Submit your post

Follow Us

दिल्ली: हज हाउस के विरोध में प्रदर्शन, भाजपा ने की इस जगह अस्पताल या स्कूल की मांग

दिल्ली के द्वारका सेक्टर 22 में दिल्ली सरकार हज हाउस बनवा रही है. इस हज हाउस को लेकर 360 खापों ने विरोध जताया है. शुक्रवार 6 अगस्त को सेक्टर 22 के भरथल चौक पर खाप से जुड़े लोगों ने प्रदर्शन किया. वहीं भाजपा का कहना है कि इसे खापों की इच्छा के खिलाफ बनवाया जा रहा है. भाजपा ने इस जमीन पर अस्पताल या स्कूल खोलने की मांग की है. वहीं आम आदमी पार्टी ने इस विरोध को राजनीतिक करार दिया है.

दिल्ली के द्वारका इलाके में बनने वाले हज हाउस को भाजपा लोगों की भावनाओं के खिलाफ बता रही है. दिल्ली सरकार पर मनमानी का आरोप लगा रही है. पार्टी ने कहा है कि दिल्ली सरकार, वक्फ बोर्ड की खाली पड़ी जमीनों पर हज हाउस बनाए.

दिल्ली भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि दिल्ली में वक्फ बोर्ड की तमाम जमीनें पड़ी हुई हैं. ऐसे में उन जमीनों पर हज हाउस बनाने की जगह, ग्रामीणों की जमीन पर हज हाउस बनाने का क्या मतलब है? उन्होंने कहा कि भाजपा ग्रामीणों के साथ है और दिल्ली सरकार की मनमानी को पूरा नहीं होने दिया जाएगा.

इंडिया टुडे के संवाददाता राम किंकर सिंह की रिपोर्ट के मुताबिक आदेश गुप्ता ने सेक्टर 22 में विरोध प्रदर्शन के लिए इकट्ठा हुई भीड़ को संबोधित करते हुए कहा कि 2007 में जिस वक्त कांग्रेस की सरकार थी तब यहां हज हाउस बनाने का फैसला किया गया था. फरवरी 2008 में शिलान्यास की कोशिशें की गई थीं तो आप सभी लोगों के संघर्ष से कांग्रेस अपने मंसूबे में कामयाब नहीं हो पाई थी. एक बार फिर से वही समय आ गया है, जब केजरीवाल के मंसूबे को नाकामयाब बनाना है और इसमें बीजेपी हर वक्त आपके साथ है.

बीजेपी नेता आदेश गुप्ता ने कहा कि अपने राजनीतिक लाभ के लिए केजरीवाल मनमानी कर रहे हैं और इसे किसी भी सूरत में नहीं होने दिया जाएगा. जहां हज हाउस बनाने की बातें हो रही हैं वहां मुस्लिम लोग नहीं रहते और जो रहते हैं वह भी यही चाहते हैं कि यहां हज हाउस की जगह स्कूल कॉलेज या अस्पताल बने. उन्होंने कहा,

“खुद को दिल्ली का मालिक मानकर बैठने वाले केजरीवाल को समझना चाहिए कि दिल्ली के असली मालिक गांव-देहात में रहने वाले मजदूर और मध्यमवर्गीय लोग हैं.”

उन्होंने कहा कि दिल्ली में स्कूल कॉलेज और अस्पतालों की कमी है लेकिन इनको बनाने की जगह दिल्ली सरकार एक समुदाय को राजनीतिक हित के लिए सपोर्ट कर रही है. उन्होंने कहा कि दिल्ली के असली लोग गांवों में रहते हैं और दिल्ली के सीएम को उनकी इच्छा के खिलाफ नहीं जाना चाहिए.

आम आदमी पार्टी ने विरोध को बताया राजनीतिक

हिन्दुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक बाकी राज्यों की तरह दिल्ली में हज हाउस नहीं है. हर साल दिल्ली से 15 से 20 हजार मुस्लिम हज के लिए जाते हैं. इन यात्रियों में दिल्ली के अलावा पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, चंडीगढ़ और पश्चिमी यूपी के मुस्लिम शामिल हैं. हर साल हज के लिए जाने से पहले रामलीला मैदान और दरगाह फैज इलाही में कैंप लगाए जाते हैं.

उनकी सुविधा के लिए करीब 93.47 करोड़ रुपए की लागत वाला हज हाउस करीब-करीब तैयार है. इस हज हाउस में एक बार में करीब 350 श्रद्धालु रुक सकते हैं. DDA रिकॉर्ड्स के मुताबिक ये हज हाउस करीब 5000 स्क्वायर मीटर जगह में तैयार किया जा रहा है.

आम आदमी पार्टी के सीलमपुर से विधायक अब्दुल रहमान इस विरोध को ‘राजनीतिक’ बताते हैं. उन्होंने कहा कि अगर तीर्थ यात्रा पर जाने से पहले थोड़े समय के लिए कुछ लोग एक साथ आ जाते हैं तो किसी को परेशानी क्यों होनी चाहिए? जिस भूमि पर हज हाउस बनाया जा रहा है वह किसी निजी व्यक्ति का नहीं है, न ही किसी ने हड़प लिया है और न ही किसी ने अतिक्रमण किया है.

उन्होंने कहा कि हमारा देश अनेक धर्मों का देश है. लोग शांति से रहना चाहते हैं. कुछ लोग देश को धार्मिक आधार पर बांटने के लिए तैयार हैं और हम सरकार से इस तरह के विरोध के खिलाफ कार्रवाई करने का अनुरोध करते हैं.


वीडियो – दिल्ली कैंट रेप केस: बच्ची के शव के नाम पर बचीं सिर्फ टांगें, अब क्या करेगी पुलिस?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

आपको फर्जी शेयर टिप्स देकर इस परिवार ने करोड़ों का मुनाफा कैसे पीट लिया?

आपको फर्जी शेयर टिप्स देकर इस परिवार ने करोड़ों का मुनाफा कैसे पीट लिया?

Bull Run कांड में सेबी का फैसला, एक ही परिवार के 6 लोगों पर लगा बैन.

आदिवासी, आंदोलनकारी, पत्रकार और ऐक्ट्रेस, जानिए यूपी में कांग्रेस ने किन चेहरों पर दांव लगाया है?

आदिवासी, आंदोलनकारी, पत्रकार और ऐक्ट्रेस, जानिए यूपी में कांग्रेस ने किन चेहरों पर दांव लगाया है?

कांग्रेस की पहली लिस्ट में 50 महिला उम्मीदवार शामिल हैं

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

तस्वीर गौर से देखेंगे तो समझ आ जाएगा, हम तो बता ही देंगे.

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

बीते 24 घंटों के भीतर यूपी के दो कैबिनेट मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है.

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस ने असल में क्या कहा है?

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

कोरोना के केस बढ़ने के बीच DDMA की नई गाइडलाइंस जारी.

यूपी में MSP कृषि लागत से ज्यादा नहीं तो BJP इसका ढोल क्यों पीट रही है?

यूपी में MSP कृषि लागत से ज्यादा नहीं तो BJP इसका ढोल क्यों पीट रही है?

यूपी में MSP की तारीफ़ का सच.

Nykaa का IPO अशनीर ग्रोवर और कोटक महिंद्रा के बीच जंग की वजह कैसे बन गया?

Nykaa का IPO अशनीर ग्रोवर और कोटक महिंद्रा के बीच जंग की वजह कैसे बन गया?

BharatPe के लीगल नोटिस और अशनीर ग्रोवर के 'गाली' वाले ऑडियो पर क्या बोला Kotak?

Xiaomi ने सरकार को कैसे लगा दिया 653 करोड़ का चूना?

Xiaomi ने सरकार को कैसे लगा दिया 653 करोड़ का चूना?

Xiaomi भारत में सबसे ज्यादा मोबाइल बेचने वाली चीनी कंपनी है.

नरसिंहानंद का एक और घटिया बयान, 'जिसने एक बेटा पैदा किया, उस मां को औरत मत मानना'

नरसिंहानंद का एक और घटिया बयान, 'जिसने एक बेटा पैदा किया, उस मां को औरत मत मानना'

नरसिंहानंद ने कहा, "मुसलमानों से हिंदुओं को मरवाओगे क्या?"