Submit your post

Follow Us

गौतम गंभीर ने किसे दिया रोहित शर्मा के सफल करियर का श्रेय?

रोहित शर्मा. पहले लिमिटेड ओवर्स और अब टेस्ट क्रिकेट में टीम इंडिया के सॉलिड ओपनर. आज पूरी दुनिया में उनकी तूती बोलती है. लेकिन हमेशा से ऐसा नहीं था. करियर की शुरुआत में रोहित खूब ट्रोल हुए. साल 2007 में डेब्यू करने वाले रोहित कई साल बाद अपने प्रदर्शन से लोगों को लुभा पाए. अब के वक्त में रोहित दुनिया के बेस्ट बल्लेबाजों में से एक माने जाते हैं. पूर्व ओपनर गौतम गंभीर का कहना है कि उनकी इस सफलता का श्रेय पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को मिलना चाहिए.

साल 2007 में डेब्यू करने वाले रोहित को धोनी ने ही साल 2013 में ओपनर बनाया था. ओपनिंग शुरू करने के बाद उनका करियर पलट गया. आज रोहित वनडे क्रिकेट में तीन डबल सेंचुरी मारने वाले इकलौते प्लेयर हैं. रोहित ने बीते बरस हुए वर्ल्ड कप में पांच सेंचुरी भी मारी थीं. गंभीर का मानना है कि रोहित इतना सब इसीलिए कर पाए, क्योंकि धोनी ने उन्हें काफी सपोर्ट किया.

# धोनी का रोल

‘स्पोर्ट्स तक’ से बात करते हुए गंभीर ने कहा,

‘रोहित शर्मा आज जहां भी हैं, यह धोनी के चलते है. आप सेलेक्शन कमिटी और टीम मैनेजमेंट की बात कर सकते हैं, लेकिन अगर आपके पास अपने कप्तान का सपोर्ट नहीं है, तो यह सब बेकार है. सबकुछ कप्तान के हाथ में होता है. MS ने एक दौर में रोहित शर्मा को जिस तरह सपोर्ट किया, मुझे नहीं लगता है कि किसी भी प्लेयर को वैसा सपोर्ट मिला होगा.’

साल 2011 के वर्ल्ड कप विनर गौतम ने यह भी कहा कि रोहित शर्मा इस बात के अच्छे उदाहरण हैं कि अगर सीनियर्स मदद करें, तो एक प्लेयर का भाग्य कैसे बदल सकता है.

गंभीर ने कहा,

‘मुझे उम्मीद है कि आज की जेनरेशन के युवा क्रिकेटर, फिर चाहे वह शुभमन गिल हों या संजू सैमसन, उन्हें भी वैसा ही सपोर्ट मिले. अब जबकि रोहित सीनियर हैं, मैं उम्मीद करता हूं कि वह युवाओं को सपोर्ट करेंगे. रोहित इस बात के पक्के उदाहरण हैं कि कैसे अच्छे सपोर्ट से एक प्लेयर गज़ब का क्रिकेटर बन सकता है.

धोनी की एक बात बहुत अच्छी थी कि वह हमेशा रोहित को बातचीत में शामिल रखते थे, भले ही वह टीम में रहें या ना रहें, वह हमेशा से ग्रुप का हिस्सा थे. धोनी ने रोहित को कभी साइडलाइन नहीं होने दिया. मैं उम्मीद करता हूं कि विराट कोहली और रोहित शर्मा युवाओं को ठीक उसी तरह से आगे बढ़ाएंगे जैसे MS धोनी ने उनको बढ़ाया.’

धोनी और गंभीर की अदावत पर काफी बातें हुई हैं. गंभीर ने कई बार खुलकर धोनी को लताड़ा है. ऐसे में उनके द्वारा धोनी की तारीफ करना फैंस के लिए खुशी के साथ आश्चर्य की बात भी हो सकती है. लेकिन एक बात तय है- गंभीर ने बातें तो सही कही हैं.


ICC ने फैंस से पूछा- पीछे का कौन-सा मैच बदलना चाहोगे, फैंस ने दबे ज़ख़्म कुरेद दिए!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सूरत में प्रवासी मज़दूरों का सब्र फिर जवाब दे गया है

इस बार भी बीच में पुलिस ही पिस रही है.

यूपी : CM योगी के मृत पिता के बहाने लॉकडाउन में बद्रीनाथ-केदारनाथ जा रहे थे विधायक, पुलिस ने धर लिया

नौतनवा के विधायक अमनमणि त्रिपाठी का है मामला.

जानिए कौन हैं जम्मू कश्मीर के हंदवाड़ा में शहीद हुए पांच सुरक्षाकर्मी

सुरक्षाकर्मी आतंकियों के कब्जे से आम लोगों को निकालने के लिए गए थे.

दिल्ली में एक ही बिल्डिंग में मिले कोरोना के 58 पॉजिटिव मरीज

जिन्हें संक्रमण हुआ है वो लोग एक ही टॉयलेट इस्तेमाल करते थे.

कुलभूषण जाधव मामले में वकील हरीश साल्वे ने खोले पाकिस्तान के कई बड़े राज

भारतीय अधिवक्ता परिषद के ऑनलाइन लेक्चर में कई बातें बताईं.

लोकपाल मेंबर कोरोना पॉज़िटिव पाए गए थे, अब हार्ट अटैक से मौत हो गई

अप्रैल से एम्स में थे अजय कुमार त्रिपाठी.

लॉकडाउन: मां चूल्हे पर बर्तन में पत्थर पकाती जिससे बच्चों को लगे कि खाना बन रहा है

भूखे बच्चे इंतजार करते-करते सो जाते.

पालघर: लिंचिंग स्पॉट पर जा रही पुलिस की बस को 200 लोगों ने रोका था, मारे थे पत्थर

लिंचिंग वाली जगह से करीब 13 किमी दूर तीन घंटे तक रोक कर रखा था.

यूजीसी ने बताया, इन तारीखों को और इस तरह होंगे यूनिवर्सिटी के एग्जाम

जिन बच्चों के पेपर अटके हुए हैं, उनका साल बर्बाद न हो, इसकी पूरी व्यवस्था है.

आतंकियों को हथियार पहुंचाने में BJP का पूर्व नेता पकड़ाया, पार्टी ने कहा 'बैकग्राउंड पता नहीं था'

ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा #BJPwithTerrorists.