Submit your post

Follow Us

क्या होगा जब ऋतिक-टाइगर, चिरंजीवी की इस 250 करोड़ी फिल्म के सामने खड़े होंगे?

2019 में कई बार सेम डेट पर एक से ज़्यादा फिल्में रिलीज़ हुई हैं. इसलिए अब क्लैश जैसे शब्दों का इस्तेमाल कम हो गया है. लेकिन जब एक ही दिन दो बड़े बजट और सुपरस्टार्स वाली फिल्में रिलीज़ होती हैं, तो उस टकराव का वजन यही शब्द वहन करता है. इतनी भूमिका इसलिए बांधी जा रही है क्योंकि 2 अक्टूबर, 2019 को ‘वॉर’ और ‘साय रा नरसिम्हा रेड्डी’ एक साथ रिलीज़ हो रही हैं. इन फिल्मों का इतना ज़्यादा बज़ क्यों है? इन फिल्मों के साथ रिलीज़ होने से क्या दिक्कत हो सकती है? रिलीज़ से पहले क्या दिक्कत आ रही है? और इस बारे में इन दोनों फिल्मों से जुड़े लोगों का क्या कहना है? ये सारी चीज़ें हम आपको नीचे चार पॉइंट्स में बता रहे हैं.

1) इन दोनों फिल्मों का इतना बज़ क्यों है?

क्योंकि ‘वॉर’ में ऋतिक रौशन और टाइगर श्रॉफ पहली बार साथ काम कर रहे हैं. ऋतिक के स्टारडम के बारे में तो आपको पता ही है. बाकी टाइगर को जेन-नेक्स्ट सुपरस्टार कहा जा रहा है. क्योंकि उनकी फिल्में छप्परफाड़ कमाई करती हैं. इन दोनों को एक-साथ लाने का माद्दा दिखाया है यशराज फिल्म्स के आदित्य चोपड़ा ने. फिल्म में वर्ल्ड क्लास एक्शन और ऋतिक-टाइगर के बीच टॉप क्लास डांस फेस ऑफ देखने को मिलने वाला है. दूसरी ओर है ‘साय रा नरसिम्हा रेड्डी’. तकरीबन 250 करोड़ रुपए के बजट में बनी पीरियड एक्शन फिल्म. इसमें साउथ और हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के तमाम सुपरस्टार्स काम कर रहे हैं. चिरंजीवी से लेकर अमिताभ बच्चन, सुदीप, विजय सेतुपति और नयनतारा. साथ में ‘बाहुबली’ फेम अनुष्का शेट्टी और तमन्ना भाटिया भी हैं. अब ऐसी फिल्मों का बज़ न हो तो किसका हो!

 

फिल्म 'वॉर' के एक सीन में ऋतिक रौशन और टाइगर श्रॉफ. फिल्म में ये दोनों ही एक्टर्स भारतीय जासूस और गुरु-शिष्य के रोल में नज़र आएंगे.
फिल्म ‘वॉर’ के एक सीन में ऋतिक रौशन और टाइगर श्रॉफ. फिल्म में ये दोनों ही एक्टर्स भारतीय जासूस और गुरु-शिष्य के रोल में नज़र आएंगे.

2) साथ में रिलीज़ होने में दिक्कत क्या है?

दिक्कत बड़ी है. ये लोकल ग्राउंड में होने वाला 500 रुपए का क्रिकेट मैच नहीं है, जिसमें हारे या जीतें, ज़्यादा फर्क नहीं पड़ता. इन फिल्मों पर करोड़ों रुपए खर्च किए गए हैं. और शर्त ये है कि ये मैच किसी भी हाल में जीतना ही है. कहने का मतलब दोनों ही फिल्मों के प्रोड्यूसर चाहेंगे कि उनका खर्च किया हुआ पैसा, दो-तीन गुणा बढ़कर वापस आए. ये कमाई कैसे होगी, जब बहुत सारे लोग इन फिल्मों को देखेंगे. लेकिन जब दो फिल्में एक साथ रिलीज़ होंगी, तो इनके दर्शक भी बंटेंगे. यानी दोनों ही फिल्मों को ठीक-ठाक नुकसान होगा. साउथ में ऋतिक-टाइगर की फिल्म दिक्कत में फंसेगी और नॉर्थ में चिरंजीवी का ड्रीम प्रोजेक्ट ‘साय रा नरसिम्हा रेड्डी’. अगर ये दोनों फिल्में अलग-अलग तारीख पर रिलीज़ होंगी, तो दोनों को ही बढ़िया फायदा होगा. क्योंकि दर्शकों के पास दो में से चुनने का ऑप्शन नहीं होगा.

फिल्म 'साय रा नरसिम्हा रेड्डी' के एक सीन में साउथ इंडियन फिल्मों के सुपरस्टार चिरंजीवी.
फिल्म ‘साय रा नरसिम्हा रेड्डी’ के एक सीन में साउथ इंडियन फिल्मों के सुपरस्टार चिरंजीवी.

3) रिलीज़ से पहले क्या समस्या है?

समस्या ये है कि दोनों ही फिल्मों के प्रोड्यूसर्स चाहते हैं कि अधिकतर सिनमाघरो में उनकी फिल्में लगें. ताकि उनके हिस्से अधिक दर्शक और कमाई आए. इस चीज़ ने डिस्ट्रीब्यूटर्स के लिए मुश्किल खड़ी कर दी है. क्योंकि फिल्में रिलीज़ करना एक दिन का काम नहीं है. लोग इस बिज़नेस में अपनी ज़िंदगी निकाल देते हैं. ऐसे में प्रोड्यूसर्स ये धमकी दे रहे हैं कि जिन डिस्ट्रीब्यूटर्स ने उनकी फिल्में नहीं खरीदीं, वो आगे अपनी कोई फिल्म उन्हें नहीं बेचेंगे. आज तो ये बात ऋतिक और चिरंजीवी के बारे में है. लेकिन कल को जब मामला एक बड़ी और एक छोटी फिल्म के बीच फंसेगा, तो दिक्कत में फंसेंगे ये डिस्ट्रीब्यूटर्स.

फिल्म 'साय रा नरसिम्हा रेड्डी' के एक सीन में अमिताभ बच्चन. अमिताभ इस फिल्म में चिरंजीवी के किरदार के गुरु का रोल प्ले करेंगे.
फिल्म ‘साय रा नरसिम्हा रेड्डी’ के एक सीन में अमिताभ बच्चन. अमिताभ इस फिल्म में चिरंजीवी के किरदार के गुरु का रोल प्ले करेंगे.

4) दोनों फिल्मों से जुड़े लोगों का इस मसले पर क्या कहना है?

देखिए भीतर से तो दोनों ही ओर के लोग ये चाहते हैं कि ये फिल्में साथ में रिलीज़ न हों. क्योंकि इसमें थोड़ा-बहुत ही सही लेकिन नुकसान तो दोनों ही फिल्मों का है. ऐसे प्रोड्यूर्स के लेवल पर तो जो बात हो रही है, सो हो ही रही है, एक्टर्स भी तिकड़म भिड़ाने से बाज नहीं आ रहे हैं. ऋतिक रौशन जहां ‘सुपर 30’ के प्रमोशन के दौरान तेलुगू टीवी चैनल पर चिरंजीवी की तारीफ कर आए हैं, तो चिरंजीवी ने अपनी फिल्म का प्रमोशन आंध्र प्रदेश की बजाय मुंबई से शुरू किया है. साथ ही चिरंजीवी ने नॉर्थ इंडिया में अपनी फिल्म की चर्चा बढ़ाने के लिए प्रमोशनल इवेंट्स में अमिताभ बच्चन और रजनीकांत को भी साथ लाने की प्लानिंग की है. लेकिन ‘साय रा नरसिम्हा रेड्डी’ को हिंदी में रिलीज़ करने जा रहे फरहान अख्तर (एक्सेल फिल्म्स) ने कहा है कि हमें दो फिल्मों को एक ही दिन रिलीज़ करने से आगे के बारे में सोचना चाहिए. फरहान ने कहा कि हमें उम्मीद करनी चाहिए कि दो फिल्में एक दिन रिलीज़ हों और जनता दोनों ही फिल्मों को देखे.

ये तो हो गईं वो सारी लॉजिकल बातें, जो फिल्म की रिलीज़ से पहले की जा सकती थीं. ‘वॉर’ और ‘साय रा नरसिम्हा रेड्डी’, दोनों ही फिल्मों से बड़ा और बलवान है समय. और वही ये बताएगा कि कौन सी फिल्म कैसा परफॉर्म करती है. बाकी कॉन्टेंट इज़ किंग वाली कहावत तो आपने भी सुनी होगी. इसी लाइन को पगुराते हुए 2 अक्टूबर का इंतज़ार करें.


 वीडियो देखें: वॉर ट्रेलर- क्या ऋतिक रोशन और टाइगर श्रॉफ की ये फिल्म बॉलीवुड को बदलकर रख देगी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

फ़िल्म रिव्यूः भोंसले

मनोज बाजपेयी की ये अवॉर्ड विनिंग फिल्म कैसी है? और कहां देख सकते हैं?

जॉर्ज ऑरवेल का लिखा क्लासिक 'एनिमल फार्म', जिसने कुछ साल पहले शिल्पा शेट्‌टी की दुर्गति कर दी थी

यहां देखें इस पर बनी दो मजेदार फिल्में. हिंदी वालों के लिए ये कहानी हिंदी में.

फिल्म रिव्यू: बुलबुल

'परी' जैसी हटके हॉरर फिल्म देने वाली अनुष्का शर्मा का नया प्रॉडक्ट कैसा निकला?

फ़िल्म रिव्यूः गुलाबो सिताबो

विकी डोनर, अक्टूबर और पीकू की राइटर-डायरेक्टर टीम ये कॉमेडी फ़िल्म लेकर आई है.

फिल्म रिव्यू: चिंटू का बर्थडे

जैसे हम कई बार बातचीत में कह देते हैं कि 'ये दुनिया प्यार से ही जीती जा सकती है', उस बात को 'चिंटू का बर्थडे' काफी सीरियसली ले लेती है.

फ़िल्म रिव्यूः चोक्ड - पैसा बोलता है

आज, 5 जून को रिलीज़ हुई ये हिंदी फ़िल्म अनुराग कश्यप ने डायरेक्ट की है.

फिल्म रिव्यू- ईब आले ऊ

साधारण लोगों की असाधारण कहानी, जो बिलकुल किसी फिल्म जैसी नहीं लगती.

इललीगल- जस्टिस आउट ऑफ़ ऑर्डर: वेब सीरीज़ रिव्यू

कहानी का छोटे से छोटा किरदार भी इतनी ख़ूबसूरती से गढ़ा गया है कि बेवजह नहीं लगता.

बेताल: नेटफ्लिक्स वेब सीरीज़ रिव्यू

ये सीरीज़ अपने बारे में सबसे बड़ा स्पॉयलर देने से पहले स्पॉयलर अलर्ट भी नहीं लिखती.

पाताल लोक: वेब सीरीज़ रिव्यू

'वैसे तो ये शास्त्रों में लिखा हुआ है लेकिन मैंने वॉट्सऐप पे पढ़ा था.‘