Submit your post

Follow Us

पहली बार धरती पर किसी ने कमाए 200 बिलियन डॉलर, इसमें कितने बोरी आलू आएंगे, हम बताते हैं

बचपन में जब डक टेल्स कार्टून में अकंल स्क्रूज़ पैसों के समंदर में तैरता उतराता था तो लगता था कि कभी अपने पास भी इतना पैसा होगा कि उसमें लोटपोट हो सकें. खैर हम न सही, जेफ बेजोस ही सही. वही अपने अमेजन वाले. एक अनुमान के मुताबिक, अगर ऐसे ही कमाई होती रही तो बेजोस 2026 तक दुनिया के पहले ट्रिलेयनियर बन जाएंगे. हां ट्रिलेयनियर. अब मामला मिलेयनियर और बिलेयनियर से आगे निकल चुका है. फिलहाल जेफ की दौलत 200 बिलियन डॉलर को पार कर गई है. यह भी पहली बार हुआ है किसी शख्स के पास 200  बिलियन डॉलर हों. आप भी सिर खुजा रहे होंगे कि आखिर ये 200 बिलियन डॉलर होते कितना हैं. आइए आपको बताते हैं कि 200  बिलियन डॉलर से आप क्या-क्या कर सकते हैं.

ये 200 बिलियन होता कितना है
पहले इसका गणित समझिए. 1 बिलियन मतलब 1 के आगे 9 शून्य. 200 बिलियन मतलब 200 के आगे 9 शून्य. इस हिसाब से बना 200,00,00,00,000 मतबल 2 के आगे 11 शून्य. अगर अपने लाख-करोड़ के सिस्टम से गिना जाए तो 200 बिलियन मतलब 200 अरब डॉलर. अब इसको रुपए में भी समझ लें. अगर भारतीय करेंसी में बात करें तो जेफ बेजोस के पास इस समय तकरीबन 15 लाख करोड़ रुपये की दौलत है.

Sale(75)
जेफ बेजोस के पास इतनी दौलत है कि हिसाब लगाने में ही चकरा जाएंगे.

जेफ बेजोस के पास कितनी दौलत है

जेफ बेजोस दुनिया की सबसे बड़ी टेक कंपनियों में शुमार अमेजन के मालिक हैं. पिछले कई बरसों से वो धनकुबेरों की लिस्ट में टॉप पर बने हुए हैं. लेकिन उनकी दौलत अभी तक 200 बिलियन डॉलर नहीं पहुंची थी. असल में उनकी क्या किसी भी धनकुबेर की दौलत आज तक 200 बिलियन डॉलर के पार नहीं पहुंची थी. हाल ही में अमेजन कंपनी के शेयरों में उछाल आया और जेफ बेजोस की दौलत 200 बिलियन डॉलर को पार कर गई. यह इंसानी इतिहास में पहली बार हुआ है कि किसी की दौलत 200 बिलियन डॉलर के पार पहुंची है.

अब देख लिजिए कि 15 लाख करोड़ रुपए 2000 के नोटों में एकसाथ रखे कैसे दिखेंगे
अगर हम 2000 रुपए के नोटों के 6 फुट हाइट के इंसान की ऊंचाई जितने बंडल बनाएं तो 2 ट्रिलियन डॉलर या 147 लाख करोड़ रुपए रखने के लिए 3 फुटबॉल के मैदानों (लगभग 7 एकड़) के बराबर जगह की जरूरत होगी और नजारा कुछ ऐसा होगा.

Sale(76)
जेफ के पास इतनी दौलत है कि 2000 रुपए के नोटों की गड्डियों से फुटबॉल के कई मैदान भर जाएंगे.

इतने सारे पैसों का क्या-क्या कर सकते हैं

सबसे पहला ख्याल तो यही आता है कि नोटों को बिछा लें और उन पर सो जाएं. ये तो हुआ खाम ख्याल, अब बात प्रैक्टिकल ख्याल की तो आपको बतातें हैं 5 ऐसी बातें, जिनसे पता चलेगा कि जेफ बेजोस के पास कितनी बेशुमार दौलत है.

अगर देश होते तो लिस्ट में 63वें नंबर पर होते

दुनिया भर के देशों की अमीरी उनकी जीडीपी या सकल घरेलू उत्पाद से नापी जाती है. मतलब हर देशवासी कितना कमाता है, उसका कुल जमा होता है सकल घरेलू उत्पाद. अर्थशास्त्र की भाषा में इसे जीडीपी कहते हैं. दुनिया में टॉप 100 देशों में 60 देश ऐसे हैं, जिनकी जीडीपी ही 200 बिलियन डॉलर से ज्यादा है. मतलब अगर जेफ बेजोस एक देश होते तो वह इस लिस्ट में 63वें नंबर पर होते. फिलहाल बेजोस की दौलत ओमान की कुल जीडीपी के आसपास ही है. भारत का नंबर लिस्ट में पांचवां है और उसकी जीडीपी कुल 2.94 ट्रिलियन डॉलर है. अमेरिका 21.44 ट्रिलियन डॉलर की जीडीपी के साथ अव्वल नंबर पर है.

रोज 200 करोड़ खर्च करने पर भी खत्म नहीं होगी

अगर आपको इतनी दौलत दे दी जाए और आपकी उम्र 50 साल की बची हो, तब भी आप इतनी दौलत खर्च नहीं कर पाएंगे. आपको 50 साल तक रोज 200 करोड़ रुपए से भी ज्यादा का खर्चा करना पड़ेगा, तब भी कुछ दौलत आपके पास बच जाएगी. अगर कहीं आपने गलती से रकम को किसी बैंक में रख दिया तो फिर खर्च करना नामुमकिन हो जाएगा क्योंकि उसका ब्याज भी अरबों में आएगा, जिसे भी मूल के साथ मिलाकर खर्च करना होगा. इसलिए रोज के हिसाब से खर्चा भूल जाइए.

आसमान छूने लगेंगी नोटों की गड्डियां

ज्ञान बांटने वाली वेबसाइट कोरा (Quora) पर दिए गए एक अनुमान के मुताबिक, अगर 1000 डॉलर के नोटों की गड्डी में 200 बिलियन डॉलर को रखा जाए तो 120 मील तकरीबन 190 किलोमीटर की ऊंचाईं तक पहुंचेगी. आपकी सहूलियत के लिए बता दें कि दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट ऐवरेस्ट की ऊंचाई 8.848 किलोमीटर है. और समंदर की सबसे अधिक गहराई मैरियन ट्रेंच भी 11 किलोमीटर ही गहरा है. इस हिसाब से अगर धरती पर मौजूद सबसे गहरी जगह पर भी इनकी गड्डियां रखी गईं तो इनकी ऊंचाई सबसे ऊंची चोटी से भी ज्यादा होगी.

Sale(77)
200 बिलियन डॉलर को साथ रखने से आसमान छुएगा पैसों का अंबार

खरीद सकते हैं सारी आईपीएल टीमें

आईपीएल का दुनियाभर में भौकाल है लेकिन अगर आपके पास जेफ बेजोस की तरह 2 ट्रिलियन डॉलर की दौलत है तो उसके चिल्लर में ही सारी आईपीएल टीमें आ जाएंगी. 2019 में आईपीएल की कुल ब्रैंड वैल्यू 475 बिलियन डॉलर या तकरीबन 3500 करोड़ रुपए ही बैठेगी. कुल 15 लाख करोड़ रुपए के हिसाब से यह उनके लिए चिल्लर जैसा ही हुआ न.

अब ये भी जान लो आलू के कितने बोरे आएंगे

जब ये ट्रिलियन पुराण लिखने की बात आई तो हमारे ऑफिस के एक साथी ने चैलेंज कर दिया. बोले- आलू के कितने बोरे आ जाएंगे 2 ट्रिलियन में ये पता चले तो बात है, बाकी सब लफ्फाजी है. हमने भी चैलेंज मान लिया और लगाना शुरू किया गणित. हमने माना कि आलू के पैदावार वाले इलाके में 25 रुपए का कट्टा मतलब छोटी बोरी भर आलू मिल जाता है. सच बताएं, कैलकुलेटर छोटा पड़ गया, तो हमने कंप्यूटर खोला. उससे भी काम फंसने लगा तो साथ में रजिस्टर लेकर उसमें भी हिसाब लगाना शुरू किया. आधा घंटा बिंधे रहने के बाद पता चला कि पूरी दुनिया में कुल 37,68,26,967 मीट्रिक टन या 3,76,82,69,67,000 किलो आलू पैदा होता है. इनकी अगर बोरियां बनाई जाएं तो बनेंगी 37,68,26,96,700. हर बोरी की कीमत अगर 30 रुपए भी मान ली जाए तो हमें पता चला कि तकरीबन 11 लाख करोड़ रुपए खर्च करके ही सारी बोरियां खरीदी जा सकती हैं. इसके बाद भी उनके पास 4 लाख करोड़ रुपए बच जाते.

बाकी सबसे नेक काम तो जेफ बेजोस ये करें कि मोदी सरकार ने 5 ट्रिलियन डॉलर की जीडीपी बनाने का जो टारगेट रखा है, उसमें तकरीबन 2 ट्रिलियन डॉलर ही कम पड़ रहे हैं. वो अपने 200 बिलियन भी हमारे यहां इन्वेस्ट कर दें तो हमारा काम आसान हो जाएगा.

वीडियो – कॉलोनी में बच्चे खुदाई कर रहे थे, हाथ लगे 1100 साल पुराने सोने के सिक्के

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

वेब सीरीज़ रिव्यू- फ्लेश

एक बार इस सीरीज़ को देखना शुरू करने के बाद मजबूत क्लिफ हैंगर्स की वजह से इसे एक-दो एपिसोड के बाद बंद कर पाना मुश्किल हो जाता है.

फिल्म रिव्यू- क्लास ऑफ 83

एक खतरनाक मगर एंटरटेनिंग कॉप फिल्म.

बाबा बने बॉबी देओल की नई सीरीज़ 'आश्रम' से हिंदुओं की भावनाएं आहत हो रही हैं!

आज ट्रेलर आया और कुछ लोग ट्रेलर पर भड़क गए हैं.

करोड़ों का चूना लगाने वाले हर्षद मेहता पर बनी सीरीज़ का टीज़र उतना ही धांसू है, जितने उसके कारनामे थे

कद्दावर डायरेक्टर हंसल मेहता बनायेंगे ये वेब सीरीज़, सो लोगों की उम्मीदें आसमानी हो गई हैं.

फिल्म रिव्यू- खुदा हाफिज़

विद्युत जामवाल की पिछली फिल्मों से अलग मगर एक कॉमर्शियल बॉलीवुड फिल्म.

फ़िल्म रिव्यू: गुंजन सक्सेना - द कारगिल गर्ल

जाह्नवी कपूर और पंकज त्रिपाठी अभिनीत ये नई हिंदी फ़िल्म कैसी है? जानिए.

फिल्म रिव्यू: शकुंतला देवी

'शकुंतला देवी' को बहुत फिल्मी बता सकते हैं लेकिन ये नहीं कह सकते इसे देखकर एंटरटेन नहीं हुए.

फ़िल्म रिव्यूः रात अकेली है

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी और राधिका आप्टे अभिनीत ये पुलिस इनवेस्टिगेशन ड्रामा आज स्ट्रीम हुई है.

फिल्म रिव्यू- यारा

'हासिल' और 'पान सिंह तोमर' वाले तिग्मांशु धूलिया की नई फिल्म 'यारा' ज़ी5 पर स्ट्रीम होनी शुरू हो चुकी है.

फिल्म रिव्यू- दिल बेचारा

सुशांत के लिए सबसे बड़ा ट्रिब्यूट ये होगा कि 'दिल बेचारा' को उनकी आखिरी फिल्म की तरह नहीं, एक आम फिल्म की तरह देखा जाए.