Submit your post

Follow Us

स्टम्प करने के चक्कर में रिषभ पंत ने ऐसा कर दिया कि ट्रोल हो गए

5
शेयर्स

हर बार ऐसा रिषभ पंत के साथ ही क्यों होता है, कुछ भी करने जाते हैं वही गलत होए जा रहा है. बल्ला पकड़कर रन बनाने उतरे तो वहां गलती, विकेट के पीछे स्टम्प करने जाएं तो वहां गलती. इस बार तो उन्होंने ऐसी गलती कर दी कि माफी का कोई सवाल ही नहीं.

बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे वनडे में भारत को विकेट चाहिए था. रोहित ने सही गेंदबाज़ लगाया, चहल ने सही गेंद कराई, बल्लेबाज़ ने गलत शॉट खेला. लेकिन फिर भी पंत ने सही स्टम्पिंग नहीं की.

जानें पंत ने ऐसा क्या किया कि लिटन दास आउट होकर भी आउट नहीं हुए: 

जी हां, पंत भइया ने स्टम्पिंग तो की लेकिन सही नहीं की, कभी सुने हैं ऐसा कि विकेटकीपर ने बिल्कुल तेज़ रफ्तार से गेंद को लपका, गिल्लियां उड़ा दी, बल्लेबाज़ भी लाइन से मीलों दूर था, फिर भी अंपायर ने नॉट आउट दे दिया. नहीं न, ऐसा तो सिर्फ पंत ही कर सकते हैं.

दरअसल मैच के दौरान बांग्लादेश की पारी का छठा ओवर था. भारत को अब भी पहला विकेट चाहिए था, चहल को रोहित ने गेंद थमाई.  ओवर की तीसरी ही गेंद पर स्टम्पिंग का मौका आया तो उन्होंने स्टम्पिंग के नियम का उल्लंघन कर दिया. पंत ने स्टम्प तो किया लेकिन गेंद कलेक्ट करते वक्त उनके गलव्स स्टम्प्स से आगे आ गए. जिसके बाद स्टम्पिंग करने पर भी अंपायर ने इस गेंद को नो बॉल करार देते हुए लिटन दास को नॉट-आउट दे दिया. दरअसल ये नियम 27.3.1 का उल्लंघन है. जिसमें जब भी कोई विकेटकीपर गेंद को कलेक्ट करेगा तो वो स्टम्स के पीछे पाया जाना चाहिए. लेकिन पंत तो आगे थे, यहीं कहानी में ट्विस्ट आ गया.

लेकिन ये तो बात रही मैदान की, मैदान पर तो रोहित-चहल समेत कोच को भी खूब गुस्सा आया. पर मैदान के बाहर जो हुआ वो तो अलग ही है. खैर धोनी के बाद से पंत पर सबकी निगाहें ऐसी जमीं हैं मानो कोई नया बंदा पहली बार आपके मोहल्ले से गुज़र रहा हो. हर मैच से पहले पंत को लेकर आंकलन और मैच के बाद उनकी आलोचनाओं का ज़िक्र ही ज़िक्र मिलता है. खैर वो आजकल कर भी कुछ ऐसा ही रहे हैं.

पंत ने इधर स्टम्प मिस क्या किया, सोशल मीडिया पर ट्रोल्स की बाढ़ आ गई. लोगों ने उन्हें जमकर ट्रोल करना शुरू कर दिया और ऐसा-ऐसा कहा कि आप खुद ही देख लीजिए.

हालांकि ये भी जान लीजिए बाद में पंत ने ही लिटन दास को 29 के स्कोर पर रन-आउट करके अपना बदला भी पूरा किया.

देखें पंत क्यों नहीं देखना चाहेंगे ट्विटर: 

एक ट्रोलर ने धोनी और पांड्या की तस्वीर शेयर करते हुए बताया धोनी और पंत की कीपिंग में क्या फर्क है.
एक ट्रोलर ने धोनी और पांड्या की तस्वीर शेयर करते हुए बताया धोनी और पंत की कीपिंग में क्या फर्क है.
एक ट्रोलर ने फिल्म धमाल की एक तस्वीर के साथ रिषभ पंत को ट्रोल किया.
एक ट्रोलर ने फिल्म धमाल की एक तस्वीर के साथ रिषभ पंत को ट्रोल किया.
सोशल मीडिया पर एक ट्रोलर ने मीरा कुमार की तस्वीर के साथ पंत को ट्रोल किया, लिखा 'कृपया आप रहने दीजिए'
सोशल मीडिया पर एक ट्रोलर ने मीरा कुमार की तस्वीर के साथ पंत को ट्रोल किया, लिखा ‘कृपया आप रहने दीजिए’

बांग्लादेश के खिलाफ पहले T20 में रोहित शर्मा ने तोड़े एमएस धोनी और विराट कोहली के रिकॉर्ड

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

नेहरु से इतना प्यार? मोदी अब बिना कांग्रेस के नेहरू का ख्याल रखेंगे

एक भी कांग्रेस का नेता नहीं. एक भी नहीं.

शरद पवार बोले- महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने से बचाना है, तो बस एक ही तरीका है

शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने की मिस्ट्री पर क्या कहा?

मोदी को क्लीन चिट न देने वाले चुनाव अधिकारी को फंसाने का तरीका खोज रही सरकार!

11 कंपनियों से सरकार ने कहा, कोई भी सबूत निकालकर लाओ

दफ़्तर में घुसकर महिला तहसीलदार पर पेट्रोल छिड़का, फिर आग लगाकर ज़िंदा जला दिया

इस सबके पीछे एक ज़मीन विवाद की वजह बताई जा रही है. जिसने आग लगाई, वो ख़ुद भी झुलसा.

दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच झड़प, गाड़ियां फूंकी

पुलिस और वकील इस झड़प की अलग-अलग कहानी बता रहे हैं.

US ने जारी किया विडियो, देखिए कैसे लादेन स्टाइल में किया गया बगदादी वाला ऑपरेशन

अमेरिका ने इस ऑपरेशन से जुड़े तीन विडियो जारी किए हैं.

लल्लनटॉप कहानी लिखिए और एक लाख रुपये का इनाम जीतिए

लल्लनटॉप कहानी कंपटीशन लौट आया है. आपका लल्लनटॉप अड्डे पर पहुंचने का वक्त आ गया है.

अमेठी: पुलिस हिरासत में आरोपी की मौत, 15 पुलिसवालों के खिलाफ केस दर्ज

मौत कैसे हुई? मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए गए हैं.

PMC खाताधारकों ने बीजेपी नेता को घेरा, तो पुलिस ने उन्हें बचाकर निकाला

RBI के साथ मीटिंग करने पहुंचे थे.

इस विदेशी सांसद को कश्मीर आने का न्योता दिया फिर कैंसल कर दिया, वजह हैरान करने वाली है

सांसद ने ऐसी शर्त रख दी थी कि विदेशी डेलिगेशन का हिस्सा नहीं बन पाए.