Submit your post

Follow Us

मीटिंग में मोदी से माफ़ी मांगते दिखे, अब केजरीवाल का ऑफिस क्या सफाई दे रहा?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों की शुक्रवार, 23 अप्रैल को बैठक हुई. बैठक का मुद्दा कोरोना के बिगड़ते हालात थे. इन राज्यों के मुख्यमंत्री मोदी के साथ ऑनलाइन जुड़े हुए थे. जैसे ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बोलने की बारी आई तो मीटिंग का लाइव टेलीकास्ट टीवी चैनलों पर चलने लगा. इस पर पीएम मोदी ने केजरीवाल को टोका. इस दिल्ली के सीएम ने खेद जताया और आगे से ध्यान रखने की बात कही.

केजरीवाल जब बोल रहे थे तो बीच में टोकते हुए पीएम मोदी ने कहा,

ये हमारी जो परंपरा है, हमारा जो प्रोटोकॉल है यह उसके बहुत खिलाफ हो रहा है कि कोई मुख्यमंत्री ऐसी इनहाउस मीटिंग को लाइव टेलिकास्ट करे. यह उचित नहीं है. हमें हमेशा से संयम का पालन करना चाहिए.

इस पर केजरीवाल ने माना कि उनसे गलती हो गई है. उन्होंने पीएम से कहा,

‘ठीक है सर इसका ध्यान रखेंगे आगे से. अगर सर मेरी तरफ से कोई गुस्ताखी हुई है, मैंने कुछ कठोर बोल दिया, या मेरे आचरण में कोई गलती है, तो उसके लिए मैं माफी चाहता हूं.’ अभी तक जितने प्रेजेंटेशन हुए, वो अच्छे थे. आपने जो हमें निर्देश दिए हैं उसका पालन करेंगे.

इस पूरे मामले को लेकर मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से सफाई भी आई है. सीएम ऑफिस का कहना है कि उन्हें कभी निर्देश नहीं दिया गया था कि संबोधन को लाइव नहीं किया जा सकता है. अगर इससे कोई दिक्कत हुई है तो वह अपनी ओर से खेद प्रकट करते हैं.

क्या कहा था दिल्ली के सीएम ने?

इससे पहले जब दिल्ली के मुख्यमंत्री की बारी आई तो उन्होंने मीटिंग में बोलना शुरू किया. कहा,

सर मैं हाथ जोड़कर आपसे प्रार्थना कर रहा हूं कि इस बढ़े हुए कोटे को दिल्ली में पहुंचाने के लिए हमारी मदद करें. एक एस्टिमेट के हिसाब से दिल्ली को 700 टन ऑक्सीजन की जरूरत है. आपने हमारा कोटा 480 टन कर दिया. लेकिन 480 टन में से भी 350 टन ऑक्सीजन ही दिल्ली पहुंच सका है. प्रधानमंत्री जी जब से ये संकट शुरू हुआ है, फोन बजते रहते हैं. अस्पातल शिकायत करते रहते हैं कि हमारे पास तीन घंटे का ऑक्सीजन बचा है, दो घंटे का ऑक्सीजन बचा है, कारण जानने की कोशिश करते हैं तो पता चला है कि दिल्ली के पीछे किसी राज्य ने हमारे ट्रक को रोक रखा है.

दिल्ली के सीएम ने आगे कहा-

हमने मदद के लिए कुछ मंत्रियों को फोन किए. शुरू में उन्होंने खूब सहयोग किया सर, लेकिन वो भी अब बेचारे थक गए हैं. देश के संसाधनों पर 130 करोड़ लोगों के अधिकार हैं. अगर दिल्ली में फैक्ट्री नहीं है तो क्या दिल्ली के दो करोड़ लोगों को ऑक्सीजन नहीं मिलेगी. जिस राज्य में फैक्ट्री है. क्या वो दिल्ली का ऑक्सीजन रोक सकते हैं. सर ऐसे में हम क्या करें.

सीएम ने कहा,

मैं ये जानना चाहता हूं कि अगर दिल्ली के किसी अस्पताल में एक घंटे, दो घंटे का ऑक्सीजन बचा हो तो मैं केंद्र में किससे बात करूं. कोई राज्य दिल्ली के के ऑक्सीजन का ट्रक रोक ले तो मैं किसे कॉल करूं. हालत बहुत गंभीर है. हम अपने लोगों को मरने के लिए नहीं छोड़ सकते. हमें अपने लोगों को यकीन दिलाना होगा कि एक-एक जिंदगी कीमती है. मैं आपसे हाथ जोड़कर अपील कर रहा हूं कि कठोर और सार्थक कदम नहीं उठाया गया तो दिल्ली के अंदर बहुत बड़ी त्रासदी हो सकती है.

मुख्यमंत्री ने पीएम से कहा कि अगर आप उन राज्यों के मुख्यमंत्रियों को एक फोन लगा दें तो वह बहुत होगा. मैं मुख्यमंत्री होते हुए भी कुछ नहीं कर पा रहा. ईश्वर न करे कि कुछ अनहोनी हो. हम कभी अपने आप को माफ नहीं कर पाएंगे. केजरीवाल ने कहा कि वैक्सीन बनाने वाली एक कंपनी ने अभी कहा है कि केंद्र सरकार को वैक्सीन 150 रुपए में एक और राज्यों का रेट 400 रुपए का होगा. एक ही देश में वैक्सीन के दो रेट कैसे हो सकते हैं? वैक्सीन का वन नेशन, वन रेट होना चाहिए.’ सारे देश को एक ही दाम पर वैक्सीन मिलनी चाहिए.


ट्विटर पर कोविड मरीजों के लिए बेड,ऑक्सीजन और जरूरी दवाइयां झट से ढूंढकर दे देगी ये वेबसाइट!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

तालिबान का समर्थन करने वाले भारतीय मुसलमानों को नसीरुद्दीन शाह ने तगड़ा पाठ पढ़ाया

तालिबान का समर्थन करने वाले भारतीय मुसलमानों को नसीरुद्दीन शाह ने तगड़ा पाठ पढ़ाया

सोशल मीडिया पर नसीरुद्दीन शाह का ये वीडियो वायरल है.

सिद्धार्थ शुक्ला की आखिरी सोशल मीडिया पोस्ट दिल दुखा देगी

सिद्धार्थ शुक्ला की आखिरी सोशल मीडिया पोस्ट दिल दुखा देगी

फ्रंटलाइन वारियर्स को ट्रिब्यूट देते हुए की थी सिड ने अंतिम पोस्ट.

WHO का अनुमान, कोविड-19 से यूरोप में अभी भी बहुत बड़ी संख्या में मौतें हो सकती हैं

WHO का अनुमान, कोविड-19 से यूरोप में अभी भी बहुत बड़ी संख्या में मौतें हो सकती हैं

कोरोना संक्रमण से होने वाली मौतों के मामले में यूरोप पहले ही सबसे आगे है.

किसानों पर लाठीचार्ज, सत्यपाल मलिक बोले- बिना खट्टर के इशारों पर ये नहीं हुआ होगा

किसानों पर लाठीचार्ज, सत्यपाल मलिक बोले- बिना खट्टर के इशारों पर ये नहीं हुआ होगा

मेघालय के राज्यपाल ने कहा-सीएम को किसानों से माफी मांगनी चाहिए.

उज्जैन में मुस्लिम युवक से हाथापाई, जबरदस्ती जय श्रीराम के नारे लगवाए

उज्जैन में मुस्लिम युवक से हाथापाई, जबरदस्ती जय श्रीराम के नारे लगवाए

बीजेपी ने कहा-ऐसे वीडियो कांग्रेस को ही क्यों मिलते हैं?

रेप के मामले में पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर पर क्या आरोप है कि यूपी पुलिस ने इस तरह धर लिया?

रेप के मामले में पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर पर क्या आरोप है कि यूपी पुलिस ने इस तरह धर लिया?

रेप का आरोप लगाने वाली महिला ने कुछ दिन पहले आत्मदाह कर लिया था.

डॉ. कफील खान को CAA पर 'भड़काऊ' भाषण देने के मामले में बहुत बड़ी राहत मिल गई है

डॉ. कफील खान को CAA पर 'भड़काऊ' भाषण देने के मामले में बहुत बड़ी राहत मिल गई है

डॉ. कफील खान ने कहा- भारतीय लोकतंत्र अमर रहे!

काबुल एयरपोर्ट के बाहर सीरियल ब्लास्ट में 12 US कमांडो समेत 100 से ज्यादा की मौत, IS ने ली जिम्मेदारी

काबुल एयरपोर्ट के बाहर सीरियल ब्लास्ट में 12 US कमांडो समेत 100 से ज्यादा की मौत, IS ने ली जिम्मेदारी

इन धमाकों में 143 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है.

इस लीक हुए डॉक्यूमेंट की मानें, तो कांग्रेस सोनू सूद को मुंबई का मेयर बनाना चाहती है!

इस लीक हुए डॉक्यूमेंट की मानें, तो कांग्रेस सोनू सूद को मुंबई का मेयर बनाना चाहती है!

बताया जा रहा है 25 पन्नों के इस कथित चुनाव रणनीति डॉक्यूमेंट को मुंबई कांग्रेस के सेक्रेटरी गणेश यादव ने तैयार किया है.

क्या एक केंद्रीय मंत्री को किसी राज्य की पुलिस गिरफ्तार कर सकती है?

क्या एक केंद्रीय मंत्री को किसी राज्य की पुलिस गिरफ्तार कर सकती है?

भारत के इतिहास में तीसरी बार केंद्रीय मंत्री को गिरफ्तार किया गया है. पहले दो कौन थे, जानते हैं?