का केस करने की बात कही है?

किस संस्था ने रामदेव के खिलाफ एक हजार करोड़ की मानहानि का केस करने की बात कही है?

इससे बचने के लिए बाबा को क्या करने की सलाह दी है?

ओडिशा पहुंचा तूफान 'यास', पटरियों से बांधने पड़े ट्रेन के पहिए

ओडिशा पहुंचा तूफान 'यास', पटरियों से बांधने पड़े ट्रेन के पहिए

पश्चिम बंगाल से लेकर झारखंड हाई अलर्ट पर हैं.

सागर हत्याकांड: सुशील कुमार का साथ देने के आरोप में बवाना गैंग के चार मेंबर गिरफ्तार

सागर हत्याकांड: सुशील कुमार का साथ देने के आरोप में बवाना गैंग के चार मेंबर गिरफ्तार

सागर की हत्या के आरोप में पुलिस सुशील कुमार को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है.

भारत में 26 मई से फेसबुक और ट्विटर जैसे ऐप बंद हो जाएंगे?

भारत में 26 मई से फेसबुक और ट्विटर जैसे ऐप बंद हो जाएंगे?

क्या हैं भारत सरकार के नए नियम, जिन्हें कंपनियों ने अब तक नहीं माना?

हत्यारोपी पहलवान सुशील कुमार से मेडल्स और अवॉर्ड्स छीने जा सकते हैं, क्या कहते हैं नियम?

हत्यारोपी पहलवान सुशील कुमार से मेडल्स और अवॉर्ड्स छीने जा सकते हैं, क्या कहते हैं नियम?

पद्म श्री, खेल रत्न और अर्जुन अवॉर्ड के अलावा सुशील कुमार के नाम तमाम मेडल भी हैं.