Submit your post

Follow Us

सपा-बीएसपी गठबंधन पर मायावती ने जो कहा है, वो और कन्फ्यूज करने वाला है

3 मार्च की शाम तक पूरे देश का मीडिया पूर्वोत्तर के चुनावों की खबरें दिखा रहा था. त्रिपुरा में बीजेपी की ऐतिहासिक जीत से लेकर मेघालय और नागालैंड में सरकार बनाने की जोड़तोड़ की खबरें दिख रही थीं. पूरा सोशल मीडिया भी इन्हीं खबरों से भरा पड़ा था. अचानक से सोशल मीडिया पर यूपी के उपचुनाव की खबरें दिखने लगीं. फूलपुर और गोरखपुर में हो रहे उपचुनाव को लेकर सोशल मीडिया पर कहा जाने लगाा कि इस उपचुनाव में बीएसपी मुखिया मायावती ने समाजवादी पार्टी का समर्थन कर दिया है.

Untitled1

बहुजन समाज पार्टी नाम से एक ट्वीट भी कर दिया गया.

 4 मार्च की दोपहर को समाचार एसेंजी एएनआई के हवाले से खबर आई कि मायावती और अखिलेश 25 साल बाद साथ आ गए हैं. हर मीडिया प्लेटफॉर्म पर ये खबर आग की तरह फैलने लगी. सबसे पहले समर्थन की बात इलाहाबाद से उठी. बीएसपी से इलाहाबाद के जोनल कोऑर्डिनेटर अशोक गौतम के हवाले से एएनआई ने दावा किया कि बीएसपी ने फूलपुर के प्रत्याशी नागेंद्र सिंह पटेल को समर्थन देने का फैसला किया है.

इसके थोड़ी ही देर बाद गोरखपुर से भी ऐसी ही खबर आई. वहां के बीएसपी इन्चार्ज घनश्याम चंद्र खरवार के हवाले से कहा गया कि बीएसपी ने सपा प्रत्याशी प्रवीन कुमार निषाद को समर्थन देने का फैसला किया है.

जब तक पूरे देश की राजनीति में सपा और बीएसपी के एक साथ आने की बात उठती, राजधानी लखनऊ में मायावती ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का ऐलान कर दिया. 4 मार्च को जब पत्रकार मायावती की प्रेस कॉन्फ्रेंस में पहुंचे, तो उन्हें उम्मीद थी कि मायावती गठबंधन की औपचारिक घोषणा करेंगी. लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ. मायावती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और ऐसा कहा कि सभी लोग और भी कन्फ्यूज हो गए. पहले तो उन्होंने सपा और बसपा के गठबंधन को सिरे से खारिज कर दिया.

इसके बाद मायावती ने अपनी चुनावी रणनीति बताते हुए कहा कि भले ही इस उपचुनाव में बीएसपी ने कोई प्रत्याशी नहीं उतारा है, लेकिन बीएसपी के वोटर वोट तो देने जाएंगे. और पार्टी की ओर से उनसे बस इतना सा कहा गया है कि वो उसी प्रत्याशी को वोट देंगे, जो बीजेपी के प्रत्याशी को हरा सके.

मायावती की इस बात को भी लोग सपा और बीएसपी का गठजोड़ मान रहे हैं. लेकिन यहां एक बात और साफ कर देनी ज़रूरी है. फूलपुर हो या फिर गोरखपुर, दोनों ही जगहों पर कांग्रेस के उम्मीदवार भी मैदान में हैं. फूलपुर से कांग्रेस ने मनीष मिश्रा को उम्मीदवार बनाया है, तो वहीं गोरखपुर से डॉक्टर सुरहिता को कांग्रेस ने उम्मीदवार घोषित किया है. ऐसे में मायावती ने ये साफ नहीं किया है कि बीएसपी के वोटर सपा प्रत्याशी को वोट देंगे या फिर कांग्रेस प्रत्याशी को. राज्यसभा चुनाव के लिए कर सकते हैं वोट ट्रांसफर मायावती ने साफ किया है कि राज्य में जो राज्यसभा और विधानपरिषद के लिए चुनाव होने हैं, उसे जीतने के लिए बीएसपी के पास विधायक नहीं हैं. ऐसे में सपा के विधायक बीएसपी को और बीएसपी के विधायक सपा के प्रत्याशी को वोट देते हैं, तो इसे गठबंधन तो नहीं कहा जाएगा.

हालांकि मायावती ने ये भी कहा कि जब 2019 में लोकसभा के चुनाव होंगे, तो उस वक्त गठबंधन की बात की जाएगी. फिलहाल किसी तरह का गठबंधन नहीं है. इससे पहले समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव कई बार खुले मंच से बीएसपी के साथ गठबंधन की वकालत कर चुके हैं, लेकिन मायावती ने हर बार इस गठबंधन से इन्कार ही किया है.


ये भी पढ़ें:

कौन हैं कोनार्ड संगमा, जिन्होंने मेघालय में कांग्रेस को पटखनी दे दी

माणिक सरकार हार रहे थे, फिर बीजेपी ने बवाल किया और पासा उल्टा पड़ गया

कौन हैं हेमंत बिस्व सरमा जो पूर्वोत्तर में लगातार भाजपा को जिता रहे हैं

मेघालय में हारकर भी क्यों जीत गई बीजेपी?

वो आदमी, जिसने चलती ट्रेन में वोटर खोजे और त्रिपुरा में बीजेपी की जय-जय करवाई

त्रिपुरा में लाल सलाम को राम राम

मेघालय, जहां चुनाव दो पार्टियों के बीच नहीं दो संगमा के बीच था

नागालैंड में BJP को पूर्ण-बहुमत नहीं, लेकिन राम माधव सरकार बनवाने के लिए रवाना

वो लड़की जिसने पहले नीतीश को बिहार जितवाया और फिर बीजेपी को नॉर्थ-ईस्ट  

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

ऋषभ पंत की किस ग़लती से हार गई दिल्ली?

ऋषभ पंत की किस ग़लती से हार गई दिल्ली?

भुवनेश्वर ने भी मैच पलट दिया.

वॉर्नर ने राशिद से क्या कहा कि उन्होंने मैच जिता दिया?

वॉर्नर ने राशिद से क्या कहा कि उन्होंने मैच जिता दिया?

मैच के बाद क्यों भावुक हो गए राशिद खान?

नया यॉर्कर किंग, जिसने IPL नीलामी के पैसे से गांव में अकैडमी खोल दी

नया यॉर्कर किंग, जिसने IPL नीलामी के पैसे से गांव में अकैडमी खोल दी

कार की जगह बहनों की पढ़ाई की चिंता करने वाले टी नटराजन.

IPL 2020: वॉर्नर-बेयरस्टो को इतना तंग तो आईपीएल में किसी ने नहीं किया होगा

IPL 2020: वॉर्नर-बेयरस्टो को इतना तंग तो आईपीएल में किसी ने नहीं किया होगा

दिल्ली ने कमाल ही कर दिया.

जहां धोनी लगातार चूक रहे हैं, उसी फील्ड में ऋषभ पंत ने कमाल कर दिया

जहां धोनी लगातार चूक रहे हैं, उसी फील्ड में ऋषभ पंत ने कमाल कर दिया

इस बात पर पंत की तारीफ तो बनती है.

सुप्रीम कोर्ट ने महबूबा मुफ्ती की हिरासत को लेकर अबकी एकदम सीधा सवाल पूछ लिया!

सुप्रीम कोर्ट ने महबूबा मुफ्ती की हिरासत को लेकर अबकी एकदम सीधा सवाल पूछ लिया!

इल्तिज़ा मुफ्ती ने अपनी मां की हिरासत को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है.

हाथरस के कथित गैंगरेप केस में अब एसपी ने अलग ही बात कह दी है

हाथरस के कथित गैंगरेप केस में अब एसपी ने अलग ही बात कह दी है

इस केस को लेकर सोशल मीडिया पर कई तरह की बातें चल रही हैं.

बिहार के एक्टर की मुंबई में संदिग्ध हालत में मौत, लोग सुशांत राजपूत से जोड़कर देख रहे

बिहार के एक्टर की मुंबई में संदिग्ध हालत में मौत, लोग सुशांत राजपूत से जोड़कर देख रहे

पिता ने हत्या किए जाने का आरोप लगाया है.

सुशांत और दिशा केस में नाम घसीटे जाने के बाद अरबाज़ खान कोर्ट पहुंच गए

सुशांत और दिशा केस में नाम घसीटे जाने के बाद अरबाज़ खान कोर्ट पहुंच गए

पहले सलमान खान का नाम भी जोड़ा गया था.

पिछले 6 साल में 960 करोड़ रुपए के खराब हथियार खरीदे, इतने में 100 तोप आ जातीं: सेना की रिपोर्ट

पिछले 6 साल में 960 करोड़ रुपए के खराब हथियार खरीदे, इतने में 100 तोप आ जातीं: सेना की रिपोर्ट

हथियार बनाने वाली सरकारी कंपनी ने ही सेना के साथ खेल कर दिया.