Submit your post

Follow Us

सेक्स रैकेट क्वीन सोनू पंजाबन, जिसे बच्ची से रेप केस में कोर्ट ने दोषी करार दिया है

सोनू पंजाबन, असली नाम गीता अरोड़ा. दिल्ली में सेक्स रैकेट की ‘क्वीन’ के नाम से जानी जाती है. उसे पहली बार किसी केस में दोषी करार दिया गया है. दिल्ली के द्वारका कोर्ट ने 16 जुलाई को सोनू को एक बच्ची का अपहरण, रेप और देह व्यापार के धंधे में धकेलने का दोषी पाया है. इस मामले में सोनू पंजाबन की गिरफ्तारी 2017 में हुई थी. तब से वह दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है. जनवरी 2018 में सोनू पंजाबन परोल पर बाहर आई थी, तब उस पर जानलेवा हमला भी हुआ था.

वैसे तो सोनू के ऊपर दिल्ली-NCR समेत देश के कई हिस्सों में, हत्या और देह व्यापार के कई केस दर्ज हैं, लेकिन दोष पहली बार सिद्ध हुआ है. जिस केस में सोनू दोषी पाई गई है, वो साल 2009 का है.

कौन-सा मामला है?

‘इंडिया टुडे’ के अरविंद कुमार ओझा की रिपोर्ट के मुताबिक, साल 2009 में दिल्ली के हर्ष विहार इलाके से 12 साल की एक बच्ची गायब हो गई थी. यही बच्ची पांच साल बाद नजफगढ़ थाने पहुंची, और पुलिस को अपनी पूरी कहानी बताई.

दरसअल, साल 2006 में इस बच्ची की दोस्ती संदीप नाम के एक आदमी से हुई थी. यही संदीप 2009 में उसे अपने साथ लेकर चला गया था. शादी करने के बहाने. दिल्ली के ही एक दूसरे इलाके लेकर गया, फिर रेप किया. उसके बाद बच्ची को अलग-अलग लोगों को दस बार बेचा. आखिर में बच्ची को सोनू पंजाबन के हवाले किया. सोनू ने बच्ची को देह व्यापार में धकेल दिया. बच्ची को नशे के इंजेक्शन दिए जाते थे. हरियाणा और पंजाब भी भेजा गया. बाद में सतपाल नाम के एक आदमी ने ज़बरन बच्ची से शादी कर ली. बच्ची किसी तरह उस आदमी के चंगुल से छूटकर भागी और नजफगढ़ थाने पहुंची.

केस दर्ज हुआ. पड़ताल शुरू हुई. मामला दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को सौंपा गया. डीसीपी भीष्म सिंह की टीम ने सोनू और संदीप को गिरफ्तार किया. और अब इसी केस में द्वारका कोर्ट ने सोनू और संदीप दोनों को दोषी करार दिया है.

Sonu Punjaban
सोनू पंजाबन के ऊपर हत्या और रेप के कई मामले दर्ज हैं. फोटो- अरविंद कुमार ओझा.

कौन है सोनू पंजाबन?

जिस्मफरोशी के धंधे में सोनू पंजाबन बड़ा नाम है. कई हिस्ट्रीशीटर्स से उसके करीबी संबंध रह चुके है. जिनमें से कुछेक तो पुलिस एनकाउंटर में मारे गए. 1980 में हरियाणा में पैदा हुई सोनू का असली नाम गीता अरोड़ा है. किसी तरह हाईस्कूल पास करने के बाद गीता ने ब्यूटी पार्लर खोल लिया. एक हिस्ट्रीशीटर से शादी हुई, लेकिन वो पुलिस मुठभेड़ में मारा गया. फिर पैसों की तंगी आ गई, जिसके बाद गीता कॉल गर्ल बन गई. फिर सोनू ब्रदर्स के कॉन्टैक्ट में आई- दीपक सोनू और हेमंत सोनू. दोनों ही दिल्ली-एनसीआर की क्राइम दुनिया का बड़ा नाम थे. दीपक से गीता ने शादी कर ली, लेकिन 2004 में दीपक का भी एनकाउंटर हो गया. फिर हेमंत से गीता की शादी हुई, ये शादी भी नहीं चल पाई, हेमंत भी 2006 में एनकाउंटर में मारा गया.

इसके बाद गीता ने अपना नाम सोनू रख लिया और नाम के आगे पंजाबन लगा लिया. फिर देह व्यापार का धंधा और फैलाया. मॉडल, कॉलेज की लड़कियों को इसमें शामिल किया. सेक्स रैकेट VVIP इलाकों में फैलते हुए दूसरे राज्यों तक पहुंच गया.

बॉलीवुड की ‘फुकरे’ फिल्म में ऋचा चड्ढा ने जिस भोली पंजाबन का रोल किया था, वो सोनू पंजाबन पर बेस्ड माना जाता है. फिल्म के आने के बाद सोनू ने ये आरोप भी लगाए थे कि उसका किरदार लिया गया और पैसे भी नहीं दिए गए.

सोनू पंजाबन के बारे में और भी कुछ जानना है तो इसे पढ़ें-

कहानी सेक्स रैकेट क्वीन सोनू पंजाबन की, जिसपर फ़िल्मी स्टाइल से जानलेवा हमला किया गया है


वीडियो देखें: नाबालिग बच्चियों को ‘हायर’ करके रेप करने का आरोपी श्रीनगर में पकड़ाया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

नॉलेज

COVID-19: क्वारंटीन सेंटर के भीतर का ये सीन देखकर आप उम्मीद से भर जाएंगे

जहां कोरोना से ज्यादा मजबूत है इंसानी हिम्मत और न हारने का जज्बा.

समलैंगिकता 'ठीक' करने के नाम पर शर्मिंदगी से भर देने वाली 'कन्वर्जन थेरेपी' क्या है

विदेश में भी इसे एक इलाज बताकर बेचा जाता है.

शुभम मिश्रा जैसे लड़कों से लड़कर कैसे जीतती हैं इंडिया की स्टैंड-अप कॉमिक लड़कियां?

जो पहले से ही एक ऐसे फील्ड में हैं जहां लड़कियां बेहद कम हैं

प्रवासी मजदूरों की लगातार मदद कर रही थीं, COVID-19 ने जान ले ली

पश्चिम बंगाल की सिविल सर्वेंट देबदत्ता रे की मौत.

आलिया भट्ट की बहन को मैसेज कर लोगों ने कहा, 'डिप्रेशन से मौत हो जाए, मां का रेप हो जाए'

शाहीन भट्ट ने ढेर सारे स्क्रीन शॉट्स लगाए हैं.

शादी की ये साइट गारंटी दे रही है कि इसपर मौजूद लड़के-लड़कियों ने कभी सेक्स नहीं किया?

आखिर 'वर्जिनिटी' के नाम पर ये हो क्या रहा है?

गुजरात: मंत्री के बेटे को नाइट कर्फ्यू का पालन न करने पर रोका, महिला कॉन्स्टेबल को इस्तीफा देना पड़ा

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल.

प्रभास-पूजा हेगड़े की 'राधे श्याम' का पोस्टर है तो उम्दा, लेकिन एक भयानक ब्लंडर कर दिया

इतने लोगों ने मिलकर बनाया होगा, ऐसी चूक कैसे हो गई?

गोवा के पूर्व मंत्री की COVID-19 से मौत हुई, तो बेटी ने PPE किट पहनकर मुखाग्नि दी

डॉक्टर सुरेश अमोनकर मनोहर पर्रिकर सरकार में स्वास्थ्य मंत्री थे.

जिस लड़की को एग्जाम दिलाने में केरल सरकार ने मदद की थी, वो गजब नंबर ले आई है

अकेली बच्ची को एग्जाम सेंटर पहुंचाया था.