Submit your post

Follow Us

संबित सहित तमाम BJP नेताओं के ट्वीट को भ्रामक बताने पर केंद्र ने ट्विटर को तगड़ी डोज़ दे दी

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा और तमाम अन्य नेता, मंत्रियों के ट्वीट को भ्रामक बताने पर केंद्र सरकार ने ट्विटर (Twitter) को तगड़ी डोज दे दी है. इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय ने ट्विटर से कड़े शब्दों में आपत्ति जताते हुए ‘मैनिपुलेटेड मीडिया’ टैग हटाने के लिए कहा है. सरकार ने कहा है कि ट्वीट में जिस मामले का ज़िक्र किया गया है, वो अभी कानूनी जांच के दायरे में है. ऐसे में इस पर ट्विटर कोई फ़ैसला कैसे कर सकता है. मंत्रालय ने ये भी कहा कि कानूनी जांच मामले की सत्यता साबित करेगी और ट्विटर इस जांच में कोई दख़ल न दे.

मंत्रालय ने ट्विटर को भेजे चिट्ठी में लिखा –

“इस मामले से जुड़े अलग-अलग पक्षों में से एक ने स्थानीय कानूनी एजेंसी के सामने ‘टूलकिट’ की सत्यता पर सवाल उठाते हुए शिकायत दर्ज़ की है. इसकी जांच की जा रही है. जब स्थानीय कानूनी एजेंसी ‘टूलकिट’ की सत्यता की जांच कर रही है, ट्विटर ने फिर भी इस मामले में एकतरफा निष्कर्ष निकाला है और मनमाने ढंग से इसे ‘मैनिपुलेटेड मीडिया’ के रूप में टैग किया है. ट्विटर का ये कदम पूर्वाग्रह से ग्रसित है.”

मंत्रालय ने ट्विटर की इस कार्रवाई को एकतरफा बताया है, निष्पक्ष जांच प्रक्रिया को प्रभावित करने का प्रयास बताया है, ग़ैर-ज़रूरी कदम बताया है.

क्या है मामला?

BJP के कई नेताओं ने 18 मई को टूलकिट को लेकर जो ट्वीट किया, वो सोशल मीडिया पर काफी वायरल रहा. इस कथित टूलकिट की बात सबसे पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मुखपत्र ऑर्गेनाइज़र में नज़र आई थी. वायरल टूलकिट के आधार पर आरोप लगाए गए कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं से कहा गया है कि वो सोशल मीडिया पर कोरोना के ‘इंडियन स्ट्रेन’ को ‘मोदी स्ट्रेन’ और ‘सुपर स्प्रेडर कुम्भ’ जैसे शब्दों और वाक्यों का इस्तेमाल करें. वायरल टूलकिट की तस्वीर में ऊपरी दाएं कोने में कांग्रेस पार्टी का लोगो लगा हुआ था. इस तथाकथित टूलकिट में कथित तौर पर पार्टी कार्यकर्ताओं से लाशों और अंतिम संस्कार की नाटकीय तस्वीरों का इस्तेमाल करने को भी कहा गया. ये भी लिखा था कि लोगों को ‘सुपर स्प्रेडर कुंभ’ याद दिलाते रहना है. यह सब ज़रूरी है क्योंकि यह बीजेपी की हिंदू राजनीति है, जो इतना संकट पैदा कर रही है. इस तथाकथित टूलकिट को लेकर बीजेपी ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला. बीजेपी के प्रवक्ताओं के साथ सरकार के कई मंत्रियों ने भी ट्वीट किए, और बयान दिए. उधर कांग्रेस ने इस टूलकिट को ही फर्जी करार दे दिया. उसने बीजेपी नेताओं पर FIR कराने की भी बात कही.

ट्विटर ने बड़े नेताओं के ट्वीट ‘भ्रामक’ बता दिए

इस टूलकिट को लेकर कांग्रेस पर हमला बोलने के क्रम में 18 मई को बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी एक ट्वीट किया. इसमें उस पेज की भी तस्वीर लगाई, जिसमें ये सब बातें लिखी थीं. संबित ने ट्वीट में लिखा –

दोस्तो, कांग्रेसी टूलकिट को देखो, जो महामारी में जरूरतमंदों को मदद पहुंचा रही है! यह दिल से किए गए एक प्रयास से ज्यादा दोस्ताना पत्रकारों और प्रभावशाली लोगों के ज़रिये की जाने वाली PR एक्सरसाइज़ है. अपने आप पढ़ लीजिए कांग्रेस का अजेंडा.

 

कथित टूलकिट की ऐसी ही तस्वीर के साथ BJP के बड़े नेता और राज्यसभा सांसद विनय सहस्रबुद्धे ने भी ट्वीट किया और कांग्रेस पर हमला बोला.

कई मंत्रियों, बीजेपी नेताओं ने उठाए थे सवाल

टूलकिट को लेकर मोदी सरकार के मंत्रियों पीयूष गोयल, हरदीप सिंह पुरी, स्मृति ईरानी, अनुराग ठाकुर और प्रह्लाद जोशी ने भी ट्वीट किए थे. इसके अलावा बीजेपी प्रेसिडेंट जेपी नड्डा, उत्तराखंड के सीएम तीरथ सिंह रावत, सांसद तेजस्वी सूर्या और राघवेंद्र राठौर जैसे लोग भी इस मसले पर ट्वीट करने वालों में शामिल रहे. हालांकि इनके ट्वीट्स पर ‘मैनिपुलेटेड मीडिया’ का लेबल नहीं लगाया गया है. संबित पात्रा, विनय सहस्रबुद्धे और सीके रवि के अलावा बीजेपी के पक्ष में सोशल मीडिया पर लगातार एक्टिव शैफाली वैद्य के ट्वीट को भी ट्विटर ने भ्रामक बताया है. इसमें भी टूलकिट की तस्वीर शेयर की गई थी.

कांग्रेस ने ट्विटर से की है शिकायत

कथित टूलकिट को लेकर बीजेपी के आरोपों का कांग्रेस ने खंडन किया था. कांग्रेस ने इस बात से इनकार किया था कि उसने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं को ऐसा कोई निर्देश दिया. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजीव गौड़ा ने ट्वीट करके कहा था कि बीजेपी एक फेक टूलकिट शेयर कर रही है. इसके लिए कांग्रेस पार्टी बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और संबित पात्रा के खिलाफ़ जालसाजी के आरोप में एफआईआर दर्ज करवाने जा रही है.

कांग्रेस ने ट्विटर से भी इस तथाकथित टूलकिट के बारे में शिकायत की थी. कांग्रेस ने उन सभी ट्विटर हैंडल्स को हमेशा के लिए सस्पेंड करने की गुजारिश की, जो ये टूलकिट शेयर कर रहे हैं. ट्विटर को भेजे लेटर में कांग्रेस ने लिखा कि बीजेपी के लोग गलत जानकारी फैलाने के लिए ट्विटर का इस्तेमाल कर रहे हैं. इसकी वजह से महामारी के दौरान देश में सामाजिक अशांति फैल सकती है.

ट्विटर की हेड ऑफ पॉलिसी एशिया पैसिफिक लॉरेन मायर्स ने इंडिया टुडे को बताया कि ट्विटर की नीति पूरी तरह से निष्पक्ष और विवेकपूर्ण है. ट्विटर ने यह भी साफ किया कि वह किसी की शिकायत पर मैनिपुलेटेड मीडिया लेबल नहीं करता बल्कि इसके लिए उसके अपने मानक हैं.

क्या होता है मैनिपुलेटेड मीडिया?

ट्विटर ने बीजेपी नेताओं के ट्वीट को ‘मैनिपुलेटेड मीडिया’ या भ्रामक करार दे दिया है. ट्विटर ऐसा तब करता है, जब वह शेयर किए गए किसी फोटो, वीडियो या ऑडियो में भ्रम पैदा करने वाले बदलाव पाता है. जिस इमेज या वीडियो को मैनिपुलेटेड मीडिया करार दिया जाता है, उसके नीचे एक लेबल लगा दिया जाता है. यदि आप उस पर क्‍लिक करेंगे तो इस बारे में विस्‍तार से जानकारी मिल जाएगी. यह लेबल चर्चा में तब आया था, जब अमेरिका में पूर्व राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के इलेक्शन में झूठे दावों वाले कई ट्वीट्स को ट्विटर ने भ्रामक बताकर ‘मैनिपुलेटेड मीडिया’ का लेबल लगा दिया था.


वीडियो – संबित पात्रा ने ‘टूलकिट’ के बारे में सौम्या वर्मा का नाम लेकर कांग्रेस पर क्या आरोप लगाए?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

SBI और PNB के ग्राहकों के लिए 1 सितंबर से क्या-क्या बदलने वाला है?

SBI और PNB के ग्राहकों के लिए 1 सितंबर से क्या-क्या बदलने वाला है?

PF अकाउंट आधार से लिंक नहीं तो नहीं आएगा पैसा, पॉजिटिव पे सिस्टम भी लागू होगा.

तालिबान के रहते हुए ऑस्ट्रेलिया जाकर टेस्ट खेल पाएगा अफ़ग़ानिस्तान?

तालिबान के रहते हुए ऑस्ट्रेलिया जाकर टेस्ट खेल पाएगा अफ़ग़ानिस्तान?

वर्ल्ड कप के बाद होना है ये टेस्ट.

जलियांवाला बाग का रेनोवेशन राहुल गांधी के लिए 'शहीदों का अपमान', अमरिंदर बोले- मुझे तो सही लगा

जलियांवाला बाग का रेनोवेशन राहुल गांधी के लिए 'शहीदों का अपमान', अमरिंदर बोले- मुझे तो सही लगा

लोगों ने राहुल गांधी को कुछ और भी याद दिलाया.

तालिबान पर क्या बोलकर बुरे फंसे शाहिद अफरीदी?

तालिबान पर क्या बोलकर बुरे फंसे शाहिद अफरीदी?

चौतरफा ट्रोल हुए अफरीदी.

GOAT डेल स्टेन के रिटायरमेंट पर कैसा रहा दिग्गज क्रिकेटर्स का रिएक्शन?

GOAT डेल स्टेन के रिटायरमेंट पर कैसा रहा दिग्गज क्रिकेटर्स का रिएक्शन?

The Best.

200 करोड़ रुपए के मनी लॉन्डरिंग केस में जैकलीन फर्नांडिस से हुई पांच घंटे तक पूछताछ

200 करोड़ रुपए के मनी लॉन्डरिंग केस में जैकलीन फर्नांडिस से हुई पांच घंटे तक पूछताछ

कहा जा रहा है कि जैकलीन आरोपी नहीं, खुद शिकार हैं.

तालिबान से पहली औपचारिक मुलाकात में भारत ने अपना रुख साफ कर दिया है

तालिबान से पहली औपचारिक मुलाकात में भारत ने अपना रुख साफ कर दिया है

तालिबान के टॉप लीडर शेर मोहम्मद और भारतीय राजदूत दीपक मित्तल के बीच हुई बैठक.

टीम इंडिया को जो रूट और इंग्लैंड क्रिकेट की रणनीति से बचना होगा!

टीम इंडिया को जो रूट और इंग्लैंड क्रिकेट की रणनीति से बचना होगा!

रूट ने बताया, अगले मैच में क्या करने वाले हैं.

रणजी के 'ग्रुप ऑफ डेथ' में कौन सी टीमें फंस गईं?

रणजी के 'ग्रुप ऑफ डेथ' में कौन सी टीमें फंस गईं?

अगले साल जनवरी में शुरू होगी रणजी ट्रॉफी.

IPL में दो नई टीमों को खरीदने के लिए BCCI ने रखी कौन सी शर्त?

IPL में दो नई टीमों को खरीदने के लिए BCCI ने रखी कौन सी शर्त?

BCCI ने जारी किया टेंडर.