Submit your post

Follow Us

SC/ST एक्ट : सुप्रीम कोर्ट ने सरकार के फैसले पर मुहर लगा दी है

SC/ST एक्ट में 2018 में किए गए संशोधन को चुनौती देने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को राहत दी है. SC/ST एक्ट में किसी के खिलाफ मामला दर्ज किया जाता है, तो उसकी तुरंत गिरफ्तारी का प्रावधान जारी रहेगा. कोर्ट ने कहा कि केस दर्ज करने से पहले प्राथमिक जांच ज़रूरी नहीं है. इसके साथ ही इस केस में अग्रिम जमानत का प्रावधान नहीं होगा.

अदालत ने कहा कि कुछ खास मामलों में कोर्ट FIR रद्द करने का आदेश दे सकता है.

# क्या है मामला?

अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) संशोधन कानून, 2018 पर सुप्रीम कोर्ट से केंद्र सरकार को बड़ी राहत मिली है. सुप्रीम कोर्ट ने SC-ST प्रताड़ना पर तुरंत गिरफ़्तारी के नियम को बदल दिया था. कोर्ट का कहना था कि पहले शिकायत की जांच होनी चाहिए. SC-ST एक्ट में संशोधन से लोग भड़के हुए थे. अब कोर्ट ने सरकार के पक्ष को सही ठहराया है.

जस्टिस अरुण मिश्र, जस्टिस विनीत शरण और जस्टिस रवीन्द्र भट्ट की बेंच ने एससी-एसटी संशोधन कानून को चुनौती देने वाली याचिकाओं को खारिज कर दिया है. अब एससी-एसटी संशोधन कानून के मुताबिक, शिकायत मिलने के बाद तुरंत एफआईआर दर्ज होगी और गिरफ्तारी हो सकेगी. कोर्ट में दायर याचिका में इस संशोधन को अवैध करार देने की मांग की गई थी.

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने तुरंत गिरफ्तारी पर रोक लगाने वाला फैसला दिया था. कोर्ट ने कहा था कि इस कानून के दुरुपयोग के बढ़ते मामलों के मद्देनजर शिकायतों की शुरुआती जांच के बाद ही पुलिस को कोई कदम उठाना चाहिए.

# 2018 में क्या कहा था कोर्ट ने

20 मार्च, 2018 को कोर्ट ने एससी-एसटी कानून के दुरुपयोग के मद्देनजर इसमें मिलने वाली शिकायतों को लेकर स्वत: एफआईआर और गिरफ्तारी के प्रावधान पर रोक लगा दी थी. इसके बाद संसद में कोर्ट के आदेश को पलटने के लिए कानून में संशोधन किया गया था. संशोधित कानून की वैधता को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई थी.

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद एससी-एसटी से जुड़े संगठनों ने 2 अप्रैल, 2018 को भारत बंद बुलाया था. इस दौरान 10 से ज्यादा राज्यों में हिंसक प्रदर्शन हुए और 14 लोगों की मौत हो गई थी.


वीडियो देखें:

दिल्ली: कौन से एग्ज़िट पोल किसकी सरकार बना रहे हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

U19 World Cup Final: जीतते-जीतते तीन विकेट से पांचवां वर्ल्ड कप हार गई टीम इंडिया

बांग्लादेश क्रिकेट के इतिहास में नया सूर्य उदय हुआ है.

राम मंदिर ट्रस्ट : ऐलान होते ही इन तीन लोगों ने अड़ंगा लगा दिया

किसको शामिल करने की बात कर रहे हैं ये तीन लोग?

CAA पर नाटक खेलने वाले नाबालिग बच्चों से पुलिस ने 5 बार पूछताछ करके बवाल फान लिया

लोगों ने पूछा, आरएसएस के लोगों को क्यों नहीं किया गिरफ्तार?

पाकिस्तान कह रहा था- भारत पानी नहीं दे रहा; भारत ने कहा- वॉटर टेररिज़्म मत शुरू करो!

मामला 60 साल पुरानी इंडस वॉटर ट्रीटी का है.

INDvNZ पहले वनडे की पहली पारी में इन प्लेयर्स ने लूटी महफिल

न्यूज़ीलैंड को 348 रनों का टारगेट मिला है.

शाहीन बाग में फायरिंग करने वाले कपिल की AAP के नेताओं के साथ तस्वीरें सामने आईं

कपिल के पिता भी आप के सदस्य हैं.

जामिया फायरिंग केस में नाबालिग को गन देने वाला आदमी पकड़ा गया

नाबालिग लड़के ने 30 जनवरी को जामिया में फायरिंग की थी.

रणजीत बच्चन मर्डर केस में पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गई है

साली से रेप का आरोप था, पुरानी रंजिश के मामले भी टटोल रही पुलिस.

यूपी : सरकारी मकान और शौचालय के लिए आदमी ने 23 बच्चों को बंधक बनाया, पुलिस कार्रवाई में मौत

बड्डे पार्टी में बुलाया और बंधक बना लिया.

अमित शाह का नाम लेते ही नीतीश कुमार और प्रशांत किशोर में कुट्टी हो गई

और पीके अब JDU से बाहर.