Submit your post

Follow Us

यूपी: DIG होमगार्ड संजीव शुक्ला सस्पेंड, तबादला नीति पर सवाल उठाना पड़ा महंगा?

यूपी के झांसी में होमगार्ड के DIG संजीव शुक्ला को सस्पेंड कर दिया गया है. उन्होंने अफसरों के वॉट्सऐप ग्रुप पर अपने विभाग की तबादला नीति को लेकर कथित तौर पर कुछ सवाल उठाए थे. इसी के बाद उनके ऊपर अनुशासनात्मक कार्रवाई की गई है. होमगार्ड विभाग की ओर से इसे आचरण नियमावली के तहत हुई कार्रवाई बताया गया है.

वॉट्सऐप ग्रुप में मैसेज, फिर हुई बहस

11 जुलाई को होमगार्ड विभाग में कई कमांडेंट्स के ट्रांसफर हुए थे. ऐसे आरोप हैं कि इन तबादलों को लेकर वॉट्सऐप ग्रुप पर संजीव शुक्ला ने सवाल किए थे. उन्होंने ट्रांसफर नीति को गलत बताया था. आजतक संवाददाता संतोष शर्मा की रिपोर्ट के मुताबिक, संजीव शुक्ला की ओर से वॉट्सऐप ग्रुप पर भेजे गए मैसेज के बारे में बताया जाता है कि उसका 86 अफसरों ने समर्थन किया था, जबकि 11 अफसरों ने तबादलों को सही ठहराया था. इस ग्रुप में कुल 97 अफसर जुड़े हुए हैं.

Homeguardchat

संजीव शुक्ला के मैसेज के बाद ग्रुप में जमकर बहस हुई. सूत्रों ने दावा किया कि संजीव ने अपने मैसेज में लंबे वक्त से एक ही जगह पर जमे कमांडेंट और SSO पर सवाल उठाए थे. अमर उजाला की रिपोर्ट के मुताबिक, शुक्ला का कहना था कि इस सत्र में ना तो डीजी स्तर से तबादले किए गए हैं और ना ही शासन स्तर से. ऐसे में कई जिलों में तो 4 साल से भी अधिक समय से एक ही कमांडेंट तैनात हैं. शुक्ला ने ऐसे अधिकारियों के तबादले की मांग की थी.

आचरण नियमावली के तहत दोषी पाए गए

DIG शुक्ला ने होमगार्ड अधिकारियों को आधिकारिक वॉट्सऐप ग्रुप पर जो मैसेज शेयर किए थे, उसी के बाद विभाग ने कार्रवाई की. उन्हें आचरण नियमावली के तहत दोषी पाते हुए निलंबित कर दिया गया. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अपर मुख्य सचिव, होमगार्ड अनिल कुमार ने इस कार्रवाई की पुष्टि की. संजीव पर ये भी आरोप हैं कि उन्होंने अपने साथियों को भड़काने की कोशिश की. तबादलों को लेकर मीडिया से भी बातचीत कीॉ

होमगार्ड के लखनऊ मुख्यालय में तैनात डिप्टी कमांडेंट जनरल रणजीत सिंह ने फोन पर ‘दी लल्लनटॉप’ से बात की. उन्होंने पुष्टि करते हुए बताया कि DIG झांसी के निलंबन की कार्रवाई आचरण नियमावली के तहत की गई है. उन्होंने कहा,

“वैसे तो शासन ही इस पर कोई टिप्पणी कर सकता है लेकिन मैं अपनी ओर से केवल यही कहना चाहता हूं कि जिन अधिकारियों का ट्रांसफर किया गया था, उन्हें इससे कोई आपत्ति नहीं थी. दूसरी बात ये कि अगर किसी को कोई परेशानी है तो वह सीधे अपनी बात अपने अधिकारी के माध्यम से विभाग तक पहुंचा सकता है. विभाग उस पर उचित कार्रवाई करता है. लेकिन अगर कोई खुद को लोगों की आवाज उठाने वाला बताकर ट्रांसफर को गलत बताने लगे तो यह विभागीय आचरण नहीं है. ट्रांसफर-पोस्टिंग शासन के अधिकार क्षेत्र में होते हैं.”

बता दें कि संजीव शुक्ला करीब डेढ़ साल पहले तक अयोध्या में मंडलीय कमांडेंट (होमगार्ड) के पद पर तैनात थे. इसके बाद उनको DIG (होमगार्ड) के पद पर प्रमोट किया गया था और झांसी में तैनाती मिली थी. तब से वह झांसी में ही तैनात हैं.


वीडियो- अखिलेश यादव ने UP विधानसभा चुनाव से पहले BJP को घेरा और बोले- हम उनसे बड़े हिंदू हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

मृतक व्यक्ति पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप था.

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5G के रोल आउट को लेकर दिक्कतें चालू.

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

बीमा कंपनी गाड़ी चोरी या दुर्घटनाग्रस्त होने का बहाना बनाए तो ये आदेश दिखा देना.

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

दबी जुबान में क्या कह रही है पुलिस?

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.