Submit your post

Follow Us

लॉकडाउन में ट्रैवल के बाद फैमिली पार्टी में शामिल होने वाली बीजेपी नेता की बहू कोरोना पॉजिटिव निकली

उत्तर प्रदेश का बहराइच जिला. यहां पुलिस ने 25 लोगों के खिलाफ लॉकडाउन के उल्लंघन के आरोप में FIR दर्ज की है. इसमें BJP नेता की बहू रजनी रूपानी का भी नाम है. आरोप है कि उन्होंने गाजियाबाद से आने के बाद पार्टी की. बाहर से आने की बात छिपाई और लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन किया.

पूरा मामला क्या है?

इस मामले की जानकारी के लिए हमने इंडिया टुडे से जुड़े राम बरन चौधरी से बात की. उन्होंने बताया कि रजनी रूपानी बहराइच नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया लाल रूपानी के दिवंगत भाई की बहू हैं. रजनी 7 फरवरी से अपने बेटे के पास गाज़ियाबाद में थीं. आंख का ऑपरेशन कराने के बाद 18 अप्रैल की शाम अपने पति के साथ बहराइच लौटीं. इसी दिन घर पर एक पार्टी रखी गई. इसमें 24-25 लोग शामिल हुए. 19 अप्रैल की सुबह रजनी और उनके पति को पुलिस टेस्ट कराने के लिए ले गई. 20 अप्रैल की शाम को रजनी अपने घर वापस आईं. 23 अप्रैल को उनकी जब रिपोर्ट आई, तब पता चला कि रजनी कोरोना पॉजिटिव पाईं गईं हैं.

पार्टी वाली बात कितनी सही?

रजनी के भतीजे नितिन रूपानी ने ‘दी लल्लनटॉप’ को बताया,

बड़ी मम्मी और बड़े पापा गाज़ियाबाद से 18 अप्रैल की शाम साढ़े सात बजे के करीब आए थे. उसी दिन मेरी मैरिज एनिवर्सरी थी. घर पर 22-23 लोग हैं. दो-ढाई महीने बाद बड़ी मम्मी आईं थीं, तो उसी खुशी में सब इकट्ठा हुए थे. सब घर के ही थे. कोई बाहर का नहीं था. दूसरे दिन 19 अप्रैल को पुलिस आई, तो हम सब सकपका गए कि पुलिस क्यों आई. फिर पुलिस ने कहा कि जो लोग बाहर से आए हैं, उन्हें बुलाओ. अब हम लोगों को ये नहीं पता कि पुलिस को कैसे पता चला. खैर, हमने बड़े पापा-बड़ी मम्मी को बुलाया. और पुलिस उन्हें अपने साथ टेस्ट के लिए ले गई. फिर 20 अप्रैल को मम्मी आईं. और 23 अप्रैल की रिपोर्ट के बाद हम सभी को बहराइच जिला अस्पताल में क्वारंटीन में रखा गया है. 

नितिन ने पार्टी करते हुए वायरल वीडियो पर भी बात की. उन्होंने बताया कि वायरल वीडियो 18 अप्रैल का नहीं, बल्कि पुराना है. इसमें उनके घर के सदस्य हैं लेकिन ये वीडियो उनके किसी रिलेटिव के यहां का है.

वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट, जिसे रजनी के भतीजे नितिन ने पुराना बताया है.
वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट, जिसे रजनी के भतीजे नितिन ने पुराना बताया है. इसमें बच्चे-बड़े सब मौज-मस्ती करते दिखाई दे रहे हैं.

पुलिस क्या कह रही है?

पुलिस का कहना है कि चूंकि घर में रजनी रहीं, और उसी घर में लोगों ने पार्टी की, सभी ने सरकार के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन किया, लॉकडाउन का पालन नहीं किया, इसलिए सब पर केस दर्ज किया गया है.

दर्ज FIR की कॉपी.

दर्ज FIR की कॉपी.

3

पुलिस ने बताया कि रजनी रूपानी का टेस्ट करवाया गया. वो कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं. उन्हें और पार्टी में शामिल सभी को 14 दिन के लिए क्वारंटीन में रखा गया गया है. पुलिस के मुताबिक, रजनी ने गाज़ियाबाद से आने की जानकारी पुलिस को नहीं दी. लॉकडाउन के दौरान पार्टी के लिए प्रशासन से कोई परमीशन नहीं ली, और न जानकारी दी. महामारी फैलाने और लॉकडाउन का उल्लंघन करने के खिलाफ केस दर्ज किया गया है.


वीडियो देखें : योगी सरकार ने हर तरह के पब्लिक गैदरिंग पर पाबंदी लगा दी है!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

भारत से तनाव के बीच चीन ने बांग्लादेश को एक झटके में 97 फीसदी का फायदा दे दिया है

चीन लगातार भारत के पड़ोसियों को अपने पाले में लाने की कोशिश कर रहा है.

फाइनली! शाहरुख की नई फिल्म कौन सी होगी, पता चल गया

शाहरुख आख़िरी बार आनंद एल राय की फिल्म 'ज़ीरो' में दिखे थे.

लद्दाख की गलवान घाटी पर चीन ने अपना दावा किया था, भारत ने करारा जवाब दिया है

विदेश मंत्रालय ने कहा, गलवान घाटी पर स्थिति ऐतिहासिक रूप से स्पष्ट है.

सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड: पुलिस ने यशराज फिल्म्स से जो मांगा था मिल गया है

पुलिस ने 15 लोगों के बयान दर्ज किए हैं.

अभय देओल ने इंस्टाग्राम पोस्ट लिखकर बॉलीवुड में गुटबाजी की कलई खोली है

अपनी फिल्म 'जिंदगी ना मिलेगी दोबारा' का उदाहरण दिया है.

दिल्ली के उपराज्यपाल ने 24 घंटे में बदला कोरोना मरीजों से जुड़ा अपना आदेश

दिल्ली सरकार ने एलजी के फैसले पर सवाल उठाए थे.

21 जून को दिखेगा साल का पहला सूर्यग्रहण, जानिए कहां-कहां दिखेगा 'रिंग ऑफ फायर'

भारत में कब और कहां-कहां दिखेगा?

सर्वदलीय बैठक में पीएम मोदी के दिए बयान से बवाल, PMO ने दी सफाई

PMO ने कहा कि पीएम के बयान की गलत व्याख्या की जा रही है.

जिस पुल पर चीन मुंह बिचका रहा था, उसे सेना ने 72 घंटे में बना डाला

16 जून से पुल बनाने का काम तेज हो गया था.

कूलर चलाने के लिए परिवार ने मरीज के वेंटिलेटर का प्लग हटा दिया, जान चली गई

कोरोना संक्रमण के संदेह में मरीज को अस्पताल में भर्ती किया गया था.