Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

बिटिया को सदमे से बचाने के लिए नेहरू ने नहीं की दूसरी शादी

6.09 K
शेयर्स

देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने आधुनिक भारत की नींव रखी. लेकिन उनका निजी जीवन भारी उथल-पुथल वाला रहा.

नेहरू की पत्नी कमला का देहांत 1936 में हो गया था. इसके बाद नेहरू का नाम कई महिलाओं से जोड़ा गया. इनमें देश के आखिरी वाइसरॉय की पत्नी एडविना माउंबेटेन भी थीं. वे दोस्त थे, करीब थे, ये बात सब जानते थे. लेकिन दावा किया जाता रहा कि उनके बीच दोस्ती से बढ़कर भी कुछ था. दावा तो यह भी है कि जिन्ना भी एडविना पर जान छिड़कते थे और तीनों के बीच ‘लव ट्राएंगल’ जैसा कुछ था.

Nehru edwina
एडविना संग नेहरू. फोटो: Henri Cartier-Bresson

एडविना के अलावा भारत की नाइटेंगेल कही जाने वाली सरोजिनी नायडू की बेटी पद्मजा नायडू से भी नेहरू के ‘खास’ रिश्ते रहे.

अपनी मां की मौत के बाद इंदिरा गांधी बहुत दुखी रहने लगी थीं. बताते हैं कि नेहरू ने पद्मजा से इसीलिए शादी नहीं की ताकि इंदिरा को और मानसिक कष्ट न हो. यह बात खुद नेहरू की बहन विजयलक्ष्मी पंडित ने इंदिरा की करीबी दोस्त पुपुल जयकर को बताई थी.

Nehru with Indira

पुपुल जयकर ने इंदिरा की बायोग्राफी में लिखा है, ‘मां की मौत के बाद उन्होंने इर्द-गिर्द ऐसा परदा खींच लिया जिसके पीछे वे अपना दर्द छिपा सकें और दुनिया से ओट ले सकें.’

पुपुल लिखती हैं,

‘आधी सदी बाद मैंने विजयलक्ष्मी पंडित से नेहरू और पद्मजा के संबंधों के बारे में पूछा. उनका जवाब था, ‘तुम्हें क्या पता नहीं पुपुल कि वे वर्षों तक साथ रहे?’ यह पूछने पर कि उन्होंने पद्मजा से शादी क्यों नहीं की, उन्होंने जवाब दिया, ‘उन्हें लगा कि इंदु पहले ही बहुत सदमा झेल चुकी है, वे उसे और चोट नहीं पहुंचाना चाहते थे.’

नेहरू ने बाद में पद्मजा को बंगाल का राज्यपाल बना दिया था. वैसे खुसफुसाहट तो यह भी है कि पद्मजा की तस्वीरें नेहरू के कमरे में पाई गई थी, जिन्हें इंदिरा ने निकालकर फेंक दिया था. इस बात को लेकर बाप-बेटी में तनाव भी हुआ था. पता नहीं, यह बात कितनी सच है.


ये स्टोरी ‘दी लल्लनटॉप’ के लिए कुलदीप सरदार ने की थी.


वीडियो देखें:

ये भी पढ़ लीजिए:

जब नेहरू जी को रहना पड़ा था मवेशियों के रहने की जगह पर

इस देश में महामना के सिद्धांतों की रक्षा डीजे नाइट कैंसिल करवा कर की जाती है!

गुजरात का वो मुख्यमंत्री जिसने इस पद पर पहुंचने के लिए एक ज्योतिषी की मदद ली थी

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Why Jawaharlal Nehru did not marry padmaja naidu?

गंदी बात

लेस्बियन पॉर्न देख जो आनंद लेते हैं, उन्हें 377 पर कोर्ट के फैसले से ऐतराज है

म्याऊं: संस्कृति के रखवालों के नाम संदेश.

कोर्ट के फैसले को हमें ऑपरा सुनते एंड्र्यू के कमरे तक ले जाना है

साढ़े 4 मिनट का ये सीक्वेंस आपके अंदर बसे होमोफ़ोबिया को मार सकता है.

राधिका आप्टे से प्रोड्यसूर ने पूछा 'हीरो के साथ सो लेंगी' और उन्होंने घुमाके दिया ये जवाब!

'बर्थडे गर्ल' राधिका अपनी पीढ़ी की सबसे ब्रेव एक्ट्रेसेज़ में से हैं.

'स्त्री': एक आकर्षक वेश्या जो पुरुषों को नग्न तो करती थी मगर उनका रेप नहीं करती

म्याऊं: क्यों 'स्त्री' एक ज़रूरी फिल्म है.

भारत के LGBTQ समुदाय को धारा 377 से नहीं, इसके सिर्फ़ एक शब्द से दिक्कत होनी चाहिए

सबकी फिंगर क्रॉस्ड हैं, सुप्रीमकोर्ट का एक फैसला शायद सब-कुछ बदल दे!

'पीरियड का खून बहाती' देवी से नहीं, मुझे उसे पूजने वालों से एक दिक्कत है

चार दिन का ये फेस्टिवल असम में आज से शुरू हो गया है.

शर्म आती है कि हम सलमान खान और कपिल शर्मा के दौर में जी रहे हैं

कपिल की कॉमेडी घटिया थी, मगर वो इतनी नीच हरकत करेंगे, ये न सोचा था.

हॉस्टल में खून लगा सैनेटरी पैड मिला, तो लड़कियों के कपड़े उतारकर चेक किया कि किसे पीरियड्स हैं

डॉक्टर हरि सिंह गौर यूनिवर्सिटी के रानी लक्ष्मीबाई गर्ल्स हॉस्टल की घटना है ये.

सौरभ से सवाल

एक्ट्रेस मंदाकिनी आज की डेट में कहां हैं?

मंदाकिनी जिन्हें 99 फीसदी भारतीय सिर्फ दो वजहों से याद करते हैं

दिव्या भारती की मौत कैसे हुई?

खिड़की पर बैठी दिव्या ने लिविंग रूम की तरफ मुड़कर देखा. और अपना एक हाथ खिड़की की चौखट को मजबूती से पकड़ने के लिए बढ़ाया.

सर, मेरा सवाल है कि एक्ट्रेस मीनाक्षी शेषाद्री आजकल कहां हैं. काफी सालों से उनका कोई पता नहीं.

‘दामिनी’ के जरिए नई ऊंचाई तक पहुंचा मीनाक्षी का करियर . फिर घातक के बाद 1996 में उन्होंने मुंबई फिल्म इंडस्ट्री को बाय बोल दिया.

ये KRK कौन है. हमेशा सुर्खियों में क्यों रहता है?

केआरके इंटरनेट एज का ऐसा प्रॉडक्ट हैं, जो हर दिन कुछ ऐसा नया गंधाता करना रचना चाहता है.

एक्ट्रेस किमी काटकर अब कहां हैं?

एडवेंचर ऑफ टॉर्जन की हिरोइन किमी काटकर अब ऑस्ट्रेलिया में हैं. सीधी सादी लाइफ बिना किसी एडवेंचर के

चाय बनाने को 'जैसे पापात्माओं को नर्क में उबाला जा रहा हो' कौन सी कहानी में कहा है?

बहुत समय पहले से बहुत समय बाद की बात है. इलाहाबाद में थे. जेब में थे रुपये 20. खरीदी हंस...

सर आजकल मुझे अजीब सा फील होता है क्या करूं?

खुड्डी पर बैठा था. ऊपर से हेलिकॉप्टर निकला. मुझे लगा. बाबा ने बांस गहरे बोए होते तो ऊंचे उगते.

ऑफिस के ड्युअल फेस लोगों के साथ कैसे मैनेज करें?

पर ध्यान रहे. आप इस केस को कैसे हैंडल कर रहे हैं, ये दफ्तर में किसी को पता न चले.

ललिता ने पूछा सौरभ से सवाल. मगर अधूरा. अब क्या करें

कुछ तो करना ही होगा गुरु. अधूरा भी तो एक तरह से पूरा है. जानो माजरा भीतर.

ऐसा क्या करें कि हम भी जेएनयू के कन्हैया लाल की तरह फेमस हो जाएं?

कोई भी जो किसी की तरह बना, कभी फेमस नहीं हो पाया. फेमस वही हुआ, जो अपनी तरह बना. सचिन गावस्कर नहीं बने. विराट सचिन नहीं बने. मोदी अटल नहीं बने और केजरीवाल अन्ना नहीं बने.