Submit your post

Follow Us

अमरीका वालों, तुम्हारी फ्लाइट में गायकवाड़ जी होते तो तुमको बताते

यूनाइटेड एयरलाइंस की एक फ्लाइट से बड़े ही बदतमीज़ी भरे तरीके से ज़बरदस्ती एक पैसेंजर को उतार दिया गया. वीडियो वायरल हो गया है और यूनाइटेड एयरलाइन की थू-थू हो रही है.

फ्लाइट उड़ने को तैयार थी. शिकागो से लुईविल के लिए. अचानक से कुछ अधिकारी चढ़े और बताया कि चार सीटें खाली करनी पड़ेंगी क्योंकि फ्लाइट के कुछ कर्मचारियों का जाना ज़रूरी था और फ्लाइट पूरी तरह से भर चुकी थी. ऐसे में कहा गया कि कोई अपनी रजामंदी से सीट छोड़ना चाहता हो तो बता दे. कोई राजी नहीं हुआ. फिर उंगली टेढ़ी की गई और 4 लोगों को सीट छोड़ने को कहा गया. एक डॉक्टर साहब थे. थोड़े उम्रदराज थे, ज़्यादा नहीं. उनसे जब कहा गया कि सीट छोड़ दें तो उन्होंने मन कर दिया. कहने लगे, “कल काम पे जाना है. डॉक्टर हूं. अगली फ्लाइट देर से मिलेगी और तब तक कम के लिए लेट हो जायेगा.” उंगली और टेढ़ी की गई. उंगली का चम्मच बना दिया गया और डॉक्टर साहब को जबरन प्लेन से उतारा गया. डॉक्टर बाबू चिल्लाते रहे, वो उतारने का काम करते रहे. डॉक्टर साहब चोटिल हो गए. उनके होंठों से खून बह रहा था लेकिन सेक्योरिटी वाले कर्मठ थे. डॉक्टर का खून शायद उनके ब्लड ग्रुप का नहीं था सो उन्होंने ध्यान नहीं दिया. प्लेन में वैसे पकड़ा जैसे डॉक्टर बाबू का बड्डे हो और उसे बर्थडे बम्प देने जा रहे हों. और प्लेन से नीचे उतार दिया. आस पास बैठी जनता मुर्दाबाद कर रही थी लेकिन क्या है कि उंगली एक बार टेढ़ी हो जाये तो घी निकल ही आता है.

ऐसी जगहों पर ठीक आदमी तो बस एक ही है. शिवसेना के एमपी गायकवाड़ साहेब. हो कोई माई-का-लाल जो उन्हें फ्लाइट में कुछ कह दे. सीधे चप्पल बरसेगी. वो भी 25 बार. अगला माफ़ी मांगेगा सो अलग. संसद में अपनी बहाली करवाएंगे सो अलग. पूरे प्रदेश में पोस्टर लगेंगे सो अलग. इंडियन्स का सही है. और अगर इंडियन राजनेता हो तो फिर कहने क्या. गायकवाड़ होते तो अभीक ब्रेकिंग न्यूज़ आ चुकी होती – “एक भी फ्लाइट उड़ने नहीं देंगे. उड़ी तो सद्दी पर से काट देंगे.” गायकवाड़ साहब फिर से फलाइट से जाने लगे हैं. सुने हैं कि उसी फ्लाइट से गए हैं जिसमें उनके साथ बुरा व्यवहार किया गया था. और यहीं से फिर एक कहावत ने जन्म लिया – गायकवाड़ साहब चौड़े से, बाकी सब घोड़े से. यानी गायकवाड़ साहब चौड़े में प्लेन से जायेंगे और बाकी सब घोड़ा-तांगा कर लें. देख लें जैसा भी हो.

आईपीएल की टीमों को चाहिए कि गायकवाड़ को अपनी टीम में ले लें. भले ही बारहवें प्लेयर के तौर पर लें लेकिन ले लें. मां लीजिये कि कोई टीम बाहर होती है और उसमें गायकवाड़ साहब हैं तो वो ऐसा कुछ अह सकते हैं, “बल्ला नहीं दूंगा अगर मेरी टीम को बाहर किया तो. गेंद भी मेरी है. नाली में डाल दूंगा.” बस, इतनी टेढ़ी उंगली तो काफी है. ज़्यादा टेढ़ी हो और नाखून बड़ा हो घाव हो सकता है.

खैर, ज़्यादा सटायर न पढ़ो. वीडियो देखो.


 ये भी पढ़ें: 

ये पाकिस्तानी बंदा कुलभूषण को फांसी के खिलाफ है और गाली खा रहा है

पाकिस्तानियों से निपटने का जो तरीका अभिजीत ने बताया, उसके पीछे कुछ और है

पाक में सजा-ए-मौत पाए कुलभूषण के परिवार के पास सिर्फ इन तस्वीरों का सहारा

ख़यालों में खोई थी न्यूज़ ऐंकर, अचानक आया कैमरा तो सुट्ट हो गई

क्या है कुलभूषण का सच, जिन्हें भारतीय जासूस बता पाकिस्तान ने सज़ा-ए-मौत दी

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लॉकडाउन के बीच इस कंपनी ने 600 लोगों को नौकरी से निकाल दिया?

स्थानीय विधायक ने मामले की शिकायत कर्नाटक सरकार और केंद्र सरकार से की है.

आयुष्मान कार्ड वालों की फ़्री कोरोना जांच होगी, लेकिन 2 करोड़ परिवार इस लिस्ट से ही ग़ायब!

क्या गड़बड़ी हुई गिनती में?

20 अप्रैल से कौन-कौन से लोग अपना काम-धंधा शुरू कर सकते हैं?

और खाने-पीने के सामान को लेकर सरकार ने क्या कहा?

लॉकडाउन के बीच ज़रूरी सामान भेजना है? बस एक कॉल पर हो जाएगा काम

रेलवे अधिकारियों ने शुरू की है 'सेतु' सर्विस.

सड़क पर मजदूरों संग खाना खाने वाले अर्थशास्त्री ने सरकार को कमाल का फॉर्मूला सुझाया है

कोरोना और लॉकडाउन ने मजदूर को कहीं का नहीं छोड़ा.

सरकार की नई गाइडलाइंस, जानिए किन इलाकों में, किन लोगों को लॉकडाउन से छूट

कोरोना से निपटने के लिए लॉकडाउन पहले ही बढ़ाया जा चुका है.

टेस्टिंग किट की बात पर राहुल गांधी ने भारत की तुलना किन देशों से की?

कहा, 'हम पूरे खेल में कहीं नहीं हैं.'

चीन से भारत के लिए चली टेस्टिंग किट की खेप अमरीका निकल गयी!

और अभी तक भारत में नहीं शुरू हो पाई मास टेस्टिंग.

कोरोना: मरीजों की खातिर बेड और लैब के लिए कितना तैयार है भारत, PM मोदी ने बताया

लॉकडाउन बढ़ाने के अलावा पीएम ने क्या-क्या कहा?

15 अप्रैल को लॉकडाउन-2 की जो गाइडलाइंस आनी हैं, उनमें क्या-क्या हो सकता है

पूरे देश में 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ चुका है.