Submit your post

Follow Us

चर्चित इस्लामिक स्कॉलर मौलाना कलीम सिद्दीकी को UP ATS ने गिरफ्तार कर लिया

यूपी एटीएस ने चर्चित इस्लामिक स्कॉलर और यूपी वेस्ट के बड़े मौलवियों में से एक मौलाना कलीम सिद्दीकी को गिरफ्तार कर लिया है. उन पर गैरकानूनी तरीके से चल रहे धर्मांतरण रैकेट में शामिल होने का आरोप है. जून में इसी मामले में मुफ्ती जहांगीर आलम कासमी और मोहम्मद उमर गौतम को जेल भेजा गया था. खबर के मुताबिक, तब से मौलाना कलीम सिद्दीकी भी ATS के रडार पर थे.

क्या है पूरा मामला?

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, कुछ समय पहले लखनऊ के गोमतीनगर थाने में जबरन धर्म परिवर्तन कराए जाने की एक शिकायत दर्ज की गई थी. आरोप था कि मुफ्ती जहांगीर कासमी और उमर गौतम नाम के दो इस्लामिक प्रीचर (यानी उपदेशक या प्रचारक) ‘इस्लामिक दावा सेंटर’ (IDC) नाम से एक संगठन चलाते हैं, जो बड़े पैमाने पर इस्लामिक कन्वर्जन्स का रैकेट चलाता है. एक स्कूल टीचर कल्पना ने शिकायत में ये भी कहा था कि ये दोनों शख्स मूक-बधिर बच्चों को भी इस्लाम कबूल करवा रहे थे. वहीं, गरीब लोगों को लालच देकर इस्लाम कबूल करवाया जाता था.

बीती 21 जून को इन दोनों को गैरकानूनी तरीके से करीब 1000 लोगों के धर्म परिवर्तन के आरोप में गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया था. यूपी एटीएस ने कहा था कि उसके पास इन दोनों के खिलाफ़ सबूत हैं और जांच में उन्हें इस धर्मांतरण रैकेट में फॉरेन फंडिंग के भी डॉक्यूमेंट मिले हैं.

हालांकि मुस्लिम कम्युनिटी की तरफ से इस गिरफ्तारी पर सवाल खड़े किए गए थे. दोनों इस्लामिक प्रचारकों के बारे में दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के एक्स प्रेसिडेंट जफरुल इस्लाम खान ने कहा था कि धर्म परिवर्तन कोई अपराध नहीं है, संविधान की धारा 25 के तहत इसकी अनुमति है. जफरुल इस्लाम खान ने उमर गौतम का उदाहरण दिया था. कहा कि वो ख़ुद धर्म परिवर्तन करके मुस्लिम बने हैं और एक अच्छे आदमी हैं.

वहीं, दिल्ली में आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान ने भी संविधान के आर्टिकल 25 औए 21 का हवाला देते हुए उमर गौतम और मुफ़्ती जहांगीर आलम का बचाव करने की कोशिश की थी. उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाया था कि वो अल्पसंख्यकों और दलितों पर ज़ुल्म करने से नहीं चूक रही.

जांच में मौलाना कलीम सिद्दीकी का नाम आया

बहरहाल, UP ATS की जांच शुरू हुई तो पता चला कि उमर गौतम और उनके साथियों ने जिन लोगों का IDC संस्था के जरिए धर्मांतरण कराया था, उनमें आधे से ज्यादा महिलाएं थीं. इंडिया टुडे/आजतक संवाददाताओं के मुताबिक, इसके अलावा जांच में पाया गया कि धर्म बदलने वाले ज्यादातर लोग 20 से 30 साल की उम्र के हैं. ये भी मालूम चला कि धर्मांतरण के लिए इस्लामिक दावा सेंटर को क़तर, ओमान जैसे देशों से फंडिंग आ रही थी. बताया गया है कि उमर गौतम के खाते में किसी फॉरेन सोर्स से डेढ़ करोड़ रुपये आए थे. आरोप है कि वो इन पैसों को मुंबई की अजमल फाउंडेशन और ऐसी कई संस्थाओं को ट्रांसफर करते थे.

इसी मामले में बाद में प्रवर्तन निदेशालय यानी ED ने जांच शुरू की तो नाम आया मौलाना कलीम सिद्दीकी का. खबर के मुताबिक, दरअसल उमर गौतम ने पूछताछ में बताया कि मौलाना सिद्दीकी 5 लाख से ज्यादा लोगों का धर्म परिवर्तन करा चुके हैं. ये भी सामने आया कि IDC ने नाबालिगों का भी धर्म परिवर्तन कराया था. इस सिलसिले में फरीदाबाद की एक नाबालिग लड़की के भी धर्मांतरण की बात सामने आई थी. बताया गया है कि तबसे मुजफ्फरनगर में रहने वाले 64 साल के मौलाना कलीम सिद्दीकी यूपी एटीएस के निशाने पर थे. मंगलवार 21 सितंबर की रात वो जैसे ही मेरठ पहुंचे उन्हें ATS ने धर लिया.

इसके बाद यूपी के एडीजी लॉ एंड आर्डर प्रशांत कुमार ने 22 सितंबर को प्रेस कांफ्रेंस करके मीडिया को बताया,

“मौलाना कलीम सिद्दीकी ‘जामिया इमाम वलीउल्ला ट्रस्ट’ के नाम से एक संस्था चलाते हैं. ये ट्रस्ट कई मदरसों को फंड करता है. इसके लिए ट्रस्ट को काफ़ी ज्यादा पैसा विदेश से मिलता था. जांच से पता चला है कि मौलाना के ट्रस्ट को फॉरेन फंडिंग से 3 करोड़ रुपये मिले हैं. इसमें से डेढ़ करोड़ बहरीन से आया है. इस केस की जांच के लिए ATS की 6 टीमें बनाई गई हैं.”

Up Adg (law & Order) Addresses Press
यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार. (फाइल फोटो- पीटीआई)

सियासी बयानबाजी शुरू

मौलाना की गिरफ्तारी के बाद राजनीतिक दलों के मुस्लिम नेताओं ने अपना रिएक्शन दिया है. न्यूज़ एजेंसी ANI के मुताबिक सपा सांसद शफ़ीकुर्रहमान बर्क ने कहा है,

“ये ग़लत है. भाजपा सरकार के पास मुसलमानों को परेशान करने के अलावा कोई काम नहीं है.”

दिल्ली की ओखला विधानसभा से आम आदमी पार्टी विधायक अमानतुल्लाह खान ने मौलाना की गिरफ्तारी को ‘मुसलमानों पर क्रूरता’ बताया. वो ट्वीट करके बोले, “यूपी में चुनाव से पहले मशहूर इस्लामी स्कॉलर मौलाना कलीम सिद्दीकी को गिरफ्तार कर लिया गया है. मुसलमानों पर अत्याचार बढ़ते जा रहे हैं. इन मुद्दों पर धर्मनिरपेक्ष दलों की चुप्पी बीजेपी को और मजबूती दे रही है. बीजेपी, चुनाव जीतने के लिए कितना गिरोगे?”  

चलते-चलते बता दें कि मौलाना कलीम ग्लोबल पीस सेंटर के अध्यक्ष भी हैं. आजतक संवाददाता अभिषेक मिश्रा के अनुसार इनके यूट्यूब पर धर्मांतरण को लेकर काफी वीडियो पड़े हुए हैं. उन्होंने बताया है कि इन वीडियो में मौलाना लोगों को धर्मांतरण करने के लिए प्रेरित करते थे. ये भी बता दें कि अभिनेत्री सना खान का निकाह भी इन्हीं मौलाना कलीम सिद्दीकी ने करवाया था.

(ये स्टोरी हमारे यहां इंटर्नशिप कर रहे शिवेंद्र ने लिखी है.)


वीडियो- UP चुनाव: ओवैसी की राजनीति पर AMU के छात्र ने पूछा, ‘मुस्लिम क्या वोट डालने की मशीन हैं?’ 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

3 अक्टूबर को आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था.