The Lallantop
Logo
लल्लनटॉप का चैनलJOINकरें

बग्गा को ले जा रही थी पंजाब पुलिस, हरियाणा पुलिस ने रोका, दिल्ली पुलिस ने FIR कर दी

तेजिंदर बग्गा के खिलाफ आम आदमी पार्टी के नेता सनी सिंह ने मोहाली में शिकायत दर्ज की थी. इस शिकायत के आधार पर चार अप्रैल को पुलिस ने बग्गा के खिलाफ FIR भी दर्ज कर ली थी. बीच में दबिश देने पंजाब पुलिस दिल्ली भी आई थी, लेकिन दावा किया था कि बग्गा नहीं मिले.

post-main-image
बाएं से दाएं. BJP नेता Tajinder Bagga और हरियाणा के कुरुक्षेत्र में रोका गया Punjab Police का काफिला. (फोटो: सोशल मीडिया)

बीजेपी नेता तेजिंदर बग्गा की गिरफ्तारी पर लगातार बवाल बढ़ता जा रहा है. इस मामले में दो बड़े अपडेट आए हैं. पहला, बग्गा को दिल्ली से मोहाली लेकर जा रही पंजाब पुलिस को हरियाणा के कुरुक्षेत्र में रोक लिया गया है. दूसरा, दिल्ली पुलिस ने पंजाब पुलिस के ऊपर अपहरण की FIR दर्ज कर ली है. इधर तेजिंदर बग्गा को मोहाली की जिला अदालत में एक बजे पेश किया जाना है. लेकिन इस पूरे हंगामे के बीच बग्गा की पेशी को लेकर सवाल खड़े हो गए हैं.

कुमार विश्वास का ट्वीट

इधर इस पूरे मामले को लेकर बयानबाजी भी तेज हो गई है. आम आदमी पार्टी के नेता रहे कुमार विश्वास ने ट्वीट कर पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को हिदायत दी है. उन्होंने कहा,

"प्रिय छोटे भाई भगवंत मान. खुद्दार पंजाब ने 300 साल में, दिल्ली के किसी असुरक्षित तानाशाह को अपनी ताकत से कभी खेलने नहीं दिया. पंजाब ने तुम्हारी पगड़ी को ताज सौंपा है, किसी बौने दुर्योधन को नहीं. पंजाब के लोगों के टैक्स के पैसों और उनकी पुलिस का अपमान मत करो. पगड़ी संभाल जट्टा."

 

माना जा रहा है कि इस ट्वीट के जरिए कुमार विश्वास ने बिना नाम लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को असुरक्षित तानाशाह कहा है. इधर आम आदमी पार्टी की तरफ से कहा गया है कि तेजिंदर बग्गा अपने बयानों के जरिए लोगों को भड़काते हैं. बग्गा के ऊपर आरोप है कि उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया. साथ ही साथ समाज को धर्म और जाति के आधार पर बांटने की कोशिश की.

पुलिस ने पहले दी थी दबिश

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, तेजिंदर बग्गा के खिलाफ आम आदमी पार्टी के नेता सनी सिंह ने मोहाली में शिकायत दर्ज की थी. इस शिकायत के आधार पर चार अप्रैल को पुलिस ने बग्गा के खिलाफ FIR भी दर्ज कर ली थी. बीच में दबिश देने पंजाब पुलिस दिल्ली भी आई थी, लेकिन दावा किया था कि बग्गा नहीं मिले. बग्गा का जवाब आया था. कहा था कि पंजाब पुलिस ने उन्हें मामले की कोई सूचना नहीं दी थी. वो लखनऊ में बैठे हुए थे, ऐसा उन्होंने बताया. खबरों के मुताबिक, बग्गा ने केजरीवाल पर सत्ता के दुरुपयोग का भी आरोप लगाया था.

तेजिंदर पाल सिंह बग्गा के खिलाफ 153-ए (धर्म, जाति, स्थान आदि के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना), 505 (बयान, अफवाह या रिपोर्ट प्रकाशित या प्रसारित करना) और 506 (आपराधिक धमकी) जैसी धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था.