Submit your post

Follow Us

उद्धव ठाकरे के मंत्री को घेरने वाले परमबीर सिंह कहीं खुद इस 'लेटर बम' का शिकार न हो जाएं!

मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर स्कॉर्पियो में विस्फोटक मिलने के बाद जो तूफान उठा, उसकी चपेट में सचिन वाझे ही नहीं, मुंबई के कमिश्नर रहे परमबीर सिंह और महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख तक आ चुके हैं. आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है. इसी बीच, परमबीर सिंह पर अंडरवर्ल्ड से कनेक्शन के आरोप सामने आए हैं. ये आरोप लगाए हैं मुंबई के ही पुलिस महकमे के एक शख्स ने.

इस शख्स का नाम है अनूप डांगे. अनूप पुलिस इंस्पेक्टर हैं, लेकिन सस्पेंडेड. टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अनूप डांगे ने 2 फरवरी को महाराष्ट्र के अतिरिक्त मुख्य सचिव को एक चिट्ठी लिखी. इसमें परमबीर सिंह पर गंभीर आरोप लगाए गए. उनके अंडरवर्ल्ड से कनेक्शन का भी दावा किया गया.

डांगे ने महाराष्ट्र सरकार को लिखी चिट्ठी

अनूप डांगे ने बताया कि मामला 22 नवंबर 2019 का है. टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, डांगे ने दावा किया कि मुंबई के ब्रीच कैंडी इलाके में वह एक बार को बंद कराने गए थे. वह बार रात में तय वक्त से ज्यादा देरी तक खुला था. डांगे का आरोप है कि पब के मालिक जितेंद्र नवलानी ने ये कहकर उन पर दबाव बनाया कि वह परमबीर सिंह का करीबी है. परमबीर सिंह उस वक्त महाराष्ट्र एंटी करप्शन ब्यूरो के डायरेक्टर जनरल थे.

Param Bir Singh
परमबीर सिंह पर आरोप लगाते हुए डांगे ने उस घटना का जिक्र भी किया जिसकी वजह से उन्हें सस्पेंड किया गया. (तस्वीर- पीटीआई)

अनूप डांगे ने आगे बताया कि 24 नवंबर 2019 की रात उसी इलाके में नामी फिल्म फाइनेंसर और बिजनेसमैन भरत शाह के पोते यश राजीव मेहता ने एक पुलिस कॉन्स्टेबल के साथ बदसलूकी की थी. इसके बाद डांगे ने मामले में FIR दर्ज की. फरवरी 2020 में परमबीर सिंह मुंबई के पुलिस आयुक्त बने. डांगे का आरोप है कि परमबीर सिंह ने कुर्सी संभालते ही नवलानी मामले में कोई चार्जशीट दायर न करने का आदेश दिया.

शार्दूल सिंह ब्यास का एंगल

इस कहानी में एक और एंगल है. शार्दूल सिंह ब्यास. शार्दूल खुद को परमबीर सिंह का कजन बताता है. अब उसकी कहानी समझते हैं. असल में फिल्म प्रोड्यूसर भरत शाह के साथ भी नवलानी की जान-पहचान थी. डांगे ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया कि परमबीर सिंह ने भरत शाह के करीबी होने के चलते नवलानी (बार का मालिक) से मुलाकात की थी. ये मुलाकात मरीन ड्राइव पुलिस स्टेशन के सामने मोती महल बिल्डिंग की पहली मंजिल के एक प्राइवेट फ्लैट में हुई. उस फ्लैट को शार्दुल सिंह ब्यास ने किराए पर ले रखा था. डांगे के मुताबिक, नवलानी चार्जशीट से अपना नाम हटवाना और डांगे को सबक सिखाना चाहता था. डांगे का आरोप है कि शार्दूल सिंह ने उससे कहा था कि पनिशमेंट पोस्टिंग से बचना है तो 50 लाख रुपये दे दो. इसके बाद जुलाई 2020 में डांगे को सस्पेंड कर दिया गया. डांगे का ये भी आरोप है कि  शार्दूल सिंह ने उसकी फिर से बहाली करवाने के लिए 2 करोड़ रुपये की मांग की.

अंडरवर्ल्ड से परमबीर का कनेक्शन?

डांगे यहीं पर नहीं रुके, उन्होंने परमबीर सिंह का कनेक्शन और कई लोगों से भी जोड़ा. अनूप डांगे ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया कि परमबीर सिंह और नवलानी की वाधवा ब्रदर्स और दीवान ब्रदर्स के साथ भी करीबी जान-पहचान है. इन्हें ईडी ने अंडरवर्ल्ड डॉन इकबाल मिर्ची से संबंधित मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में गिरफ्तार किया था. डांगे ने आरोप लगाया है कि हाई रैंकिंग पुलिस ऑफिसर्स और बिजनेसमैन के बीच बड़ी-बड़ी डीलिंग के लिए नवलानी एक बिचौलिये के तौर पर काम करता था. परमबीर सिंह ने नवलानी, भरत शाह और यश राजीव मेहता को कानून से बचाने की साजिश रची थी.

 

Dange Letter Parmbir Singh Mumbai
मुंबई पुलिस के सस्पेंड इंस्पेक्टर अनूप डांगे ने महाराष्ट्र सरकार को चिट्ठी लिखकर पूर्व डीजीपी परमबीर सिंह पर गंभीर आरोप लगाए हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, डांगे ने बताया कि उन्होंने महाराष्ट्र के सीएम और गृहमंत्री को भी चिट्ठी लिखी थी. लेकिन कोई जवाब नहीं आया. डांगे की मांग है कि इसकी जांच किसी सीनियर आईएएस अधिकारी से करवाई जानी चाहिए.

हालांकि परमबीर सिंह ने इन सब आरोपों को निराधार बताया है. हालांकि उन्होंने कोर्ट में मामला होने का हवाला देते हुए इस मामले में और कुछ भी कहने से मना कर दिया.

परमबीर का चिट्ठी बम

मुकेश अंबानी के घर के पास विस्फोटक मिलने के मामले में पुलिस अधिकारी सचिन वाझे की गिरफ्तारी होने के बाद मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह पर भी सवाल उठे हैं. इसके बाद महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने 17 मार्च को ट्विटर पर बताया था कि परमबीर सिंह को कमिश्नर पद से हटाकर होमगार्ड का डीजी बनाया गया है. इसके बाद परमबीर सिंह ने 20 मार्च को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नाम एक चिट्ठी लिखी. चिट्ठी में आरोप लगाया कि गृह मंत्री अनिल देशमुख पिछले कई महीने से मुंबई पुलिस के तमाम वरिष्ठ अधिकारियों को बुलाकर हर महीने 100 करोड़ रुपये इकट्ठा करने के लिए कह रहे थे. चिट्ठी के बाद से ही विपक्षी पार्टी बीजेपी अनिल देशमुख और उद्धव ठाकरे पर हमले बोल रहे हैं. हालांकि महाराष्ट्र सरकार में शामिल एनसीपी अपने मंत्री अनिल देशमुख के साथ खड़ी दिख रही है. 22 मार्च सोमवार को परमबीर सिंह मामले की सीबीआई जांच कराने का मांग लेकर सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए.


वीडियो – मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र में क्या-क्या लिखा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

कोरोना वैक्सीन को लेकर PM मोदी के ख़िलाफ़ लगे पोस्टर मामले में नई बात पता चली है!

कोरोना वैक्सीन को लेकर PM मोदी के ख़िलाफ़ लगे पोस्टर मामले में नई बात पता चली है!

25 लोग गिरफ्तार, 21 FIR दर्ज.

इज़रायल ने गाजा की जिस बिल्डिंग को तबाह कर दिया, वहां से निकले पत्रकारों ने क्या बताया?

इज़रायल ने गाजा की जिस बिल्डिंग को तबाह कर दिया, वहां से निकले पत्रकारों ने क्या बताया?

इसी बिल्डिंग में अल जजीरा और AP के ऑफिस थे.

मोहन भागवत ने बताया, किसकी वजह से कोरोना की दूसरी लहर में हालात इतने बिगड़े

मोहन भागवत ने बताया, किसकी वजह से कोरोना की दूसरी लहर में हालात इतने बिगड़े

बोले- मन को पॉज़िटिव रखें, शरीर को कोरोना निगेटिव.

स्टेडियम में बेची जा रही थी रेमडेसिविर, एक अफवाह फैली और लोग सोशल डिस्टेंसिंग भूल गए

स्टेडियम में बेची जा रही थी रेमडेसिविर, एक अफवाह फैली और लोग सोशल डिस्टेंसिंग भूल गए

मामला तमिलनाडु के चेन्नई का है.

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पंजाब में नए जिले की घोषणा की, सीएम योगी भड़क गए!

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पंजाब में नए जिले की घोषणा की, सीएम योगी भड़क गए!

ट्वीट कर कांग्रेस पर ये आरोप मढ़ दिए.

कोरोना पर हुई मीटिंग तो वेंटिलेटर्स पर क्या बोल पड़े PM मोदी?

कोरोना पर हुई मीटिंग तो वेंटिलेटर्स पर क्या बोल पड़े PM मोदी?

गांवों में बढ़ते कोरोना के मामलों पर निर्देश दिए हैं.

Cyclone Tauktae: केरल में भारी बारिश से कई मकान क्षतिग्रस्त, लोगों को राहत शिविरों में भेजा गया

Cyclone Tauktae: केरल में भारी बारिश से कई मकान क्षतिग्रस्त, लोगों को राहत शिविरों में भेजा गया

NDRF की 100 टीमें तैनात.

मिजोरम के कोरोना संक्रमित मंत्री इलाज करा रहे अस्पताल में पोछा लगाने लगे, फोटो वायरल

मिजोरम के कोरोना संक्रमित मंत्री इलाज करा रहे अस्पताल में पोछा लगाने लगे, फोटो वायरल

"सादगी तो हमारी ज़रा देखिए.."

N95 मास्क 22 रुपए में, तीन लेयर वाला मास्क 3.90 रुपये का, इस राज्य ने फिक्स किए रेट

N95 मास्क 22 रुपए में, तीन लेयर वाला मास्क 3.90 रुपये का, इस राज्य ने फिक्स किए रेट

क्या अब बाकी राज्य भी ऐसा कदम उठाएंगे?

कोविड काल में रिलीज़ हुई सलमान खान की ‘राधे’ का क्या हाल हुआ?

कोविड काल में रिलीज़ हुई सलमान खान की ‘राधे’ का क्या हाल हुआ?

क्या भाई को जनता अब भी ‘मोस्ट वांटेड’ मानती है?