Submit your post

Follow Us

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

यूपी के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में हुई हिंसा के आरोपी आशीष मिश्रा (Ashish Mishra) क्राइम ब्रांच नहीं पहुंचे. गुरुवार 7 अक्टूबर की शाम यूपी पुलिस ने उन्हें नोटिस भेजा था कि वो शुक्रवार 8 अक्टूबर को सुबह 10 बजे हाजिर हों. लेकिन आशीष मिश्रा नहीं आए. इस पर उनके पिता और केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा और परिवार के अन्य लोगों ने अलग-अलग बयान दिए हैं.

क्या बोले पिता अजय मिश्रा?

अजय मिश्रा टेनी ने दावा किया है कि उनका बेटा बीमार है और लखीमपुर के घर में मौजूद है. ये भी कहा कि वो कल यानी 9 अक्टूबर को पुलिस के सामने हाज़िर होगा.

समाचार एजेन्सी एएनआई से बातचीत में अजय मिश्रा उर्फ टेनी ने कहा,

“मेरा बेटा उस घटना में शामिल नहीं था. किसी भी वीडियो में उसका जिक्र नहीं है. वो दंगल का संचालन कर रहा था. मेरा बेटा अभी अपने घर में है. जिसे मिलना है, जाकर मिले. नोटिस का जवाब हमने दे दिया है. आगे भी जो प्रक्रिया होगी, उसमें पूरा सहयोग रहेगा.”

प्रियंका और अखिलेश पर निशाना

अजय मिश्रा ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी पर आरोप लगाया कि वे इस मामले को राजनीतिक फ़ायदे के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं. उन्होंने कहा,

“मेरे मंत्री होते हुए भी मेरे बेटे को पर एफआईआर हो चुकी है. हम लोग निष्पक्ष जांच करा रहे हैं. अखिलेश यादव और प्रियंका गांधी पॉलिटिकल फायदा उठाने के लिए ये सब कर रहे हैं.”

केंद्रीय मंत्री ने पुलिस पर भी ग़ैर-ज़िम्मेदाराना रवैया रखने का आरोप लगाया है. उन्होंने एएनआई से कहा,

“पुलिस ने नोटिस घर में रिसीव नहीं कराया. बेटे की तबीयत ठीक नहीं थी, इस वजह से वो आज क्राइम ब्रांच के सामने हाज़िर नहीं हुए. कल मेरा बेटा जांच एजेंसी के सामने हाज़िर होगा. हमें कानून और न्याय व्यवस्था पर भरोसा है.”

घटना के लिए उपद्रवियों पर आरोप

अजय मिश्रा ने लखीमपुर की घटना के लिए उपद्रवियों को ज़िम्मेदार ठहराया है. उन्होंने न्यूज एजेन्सी से कहा,

“किसानों के भेष में उपद्रवियों ने लोगों को मारा पीटा. अगर मेरा बेटा मौके पर होता तो उसको भी मारा जाता. बीजेपी की सरकार में न्याय मिलता है. जितने बड़े पद पर हूं, कोई और होता तो मुकदमा दर्ज नहीं होता. बीजेपी की सरकार है, यहां सबके लिए समान कानून है.”

घरवालों के विरोधाभासी बयान

अजय मिश्रा से पहले उनके परिवार के दूसरे लोगों ने आशीष मिश्रा के लखीमपुर में होने या नहीं होने से जुड़े सवालों पर जवाब दिए थे. दिलचस्प है कि ये बयान अजय मिश्रा के दावे से अलग है.

दरअसल शुक्रवार सुबह मीडिया में चर्चा थी कि यूपी पुलिस का नोटिस आने के बाद आशीष मिश्रा नेपाल भाग गए हैं. लेकिन उनके रिश्तेदारों ने इससे इनकार किया. आजतक से बात करते हुए उनके चचेरे भाई अभिजात मिश्रा ने कहा कि फिलहाल आशीष लखीमपुर खीरी में मौजूद नहीं हैं, लेकिन जैसे ही आएंगे पुलिस का पूरा सहयोग करेंगे.

जबकि अजय मिश्रा कह रहे हैं कि उनका बेटा लखीमपुर स्थित घर में ही है, लेकिन बीमार है. अब सच क्या है, इसका पता तो पुलिस ही लगाएगी.

आशीष मिश्रा के अलावा क्राइम ब्रांच को मामले में एक दूसरे आरोपी सुमित जैसवाल की भी तलाश है. उसे दो अन्य आरोपियों आशीष पांडेय और लवकुश के बयानों के आधार पर तलाशा जा रहा है.

सुप्रीम कोर्ट की यूपी सरकार को फटकार

बताते चलें कि शुक्रवार को ही सुप्रीम कोर्ट ने लखीमपुर खीरी मामले में यूपी सरकार को रगड़ दिया. उसने इस  हिंसा के संबंध में यूपी सरकार की तरफ से उठाए गए कदमों पर असंतुष्टि जाहिर की. चीफ जस्टिस एनवी रमना की अगुवाई वाली बेंच ने कहा कि जांच के लिए राज्य की ओर से उठाए गए कदमों से कोर्ट संतुष्ट नहीं है. इस पर यूपी सरकार की ओर से सीनियर वकील हरीश साल्वे ने सुप्रीम कोर्ट को आश्वस्त किया कि आगे संतोषजनक कदम उठाए जाएंगे.


वीडियो- लखीमपुर: दो आरोपी अरेस्ट लेकिन आशीष मिश्रा ग़ायब, घर पर चिपक गया समन का स्टिकर

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

IPL से कैसे जुड़ने वाले हैं मैनचेस्टर यूनाइटेड और क्रिस्टियानो रोनाल्डो?

IPL से कैसे जुड़ने वाले हैं मैनचेस्टर यूनाइटेड और क्रिस्टियानो रोनाल्डो?

IPL टीम खरीदने के चक्कर में हैं ग्लेज़र्स.

पॉर्न नहीं देखी तो मार डाला, पीड़ित 6 साल की बच्ची, हत्या के आरोपी 8-11 साल के बच्चे!

पॉर्न नहीं देखी तो मार डाला, पीड़ित 6 साल की बच्ची, हत्या के आरोपी 8-11 साल के बच्चे!

हत्या के बाद एक नाबालिग आरोपी के पिता ने जो किया, वो जानकर भी दंग रह जाएंगे.

फर्रुखाबाद के बौद्ध तीर्थ क्षेत्र में मंदिर से भगवा झंडा उतारने और उसके बाद के बवाल की पूरी कहानी

फर्रुखाबाद के बौद्ध तीर्थ क्षेत्र में मंदिर से भगवा झंडा उतारने और उसके बाद के बवाल की पूरी कहानी

यहां बौद्ध धर्मी और सनातन धर्मी के बीच की तनातनी की वजह क्या है?

क्या किसानों ने वाकई गाजीपुर बॉर्डर खाली करना शुरू कर दिया है?

क्या किसानों ने वाकई गाजीपुर बॉर्डर खाली करना शुरू कर दिया है?

सड़कें ब्लॉक करने पर सुप्रीम कोर्ट की फटकार का असर?

NCB ने स्टेटमेंट जारी कर कहा- शाहरुख के घर छापा मारने नहीं, इस काम से गए थे

NCB ने स्टेटमेंट जारी कर कहा- शाहरुख के घर छापा मारने नहीं, इस काम से गए थे

इतना बवाल हुआ कि शाहरुख के घर 'मन्नत' से लौटने के बाद NCB को स्टेटमेंट जारी करना पड़ा.

छत्तीसगढ़: युवक ने दीवार पर लिखा ASI और कांग्रेस नेता का नाम, फिर लगा ली फांसी!

छत्तीसगढ़: युवक ने दीवार पर लिखा ASI और कांग्रेस नेता का नाम, फिर लगा ली फांसी!

एसपी ने ASI को सस्पेंड किया, कांग्रेस नेता पर भी केस दर्ज.

TDP प्रवक्ता के बयान से आंध्र प्रदेश की राजनीति में ऐसी आग लगी कि बात दिल्ली तक पहुंच गई

TDP प्रवक्ता के बयान से आंध्र प्रदेश की राजनीति में ऐसी आग लगी कि बात दिल्ली तक पहुंच गई

TDP के दफ्तरों पर एक के बाद एक हमले हुए हैं, सत्तारूढ़ YSRCP पर आरोप लगा है.

बांग्लादेश में जिस शख्स की वजह से हिंसा भड़की, उसका पता चल गया है, CCTV देख पुलिस ने किया दावा

बांग्लादेश में जिस शख्स की वजह से हिंसा भड़की, उसका पता चल गया है, CCTV देख पुलिस ने किया दावा

इकबाल के घरवाले उसके बारे में क्या बता रहे?

शाहरुख खान के घर रेड करने पहुंची NCB, कहा- 'कइयों से करनी पड़ती है पूछताछ'

शाहरुख खान के घर रेड करने पहुंची NCB, कहा- 'कइयों से करनी पड़ती है पूछताछ'

अनन्या पांडे के घर भी NCB का छापा, पूछताछ के लिए बुलाया गया.

जेल में शीशे की दीवार के पार इस तरह हुई शाहरुख की बेटे से मुलाकात, आर्यन ने की ये शिकायत

जेल में शीशे की दीवार के पार इस तरह हुई शाहरुख की बेटे से मुलाकात, आर्यन ने की ये शिकायत

शाहरुख की कौन सी मांग जेल अधिकारियों ने ठुकरा दी?