Submit your post

Follow Us

धवन ने कुछ ऐसा किया कि अश्विन अब मांकड़ आउट करने से पहले 100 बार सोचेंगे

आईपीएल 2019. मैच नंबर 37 और आमने-सामने थीं किंग्स इलेवन पंजाब और दिल्ली  कैपिटल्स. पंजाब की टीम अपने पहले मैच से ही ख़बरों में स्पेशल जगह पाने लगी थी. वजह थी एक रन आउट जो कि हुआ था गेंद फ़ेंके जाने से भी पहले. नॉन-स्ट्राइकिंग एंड पर आर अश्विन ने जॉस बटलर को रन आउट किया था. इस रन आउट को मांकडिंग भी कहते हैं लेकिन हाल ही में इस एपिसोड के बाद से सोशल मीडिया पर इस तरह से रन आउट किये जाने को मान्कडिंग टर्म न दिए जाने की बात कही जा रही है.

ये बात बहुत ही हद तक सही भी लगती है. वीनू मांकड़ क्रिकेट के एक बेहतरीन खिलाड़ी थे और उन्होंने जिस तरह से बिल ब्राउन को आउट किया था वो क्रिकेट के नियमों में आता है. और आगे चलकर हमने मान्कडिंग को एक नेगेटिव टर्म बना दिया. हाल ही में जब सोशल मीडिया पर ये बातें शुरू हुईं तो वीनू मांकड़ को करीब से जानने वालों ने ये भी बताया कि उनके परिवार वालों को उनके नाम का इस तरह से नेगेटिव तरीके से इस्तेमाल किया जाना रास नहीं आता है. आईसीसी भी इस तरह से किसी खिलाडी को रन-आउट होना ही कहती है. इसलिए हम भी इसे मान्कडिंग की बजाय रन-आउट ही कहेंगे.

वापस आर अश्विन और उस रन आउट पर. अश्विन ने बटलर को आउट किया और अपने फ़ैसले पर कायम रहे. उन्होंने कहा कि ये रन आउट क्रिकेट के नियमों में है और उन्होंने कोई ग़लत काम नहीं किया है.

अश्विन बटलर को मांकड़ आउट कर चुके हैं. (IPL स्क्रीनग्रैब)
अश्विन बटलर को मांकड़ आउट कर चुके हैं. (IPL स्क्रीनग्रैब)

दिल्ली के ख़िलाफ़ मैच में आर अश्विन बॉलिंग कर रहे थे. श्रेयस अय्यर और शिखर धवन के बीच पार्टनरशिप चल रही थी. अच्छी पार्टनरशिप. अश्विन 13वां ओवर फ़ेंक रहे थे. तीसरी गेंद फेंकने के लिए वो पॉपिंग क्रीज़ पर पहुंचे और गेंद फेंकने वाले ही थे कि वो रुक गए. जनता हल्ला काटने लगी. शिखर धवन नॉन-स्ट्राइकिंग एंड पर खड़े थे. उन्होंने तुरंत ये दिखाया कि वो अभी भी क्रीज़ में ही थे और अश्विन उन्हें रन-आउट नहीं कर सकते थे. अश्विन बॉलिंग करने के लिए अपने मार्क पर वापस जा रहे थे तो धवन ने मज़ाक में कुछ इशारे किये. इसके बाद लोगों का शोर और भी बढ़ गया. अश्विन बिना रुके दूसरी गेंद फेंकने को आ गए. इस बार वो जैसे ही पॉपिंग क्रीज़ पर पहुंचेधवन अपनी जगह पर खड़े होकर अपने ही स्टाइल में नाचने लगे. अब उनकी मज़े लेने की बारी थी और धवन ऐसे मौके कभी भी चूकते नहीं हैं. फिर ये तो उन्हीं के इंडिया के टीम-मेट अश्विन थे. उन्होंने डांस किया और उधर श्रेयस ने बॉल को टैप किया तो एक रन भी पूरा किया. मैदान में मैच देख रहे दर्शकों ने खूब शोर मचाया.

इससे पहले कोलकाता नाइट राइडर्स के ख़िलाफ़ मैच में विराट कोहली ने भी कुछ ऐसा ही मज़ाक किया था जब सुनील नारायण गेंद फेंकने से पहले रुक गए थे और कोहली नॉन-स्ट्राइकिंग एंड पर खड़े थे.

विराट कोहली चौंक गए थे लेकिन उन्होंने देखा उनका बैट तो क्रीज़ में ही है. (iplt20 स्क्रीनग्रैब)
विराट कोहली चौंक गए थे लेकिन उन्होंने देखा उनका बैट तो क्रीज़ में ही है. (iplt20 स्क्रीनग्रैब)

आईपीएल के इस सीज़न में कई बार देखा जा रहा है कि बॉलर अपने रन-अप में रुक रहे हैं और इस बात का ख़ास खयाल रख रहे हैं कि बैट्समेन रन लेने के लिए ज़रुरत से ज़्यादा आगे नहीं खड़े हैं.


लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?