Submit your post

Follow Us

बेंगलुरु की इस झील में कोई डूबेगा नहीं, पहले ही जल जाएगा!

अपने कभी पानी में आग लगते हुए देखी है. देखना चाहेंगे?

बेंगलुरु सिटी से 13 किलोमीटर दूर एक झील है, बेलंदुर. इसके पानी में आग लगी हुई है. फरवरी 2017 के बाद यह इस साल में दूसरी बार है कि लेक फिर से सुलग उठी है. इससे पहले अगस्त 2016 में भी लेक ने आग पकड़ ली थी. लेक की बीचों-बीच गहरा सफेद धुआं उठ रहा है.

क्यों सुलग रहा है पानी ?

130 साल पहले बनी ये झील बेंगलुरु शहर से बरसात के पानी की निकासी के लिए बनाई गई थी. बेंगलुरु शहर के पास दो झीलें हैं. बेलंदुर और वर्तुर. ये आपस में जुड़ी हुई हैं. वर्षा का पानी इन झीलों में संरक्षित होते हुए अंत में पिनाकनी नदी में चला जाता था. 1970 तक यह साफ पानी की झील हुआ करती थी. आसपास के 18 गांवों के लोग पीने के पानी के लिए इसी झील पर निर्भर हुआ करते थे. 1980 के बाद से इसमें सीवेज का पानी छोड़ा जाने लगा.

तीस साल के भीतर ही पानी लगभग तेज़ाब में तब्दील हो चुका है.

 

फाइल फोटो: बेलंदुर झील
फाइल फोटो: बेलंदुर झील

 

2013 में इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ साइंस ने यहां पर सर्वेक्षण किया था. इसमें पाया गया कि बेलंदुर और इसके आसपास के इलाके में फॉस्फोरस और अमोनियम की मात्रा खतरनाक स्तर से बहुत आगे निकल गई थी. आज बेलंदुर लेक में हर दिन 450 मिलियन लीटर (एमएलडी) सीवेज का पानी छोड़ा जा रहा है. इसमें से 200 एमएलडी पानी का ट्रीटमेंट किया जा रहा है. बाकी का 250 एमएलडी गंदा पानी झील को प्रदूषित कर रहा है. इसमें औद्योगिक कचरा भी शामिल है. इस वजह से झील रह-रह के आग पकड़ ले रही है.

इंडियन उपाय जुगाड़ू होते हैं, जो मामले को और खराब कर देते हैं

1996 में की बात है. झील के प्रदूषण का मामला ले कर स्थानीय ग्रामीण हाईकोर्ट पहुंच गए. उस समय हाईकोर्ट के आदेश के बाद वाटर ट्रीटमेंट प्लांट लगा था. लेकिन यह उपाय नाकाफी साबित हुआ है. 1997 में झील के किनारे रहने वाले 400 मछुआरों के परिवार मुख्यमंत्री के पास प्रदूषण के खिलाफ अर्जी लेकर पहुंचे. उनका कहना था कि लगातार प्रदूषण की वजह से मछली की पैदावार कम होती जा रही है. मुख्यमंत्री जे. एच. पटेल ने मामले को मछली पालन विभाग को सौंप दिया गया. विभाग ने फौरी राहत के लिए झील और आसपास के टैंक में मछली के बीज छितरा दिए. जैसी उम्मीद थी, नतीजा सिफर निकला.

 

फाइल फोटो: वर्तुर झील
फाइल फोटो: वर्तुर झील

 

फरवरी में लगी आग के बाद नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने स्वतः संज्ञान लेते हुए इस झील से जुड़ी हुई तमाम एजेंसीज को नोटिस भेजा है. अब सरकार ने इजराइल और यूके से एक्सपर्ट बुलाए हैं ताकि इस मसले का कोई हल खोजा जा सके. लेकिन ये बात समझने में काफी देर हो नहीं हो चुकी है.

ये भी पढ़ें:

नवाज़ की बेटी मरियम और जरदारी के बेटे बिलावल को एक बार जेल जाना चाहिए

इस आतंकवादी संगठन की वजह से एक मुस्लिम देश पाकिस्तान पर हमला करने वाला है!

वो गायक जिसने सिगरेट पीकर संगीतकार नौशाद के मुंह पर धुआं छोड़ दिया था

सच जान लो : हल्दीघाटी की लड़ाई हल्दीघाटी में हुई ही नहीं थी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

भारतीयों के हाथ में जो मोबाइल फोन हैं, उनमें चीन की कितनी हिस्सेदारी है

'बॉयकॉट चाइनीज प्रॉडक्ट्स' के ट्रेंड्स के बीच ये बातें जान लीजिए.

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 33 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

मधुबाला को खटका लगा हुआ था इस हीरोइन को दिलीप कुमार के साथ देखकर

एक्ट्रेस निम्मी के गुज़र जाने पर उनको याद करते हुए उनकी ज़िंदगी के कुछ किस्से

90000 डॉलर का कर्ज़ा उतारकर प्राइवेट जेट खरीद लिया था इस 'गैंबलर' ने

उस अमेरिकी सिंगर की अजीब दास्तां, जो बात करने के बजाए गाने में ज़्यादा कंफर्टेबल महसूस करता था

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020