Submit your post

Follow Us

'मुस्लिमों तुम पर्दे की गुलामी के खिलाफ क्यों नहीं निकलते?'

दो नेताओं ने विवादित बयान दिया. पश्चिम बंगाल के मालदा की सड़कों पर निकल आए ढाई लाख मुस्लिम. खूब आग लगाई. बवाल काटा. पर ये सभ्य लोगों के काम थोड़ी हैं. दी लल्लनटॉप ने भी खबर वाले दिन यही बात कही. अब लोग भी कह रहे हैं. फेसबुक पर मालदा वाले बवाल पर कुछ लोग जमकर लिख रहे हैं.

‘माई नेम इज खान’ में डायलॉग है. दुनिया में दो तरह के लोग होते हैं. अच्छे और बुरे. यानी अच्छे लोग अमन की बात करते हैं. और बुरे बस बुरा करते हैं. आंख के बदले आंख वाली सोच खत्म होनी चाहिए. बस तो पढ़िए तीन मुस्लिमों की इसी मुद्दे पर फेसबुक पोस्ट. जो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है. यहां हमारे मुस्लिम लिखने और उनकी पोस्ट लगाने के पीछे मकसद बस एक है. हर जगह दो तरह के लोग होते हैं. अच्छे और बुरे.
खान शकील की फेसबुक पोस्ट: तुम औरतों के सिर पर लटकी तलवार के खिलाफ क्यों नहीं निकलते?


शमीम अहमद की फेसबुक पोस्ट: तुम उनकी उम्मत का अपमान कैसे कर सकते हो?

 

मुबारक अली की फेसबुक पोस्ट: मेरी तरह खुदा का भी खाना खराब है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

फादर्स डे बेशक बीत गया लेकिन सेलेब्स के मैसेज अब भी आंखें भिगो देंगे

'आपका हाथ पकड़ना मिस करता हूं. आपको गले लगाना मिस करता हूं. स्कूटर पर आपके पीछे बैठना मिस करता हूं. आपके बारे में सब कुछ मिस करता हूं पापा.'

वो एक्टर जो लोगों को अंग्रेज़ लगता था, लेकिन था पक्का हिंदुस्तानी

जिसकी हिंदी, उर्दू और अंग्रेज़ी पर गज़ब की पकड़ थी.

भारत-चीन तनाव: PM मोदी के बयान पर भड़के पूर्व फौजी, कहा- वे मारते मारते कहां मरे?

पीएम ने कहा था न कोई हमारी सीमा में घुसा है न ही हमारी कोई पोस्ट किसी दूसरे के कब्जे में है.

'बुलबुल' ट्रेलर: देखकर लग रहा है ये बिल्कुल वैसी फिल्म है, जैसी एक हॉरर फिल्म होनी चाहिए

डर भी, रहस्य भी, रोमांच भी और सेंस भी. ऐसा लग रहा है कि फिल्म 'परी' से भी ज्यादा डरावनी होगी.

इस आदमी पर से भरोसा उसी दिन उठ गया था, जब इसने सनी देओल का जीजा बनकर उन्हें धोखा दिया था

परदे पर अब तक 182 बार मर चुका है ये एक्टर.

'गो कोरोना गो' वाले रामदास आठवले की कही आठ बातें, जिन्हें सुनकर दिमाग चकरा जाए

अब आठवले ने चायनीज फूड के बहिष्कार की बात कही है.

विदेशी मीडिया को क्यों लगता है कि भारत-चीन सीमा पर हालात बेकाबू हो सकते हैं?

सब जगह लद्दाख झड़प की चर्चा है.

वो 7 इंडियन एक्टर्स/सेलेब्रिटीज़, जिन्होंने आत्महत्या कर ली थी

इस लिस्ट में लीजेंड्स से लेकर स्टार्स सब शामिल हैं.

सुशांत सिंह राजपूत के 50 ख्वाब, जो उन्होंने पर्चियों में लिख रखे थे

उनके ख्वाबों की लिस्ट में उनके व्यक्तित्व का सार छुपा हुआ है.

डेथ से पहले इन 5 प्रोजेक्ट्स पर काम कर रहे थे सुशांत सिंह राजपूत

इनमें से एक फिल्म अगले कुछ दिनों में रिलीज़ होने वाली है, जो सुशांत के करियर की आखिरी फिल्म होगी.