Submit your post

Follow Us

RJD नेता शहाबुद्दीन ने कराई पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या?

सीवान में हिंदुस्तान न्यूज़पेपर  के ब्यूरो चीफ, राजदेव रंजन का 13 मई को मर्डर कर दिया गया था. इस केस में पुलिस ने अब तक चार लोगों को गिरफ्तार किया है. उनमें से एक उपेन्द्र सिंह, आरजेडी का एक्टिव कार्यकर्ता है. पुलिस का कहना है कि उपेन्द्र, शहाबुद्दीन का बहुत ख़ास रहा है. खुद शहाबुद्दीन तो जेल में बंद है लेकिन उपेन्द्र अभी भी उसके इशारों पर काम करता है.

जिस समय राजदेव को गोली मारी गयी थी, वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में सब रिकॉर्ड हुआ था. लेकिन अब उस कैमरे से 11 मई के बाद के सारे फुटेज गायब हैं. इस मामले में राधेश्याम नाम के एक इंजिनियर को भी अरेस्ट किया गया है. पुलिस का मानना है कि उसी ने कैमरा फुटेज के साथ छेड़छाड़ की है.

आखिर उस दिन हुआ क्या था:

पुलिस ने अपनी शुरुआती जांच पड़ताल की है. उसके आधार पर फ़िलहाल जो कहानी सामने आ रही है वो ये है:

-फ्राइडे शाम को राजदेव के पास एक फ़ोन आया था. जिससे वो कुछ परेशान हो गए थे.

-ऑफिस से घर जाने के लिए भी उन्होंने रोज़ वाला रास्ता ना ले कर एक अलग रास्ता चुना था.

-फ्लाईओवर के पास कुछ लोगो ने उनकी बाइक रोकी. फिर उनमे से एक ने उन पर गोलियां चला कर उनकी हत्या कर दी.

 

पिक्चर क्रेडिट: फेसबुक
   पिक्चर क्रेडिट: फेसबुक

उनकी पत्नी, आशा रंजन ने अपने पति के मर्डर के लिए शहाबुद्दीन को दोषी ठहराया है. उनका कहना है कि उनके पति का मर्डर शहबुदीन के कहने पर ही हुआ है.

 ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ से बातचीत में आशा ने बताया कि कुछ दिनों ने उनके पति राजदेव के पास उपेन्द्र के धमकी वाले फोन कॉल आते थे.  उपेन्द्र उन्हें शहाबुद्दीन के खिलाफ हर वक़्त कुछ न कुछ लिखते रहने की वजह से धमकी देता था. लेकिन राजदेव कभी इन धमकियों को सीरियसली नहीं लेते थे. वो सोचते थे कि ये तो उनके प्रोफेशन का हिस्सा ही है. 

रीसेंट थ्योरी:

सारण रेंज के डीजीपी अजीत राय के हिसाब से ये मर्डर और 2014 में हुआ श्रीकांत भारती का मर्डर काफी कुछ एक जैसे हैं.

दोनों मर्डर एक ही तरीके से एक ही जगह किये गए थे. श्रीकांत भारती सीवान के बीजेपी सांसद ओम प्रकाश यादव के प्रवक्ता थे. उनके परिवार ने उसी वक़्त खुला आरोप लगाया था कि उनका मर्डर शहाबुद्दीन के इशारे पर हुआ था. उस समय भी उपेन्द्र सिंह का नाम सामने आया था. लेकिन उस वक़्त उसके खिलाफ कोई एफआईआर भी दर्ज नहीं हुई थी.

शनिवार को आरजेडी के सांसद तस्लीमुद्दीन ने एक प्रेस कांफ्रेंस की. उसमे उन्होंने नीतीश कुमार पर इस मर्डर का भी आरोप लगाया. कहा कि इस ‘महाजंगलराज’ के लिए सिर्फ और सिर्फ नीतीश ज़िम्मेदार है. लालू का इससे कुछ भी लेना देना नहीं है. उन्होंने ये भी कहा शराब बंद करवा कर नीतीश खुद को बहुत हीरो समझ रहे हैं. अब वो पीएम बनना चाह रहे हैं. इस वजह से प्रदेश की हालत पर उनका कोई ध्यान नहीं है.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

कोरोना से ठीक होने के बाद कनिका कपूर ने हर वो बात लिखी है जो उनके फैंस उनसे जानना चाहते हैं

कनिका ने अस्पताल से डिस्चार्ज होने के 21 दिन बाद इंस्टाग्राम पर पोस्ट लिखा है.

CBI ने DHFL वाले वधावन ब्रदर्स को अरेस्ट किया, यस बैंक मामले में हैं आरोपी

पिछले दिनों कपिल और धीरज वधावन ने लॉकडाउन भी तोड़ा था.

पालघर मॉब लिंचिंग: टाटा इंस्टीट्यूट के दो प्रोफेसरों की फोटो गलत दावे के साथ की गई वायरल

आरोप लगाने वालों ने नाम किसी और का और फोटो किसी और का इस्तेमाल किया.

पश्चिम बंगाल में स्वास्थ्य सेवा विभाग के एडिशनल डायरेक्टर की कोरोना से मौत, पत्नी भी पॉजिटिव

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा- बलिदान हमारे दिलों में रहेगा.

चार दिन चले मुकाबलों में 19 टीमों को हराकर TSM Entity को मिला फाइनल ‘चिकन डिनर’

इंडिया टुडे PUBG लीग पूरी हुई. विनर को ढाई लाख रुपए का ईनाम.

तबलीगी जमात के 129 कोरोना मरीज ठीक हुए, दूसरों की मदद के लिए प्लाज़्मा देने को तैयार

जमात के कई सदस्य भविष्य में रिसर्च के लिए भी ब्लड सैंपल देने को तैयार.

कोरोना काल में कैसे चलाएं कूलर, पंखा और एसी, सरकार ने बताया

केंद्र सरकार ने गाइडलाइंस जारी की है.

एटा: घर में मिली थी 5 लाशें, पुलिस ने 24 घंटे में बताया किसने की हत्याएं

ट्विटर पर लोगों ने #ब्रह्महत्या #एटा_मांगे_न्याय हैशटैग चलाया था.

होमगार्ड से उठक-बैठक करवाने वाले अधिकारी के प्रमोशन पर बिहार सरकार क्या बोली

पिछले दिनों इस घटना का वीडियो वायरल हुआ था.

कोरोना: कौन सी चीज़ सभ्य समाज का सिंबल बनने वाली है? पीएम मोदी ने बताया

'मन की बात' में एक स्लोगन भी दिया- दो गज दूरी, बहुत ज़रूरी.