Submit your post

Follow Us

जिस पुलिसवाले ने डूबने से बचाया, कुछ देर बाद उसी ने ओवर स्पीड का चालान भी काटा

232
शेयर्स

मुंबई. दिन-रात जागने वाला शहर. सपनों का शहर. इसे स्वप्न-भूमि क्यों कहते हैं? क्योंकि यहां लोग बड़े-बड़े सपने लेकर जाते हैं. हालांकि गुड़गांव में भी रहने वालों के सपने छोटे नहीं होते. लेकिन गुड़गांव को सपनों का शहर नहीं कहा जाता. किसी शहर को सपनों का शहर उसकी इमारतें और सड़कें नहीं बनातीं. लोग बनाते हैं. चाय बेचने वाले से लेकर पुलिसवाले तक. असल में यही होते हैं असली शहर.

एक सपना कमोबेश हर भारतीय देखता होगा. इंसानियत का सपना. वर्दी को अपना फ़र्ज़ निभाते देखने का सपना. वर्दी चाहे चपरासी के जिस्म पर हो या पुलिस वाले के. सबको अपनी ड्यूटी क़ायदे से निभाते देखना भी एक सपना ही है. और ये सपना भी पूरा हुआ है सपनों के शहर में. मुंबई में.

# हुआ क्या

मुंबई में समंदर किनारे नीलेश जाधव नाम का एक पुलिस कॉन्स्टेबल अपनी गश्त पर था. अचानक उनके वायरलेस पर ख़बर आई कि एक आदमी समंदर में डूब रहा है. वर्सोवा घाट (बीच) की बात है. पुलिस वाला दनदनाता हुआ पहुंचा घाट पर. आव देखा ना ताव, छलांग लगा दी पानी में. ना किसी की मदद का इंतज़ार किया, ना चीख पुकार मचाई. वर्दी में ही सिपाही पानी में कूदा और आदमी को बचा लाया.

ये जिस आदमी को बचाया गया इसका नाम है रिशु चोपड़ा. गुड़गांव का रहने वाला रिशु अपने एक दोस्त सौरव आनंद के साथ पहली बार मुंबई आया था. गुड़गांव में शेयर ब्रोकर है रिशु. शेयर मार्केट में दलाली वाला काम है. मुंबई आए तो सोचा समंदर भी चला जाए. वहां गए तो ज़्यादा भीतर तक निकल लिए.

अब आप कहेंगे कि अच्छी बात है. ख़बर यहां समाप्त हुई. टाटा-बाय.

#लेकिन ख़बर यहां से शुरू है

जी हां. काम इस पुलिस के सिपाही ने बड़ी इंसानियत का किया. लेकिन ख़बर सिर्फ़ इतनी ही नहीं है. जब डूबने वाले बंदे को बचा लिया गया, सब अब अपने-अपने रास्ते हो लिए. घूमने वाले और सिपाही दोनों को और भी तो काम थे. सिपाही अपनी गश्त पर वापस लौट गया.

अब जिंदा बचने की ख़ुशी तो होगी ही. जो डूबते-डूबते बचा हो वो ज़िंदगी का जश्न तो मनाएगा ही. लेकिन जश्न मनाने के भी कई तरीके होते हैं. भाई अपने तरीके की वजह से फंस गया. थोड़ी देर पहले बचाए गए रिशु चोपड़ा और उसके साथी ने अपनी गाड़ी में पी शराब. और फिर निकल लिए मुंबई घूमने. नशे और गाड़ी का स्पीडोमीटर दोनों एक साथ चढ़ने लगे. इतनी ओवर स्पीड देखकर किसी ने डायल कर दिया सौ नंबर. इलाके में गश्त कर रहे पुलिसवाले का वायरलेस बड़बड़ाया तो पुलिसवाला पहुंचा और ओवर स्पीड वाली गाड़ी को पकड़ा. ट्रैफ़िक में फंसी गाड़ी में जब रिशु चोपड़ा और उसके दोस्त ने शीशा नीचे किया तो सामने वही पुलिस वाला खड़ा था, जिसने कुछ देर पहले रिशु को डूबने से बचाया था.

आख़िरकार उसी पुलिसवाले ने इन दोनों का चालान भी काटा. गाड़ी में शराब की दो बोतलें पाई गईं. दोनों लड़के नशे में पाए गए और बाक़ायदा चालान भी हुआ. असल में पुलिसवाले ने इस आदमी की दो बार जान बचाई. एक ही दिन में. एक बार डूबने से बचाया, दूसरी बार सड़क पर एक्सीडेंट से.

# अब आयरनी देखिए

अजीब संयोग है. लेकिन है सच. जिसने कुछ देर पहले डूबने से बचाया उसी पुलिसवाले ने चालान भी काटा. यही तो सपनों के शहर को सपनों का शहर बनाता है.


वीडियो देखें:

धाकड़ का टीजर देखकर पता चल गया कंगना रनौत फिल्म में क्या रोल करेंगी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

28 सितंबर को दिल्ली में इंडिया टुडे का 'माइंड रॉक्स', फिल्मी हस्तियां समेत कई दिग्गज होंगे शामिल

रजिस्ट्रेशन करने का तरीका समझ लें, सीधा अपने नेताओं से सवाल करने का मौका मिलने वाला है.

जिस परिवार पर 'गैंग्स ऑफ वासेपुर' बनी थी, उसमें असल में पंगा हो गया

'फैजल खान' के भांजों ने अपना अलग गैंग बना लिया है.

ईद 2020 की रिलीज़ पर अक्षय-सलमान में जो लफड़ा हो रखा था, उसमें एक और ट्विस्ट आ गया

सलमान ने गोल-मोल ट्वीट करके सबको उलझा दिया है.

क्रिकेटर हर्शेल गिब्स ने आलिया भट्ट को नहीं पहचाना, आलिया ने जवाब दे दिया

हर्शेल गिब्स यानी 6 गेंदों में 6 छक्के और आलिया यानी गली बॉय की सफ़ीना.

प्रेगनेंट औरत 20 किलोमीटर पैदल चलकर डॉक्टर के पास पहुंची, लेकिन घर ज़िंदा न आ सकी

बेशक बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ, लेकिन मां को न भूल जाओ.

'पति झगड़ता ही नहीं, मुझे तलाक़ चाहिए': एक ऐसा डिवोर्स केस जिसने जज को कन्फ्यूज कर दिया

दोनों तरफ की दलीलें सुनकर सर पकड़ लेंगे.

सौरव दादा ने दिवंगत नेता को शुभकामनाएं दे डालीं, ट्रोलर्स बोले,'हमें भी यही वाला स्टफ चाहिए'

'दादा, 2003 के वर्ल्ड कप में फील्डिंग चुनने के बाद ये आपकी दूसरी बड़ी ग़लती है.'

बीकानेर: रेप किया, फिर बॉडी जलाकर नहर में फेंक दी

रेप करने वाला कथित तौर पर सरपंच का रिश्तेदार है, इसलिए पुलिस चुप है.

क्रिकेटर संदीप पाटिल फेसबुक यूज़ नहीं करते, फिर भी उनके साथ फेसबुक पर कांड हो गया

हमें ये खबर इसलिए जाननी चाहिए क्यूंकि बहुत संभावन है कि ऐसा फ्रॉड हमारे-आपके साथ भी हो सकता है.

पतंजलि के प्रवक्ता ने कहा, अरुण जेटली को दुःख भरा प्रणाम कर रहा था, मेरा फोन चोरी हो गया

अमित शाह से कहा, मेरा फोन इस जगह है. पकड़ सकते हैं तो पकड़ लें.