Submit your post

Follow Us

जिस पुलिसवाले ने डूबने से बचाया, कुछ देर बाद उसी ने ओवर स्पीड का चालान भी काटा

232
शेयर्स

मुंबई. दिन-रात जागने वाला शहर. सपनों का शहर. इसे स्वप्न-भूमि क्यों कहते हैं? क्योंकि यहां लोग बड़े-बड़े सपने लेकर जाते हैं. हालांकि गुड़गांव में भी रहने वालों के सपने छोटे नहीं होते. लेकिन गुड़गांव को सपनों का शहर नहीं कहा जाता. किसी शहर को सपनों का शहर उसकी इमारतें और सड़कें नहीं बनातीं. लोग बनाते हैं. चाय बेचने वाले से लेकर पुलिसवाले तक. असल में यही होते हैं असली शहर.

एक सपना कमोबेश हर भारतीय देखता होगा. इंसानियत का सपना. वर्दी को अपना फ़र्ज़ निभाते देखने का सपना. वर्दी चाहे चपरासी के जिस्म पर हो या पुलिस वाले के. सबको अपनी ड्यूटी क़ायदे से निभाते देखना भी एक सपना ही है. और ये सपना भी पूरा हुआ है सपनों के शहर में. मुंबई में.

# हुआ क्या

मुंबई में समंदर किनारे नीलेश जाधव नाम का एक पुलिस कॉन्स्टेबल अपनी गश्त पर था. अचानक उनके वायरलेस पर ख़बर आई कि एक आदमी समंदर में डूब रहा है. वर्सोवा घाट (बीच) की बात है. पुलिस वाला दनदनाता हुआ पहुंचा घाट पर. आव देखा ना ताव, छलांग लगा दी पानी में. ना किसी की मदद का इंतज़ार किया, ना चीख पुकार मचाई. वर्दी में ही सिपाही पानी में कूदा और आदमी को बचा लाया.

ये जिस आदमी को बचाया गया इसका नाम है रिशु चोपड़ा. गुड़गांव का रहने वाला रिशु अपने एक दोस्त सौरव आनंद के साथ पहली बार मुंबई आया था. गुड़गांव में शेयर ब्रोकर है रिशु. शेयर मार्केट में दलाली वाला काम है. मुंबई आए तो सोचा समंदर भी चला जाए. वहां गए तो ज़्यादा भीतर तक निकल लिए.

अब आप कहेंगे कि अच्छी बात है. ख़बर यहां समाप्त हुई. टाटा-बाय.

#लेकिन ख़बर यहां से शुरू है

जी हां. काम इस पुलिस के सिपाही ने बड़ी इंसानियत का किया. लेकिन ख़बर सिर्फ़ इतनी ही नहीं है. जब डूबने वाले बंदे को बचा लिया गया, सब अब अपने-अपने रास्ते हो लिए. घूमने वाले और सिपाही दोनों को और भी तो काम थे. सिपाही अपनी गश्त पर वापस लौट गया.

अब जिंदा बचने की ख़ुशी तो होगी ही. जो डूबते-डूबते बचा हो वो ज़िंदगी का जश्न तो मनाएगा ही. लेकिन जश्न मनाने के भी कई तरीके होते हैं. भाई अपने तरीके की वजह से फंस गया. थोड़ी देर पहले बचाए गए रिशु चोपड़ा और उसके साथी ने अपनी गाड़ी में पी शराब. और फिर निकल लिए मुंबई घूमने. नशे और गाड़ी का स्पीडोमीटर दोनों एक साथ चढ़ने लगे. इतनी ओवर स्पीड देखकर किसी ने डायल कर दिया सौ नंबर. इलाके में गश्त कर रहे पुलिसवाले का वायरलेस बड़बड़ाया तो पुलिसवाला पहुंचा और ओवर स्पीड वाली गाड़ी को पकड़ा. ट्रैफ़िक में फंसी गाड़ी में जब रिशु चोपड़ा और उसके दोस्त ने शीशा नीचे किया तो सामने वही पुलिस वाला खड़ा था, जिसने कुछ देर पहले रिशु को डूबने से बचाया था.

आख़िरकार उसी पुलिसवाले ने इन दोनों का चालान भी काटा. गाड़ी में शराब की दो बोतलें पाई गईं. दोनों लड़के नशे में पाए गए और बाक़ायदा चालान भी हुआ. असल में पुलिसवाले ने इस आदमी की दो बार जान बचाई. एक ही दिन में. एक बार डूबने से बचाया, दूसरी बार सड़क पर एक्सीडेंट से.

# अब आयरनी देखिए

अजीब संयोग है. लेकिन है सच. जिसने कुछ देर पहले डूबने से बचाया उसी पुलिसवाले ने चालान भी काटा. यही तो सपनों के शहर को सपनों का शहर बनाता है.


वीडियो देखें:

धाकड़ का टीजर देखकर पता चल गया कंगना रनौत फिल्म में क्या रोल करेंगी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

जिस वायरल लड़के को 'उसैन बोल्ट' बता रहे थे, पहली रेस में उसका क्या हुआ?

शिवराज सिंह ने ट्वीट किया था, अब स्पोर्ट्स मिनिस्टर ने बताया- अब क्या होगा.

MP के सीएम कमल नाथ का भांजा गबन के इल्ज़ाम में गिरफ्तार

मामा सीएम हैं. लेकिन रतुल के दिन ठीक नहीं चल रहे.

टीम इंडिया की सबसे बड़ी दिक्कत का इलाज कोच शास्त्री और कोहली ने निकाल लिया है!

ये मसला पहले सुलझा होता तो वर्ल्डकप सेमीफाइनल में वो न होता जो हुआ.

जम्मू-कश्मीर में स्पेशल पुलिस ऑफिसर्स के हथियार ज़ब्त किए जाने वाली खबर पर सरकार ने जवाब दिया है

ख़बर में कहा गया था कि हथियार चोरी करके आतंकी बन सकते हैं जम्मू-कश्मीर पुलिस के SPO.

स्मिथ घायल थे और जोफ्रा आर्चर मुस्कुरा रहे थे, शोएब अख्तर ने दिमाग ठिकाने पर ला दिया

जोफ्रा आर्चर की गेंद पर स्मिथ की गर्दन पर जा लगी थी.

लद्दाख के बीजेपी एमपी की पत्नी ने क्यूं कहा कि JNU में कन्हैया कुमार के विडियो और ऑडियो फर्ज़ी थे

एमपी जमयांग, संसद में दिए अपने हिंदी वाले भाषण के चलते देशभर में चर्चा में आ गए थे.

शिल्पा शेट्टी ने 10 करोड़ ठुकरा दिए लेकिन पतला करने वाली गोलियों का ऐड नहीं किया

अब सब लोग तारीफों के पुल बांध रहे हैं.

'मिशन मंगल' की कमाई से अक्षय कुमार ने '2.0' को भी पीछे छोड़ दिया है

जॉन की फिल्म 'बाटला हाउस' से टक्कर नहीं मिलने पर अक्षय अपना ही रिकॉर्ड तोड़ने लगे हैं.

विदेश में इंडिया के खिलाफ नारे लग रहे थे, शाज़िया इल्मी भिड़ गईं

वीडियो वायरल हो गया है, जिसमें शाज़िया को 'इंडिया ज़िंदाबाद' कहते सुना जा सकता है.

खालिस्तानी-पाकिस्तानी समर्थक पैरों तले रौंद रहे थे, पत्रकार ने भीड़ में घुसकर तिरंगा छीना

खालिस्तानी टी-शर्ट पहने प्रदर्शनकारियों के पास से खंजर मिले हैं.