Submit your post

Follow Us

स्टीफन हॉकिंग नहीं रहे - मतलब मैंने जीते जी एक ब्लैक होल बनते देख लिया

हमने आइंस्टाइन को नहीं देखा. हमने न्यूटन को नहीं देखा. हमारी इस इंसानों की पीढ़ी ने हॉकिंग के साथ अपना वर्तमान साझा किया. ये हमारे लिए गौरव की बात रहेगी.

हमारी अब तक की दुनिया का सबसे बड़ा वैज्ञानिक अब नहीं है. वो ‘था’ हो गया – स्टीवन हॉकिंग.

ब्लैक होल थिअरी के लिए मशहूर वैज्ञानिक. 76 साल की उम्र में उनकी मौत हो गई. ये खबर उनके परिवार के मार्फत दुनिया को मिली. क्या हुआ, कैसे हुआ, अभी इसका ब्योरा नहीं मालूम.

हमारी पीढ़ी जिसने आइंस्टाइन और न्यूटन के बस किस्से पढ़े हैं, उसने हॉकिंग के साथ अपना वर्तमान साझा किया. इसे हमारी सबसे बड़ी उपलब्धियों में गिना जाना चाहिए.

SH - 1

मालूम बस ये है कि हॉकिंग के जाने से पूरी दुनिया को नुकसान हुआ है. वो जो उन्हें जानते हैं, उनको भी. जो उनको नहीं जानते, उनको भी. क्योंकि वो जिस प्रॉजेक्ट में अपने रात-दिन खर्च कर रहे थे, वो पूरा इंसानियत के लिए था. वो हम सबके लिए, हमारी आने वाली नस्लों के लिए कोई और जहां खोज रहे थे. कोई और ग्रह, जहां धरती जैसे हालात हों. उनका मानना था कि आने वाले 100 साल के अंदर ये दुनिया जीने लायक नहीं रहेगी.

ये ऐसी हो जाएगी कि अगर इंसान बस इसी धरती के भरोसे रहा, तो सारा जीवन खत्म हो जाएगा.

इसीलिए वो बहुत दूर, आकाशगंगाओं को पार करके एक ऐसा जहां खोज रहे थे, जहां इंसानों को बसाया जा सके. इसके लिए वो एक खास किस्म का अंतरिक्षयान बना रहे थे. जो हम इंसानों की बनाई किसी भी और चीज से ज्यादा तेज होगा. जो इतनी तेज रफ्तार से उड़ेगा कि कुछ घंटों में मंगल ग्रह को पीछे छोड़ देगा. और अंतरिक्ष में घूम-घूमकर ऐसा कोई ग्रह तलाशेगा, जिसे इंसानों का नया जहां बनाया जा सके. जहां जीवन संभव हो और वहां इंसानों को बसाया जा सके. इससे पहले कि उनकी ये तलाश पूरी होती, उनकी उम्र पूरी हो गई. वो अपने सफर पर निकल गए.


 ये भी पढ़ें:

स्टीफन हॉकिंग नहीं रहे, ये वक्त उनकी चेतावनी याद करने का है

वीडियो देखें:

वो वॉर फिल्म जिसमें आम लोग युद्ध से बचाकर अपने सैनिकों को घर लाते हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

फरीदाबाद में बीच सड़क युवक को हथौड़े-रॉड से पीट रहे थे, बचाने पहुंचे आदमी की हो रही तारीफ

फरीदाबाद में बीच सड़क युवक को हथौड़े-रॉड से पीट रहे थे, बचाने पहुंचे आदमी की हो रही तारीफ

घटना का वीडियो वायरल हो गया है

CDS जनरल बिपिन रावत नहीं रहे, हेलिकॉप्टर हादसे में पत्नी सहित 13 लोगों की मौत

CDS जनरल बिपिन रावत नहीं रहे, हेलिकॉप्टर हादसे में पत्नी सहित 13 लोगों की मौत

इंडियन एयरफोर्स ने दी जानकारी.

ICC टेस्ट रैंकिंग्स में मयंक अग्रवाल और एजाज़ पटेल ने मारी लंबी छलांग

ICC टेस्ट रैंकिंग्स में मयंक अग्रवाल और एजाज़ पटेल ने मारी लंबी छलांग

अश्विन को भी हुआ फायदा.

घायल बिपिन रावत को अस्पताल ले जाने का वीडियो सामने आया!

घायल बिपिन रावत को अस्पताल ले जाने का वीडियो सामने आया!

CDS जनरल बिपिन रावत की स्थिति के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है.

जड्डू-अक्षर ने बढ़ा दिया इंडियन सेलेक्टर्स का सरदर्द!

जड्डू-अक्षर ने बढ़ा दिया इंडियन सेलेक्टर्स का सरदर्द!

साउथ अफ्रीका टूर के लिए घोषित होनी है टीम.

6 साल पहले हेलिकॉप्टर क्रैश में बाल-बाल बचे थे बिपिन रावत

6 साल पहले हेलिकॉप्टर क्रैश में बाल-बाल बचे थे बिपिन रावत

तब लेफ्टिनेंट जनरल (Lt Gen.) के पद पर थे.

कमिंस की कप्तानी में स्टार्क ने कैसे कर ली 85 साल पुराने एशेज रिकॉर्ड की बराबरी?

कमिंस की कप्तानी में स्टार्क ने कैसे कर ली 85 साल पुराने एशेज रिकॉर्ड की बराबरी?

147 रन पर सिमटी इंग्लैंड की पारी.

विराट कोहली के कप्तानी छोड़ने पर सचिन और गावस्कर को क्यों खींच लाए रवि शास्त्री?

विराट कोहली के कप्तानी छोड़ने पर सचिन और गावस्कर को क्यों खींच लाए रवि शास्त्री?

शास्त्री ने इन तीनों पर क्या कहा?

Mi-17 - वायुसेना के सबसे भरोसेमंद हेलिकॉप्टर्स में से एक क्यों है?

Mi-17 - वायुसेना के सबसे भरोसेमंद हेलिकॉप्टर्स में से एक क्यों है?

सेना के इस अत्याधुनिक ट्रांसपोर्ट हेलिकॉप्टर में प्रधानमंत्री-राष्ट्रपति भी सफर करते हैं.

रघुराम राजन ने क्यों कहा, अर्थव्यवस्था में लौटी तेजी पर हल्ला न मचाएं

रघुराम राजन ने क्यों कहा, अर्थव्यवस्था में लौटी तेजी पर हल्ला न मचाएं

इंटरव्यू : V-शेप रिकवरी पर उठाए सवाल