Submit your post

Follow Us

संबित सहित तमाम BJP नेताओं के ट्वीट को भ्रामक बताने पर केंद्र ने ट्विटर को तगड़ी डोज़ दे दी

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा और तमाम अन्य नेता, मंत्रियों के ट्वीट को भ्रामक बताने पर केंद्र सरकार ने ट्विटर (Twitter) को तगड़ी डोज दे दी है. इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय ने ट्विटर से कड़े शब्दों में आपत्ति जताते हुए ‘मैनिपुलेटेड मीडिया’ टैग हटाने के लिए कहा है. सरकार ने कहा है कि ट्वीट में जिस मामले का ज़िक्र किया गया है, वो अभी कानूनी जांच के दायरे में है. ऐसे में इस पर ट्विटर कोई फ़ैसला कैसे कर सकता है. मंत्रालय ने ये भी कहा कि कानूनी जांच मामले की सत्यता साबित करेगी और ट्विटर इस जांच में कोई दख़ल न दे.

मंत्रालय ने ट्विटर को भेजे चिट्ठी में लिखा –

“इस मामले से जुड़े अलग-अलग पक्षों में से एक ने स्थानीय कानूनी एजेंसी के सामने ‘टूलकिट’ की सत्यता पर सवाल उठाते हुए शिकायत दर्ज़ की है. इसकी जांच की जा रही है. जब स्थानीय कानूनी एजेंसी ‘टूलकिट’ की सत्यता की जांच कर रही है, ट्विटर ने फिर भी इस मामले में एकतरफा निष्कर्ष निकाला है और मनमाने ढंग से इसे ‘मैनिपुलेटेड मीडिया’ के रूप में टैग किया है. ट्विटर का ये कदम पूर्वाग्रह से ग्रसित है.”

मंत्रालय ने ट्विटर की इस कार्रवाई को एकतरफा बताया है, निष्पक्ष जांच प्रक्रिया को प्रभावित करने का प्रयास बताया है, ग़ैर-ज़रूरी कदम बताया है.

क्या है मामला?

BJP के कई नेताओं ने 18 मई को टूलकिट को लेकर जो ट्वीट किया, वो सोशल मीडिया पर काफी वायरल रहा. इस कथित टूलकिट की बात सबसे पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मुखपत्र ऑर्गेनाइज़र में नज़र आई थी. वायरल टूलकिट के आधार पर आरोप लगाए गए कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं से कहा गया है कि वो सोशल मीडिया पर कोरोना के ‘इंडियन स्ट्रेन’ को ‘मोदी स्ट्रेन’ और ‘सुपर स्प्रेडर कुम्भ’ जैसे शब्दों और वाक्यों का इस्तेमाल करें. वायरल टूलकिट की तस्वीर में ऊपरी दाएं कोने में कांग्रेस पार्टी का लोगो लगा हुआ था. इस तथाकथित टूलकिट में कथित तौर पर पार्टी कार्यकर्ताओं से लाशों और अंतिम संस्कार की नाटकीय तस्वीरों का इस्तेमाल करने को भी कहा गया. ये भी लिखा था कि लोगों को ‘सुपर स्प्रेडर कुंभ’ याद दिलाते रहना है. यह सब ज़रूरी है क्योंकि यह बीजेपी की हिंदू राजनीति है, जो इतना संकट पैदा कर रही है. इस तथाकथित टूलकिट को लेकर बीजेपी ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला. बीजेपी के प्रवक्ताओं के साथ सरकार के कई मंत्रियों ने भी ट्वीट किए, और बयान दिए. उधर कांग्रेस ने इस टूलकिट को ही फर्जी करार दे दिया. उसने बीजेपी नेताओं पर FIR कराने की भी बात कही.

ट्विटर ने बड़े नेताओं के ट्वीट ‘भ्रामक’ बता दिए

इस टूलकिट को लेकर कांग्रेस पर हमला बोलने के क्रम में 18 मई को बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी एक ट्वीट किया. इसमें उस पेज की भी तस्वीर लगाई, जिसमें ये सब बातें लिखी थीं. संबित ने ट्वीट में लिखा –

दोस्तो, कांग्रेसी टूलकिट को देखो, जो महामारी में जरूरतमंदों को मदद पहुंचा रही है! यह दिल से किए गए एक प्रयास से ज्यादा दोस्ताना पत्रकारों और प्रभावशाली लोगों के ज़रिये की जाने वाली PR एक्सरसाइज़ है. अपने आप पढ़ लीजिए कांग्रेस का अजेंडा.

 

कथित टूलकिट की ऐसी ही तस्वीर के साथ BJP के बड़े नेता और राज्यसभा सांसद विनय सहस्रबुद्धे ने भी ट्वीट किया और कांग्रेस पर हमला बोला.

कई मंत्रियों, बीजेपी नेताओं ने उठाए थे सवाल

टूलकिट को लेकर मोदी सरकार के मंत्रियों पीयूष गोयल, हरदीप सिंह पुरी, स्मृति ईरानी, अनुराग ठाकुर और प्रह्लाद जोशी ने भी ट्वीट किए थे. इसके अलावा बीजेपी प्रेसिडेंट जेपी नड्डा, उत्तराखंड के सीएम तीरथ सिंह रावत, सांसद तेजस्वी सूर्या और राघवेंद्र राठौर जैसे लोग भी इस मसले पर ट्वीट करने वालों में शामिल रहे. हालांकि इनके ट्वीट्स पर ‘मैनिपुलेटेड मीडिया’ का लेबल नहीं लगाया गया है. संबित पात्रा, विनय सहस्रबुद्धे और सीके रवि के अलावा बीजेपी के पक्ष में सोशल मीडिया पर लगातार एक्टिव शैफाली वैद्य के ट्वीट को भी ट्विटर ने भ्रामक बताया है. इसमें भी टूलकिट की तस्वीर शेयर की गई थी.

कांग्रेस ने ट्विटर से की है शिकायत

कथित टूलकिट को लेकर बीजेपी के आरोपों का कांग्रेस ने खंडन किया था. कांग्रेस ने इस बात से इनकार किया था कि उसने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं को ऐसा कोई निर्देश दिया. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजीव गौड़ा ने ट्वीट करके कहा था कि बीजेपी एक फेक टूलकिट शेयर कर रही है. इसके लिए कांग्रेस पार्टी बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और संबित पात्रा के खिलाफ़ जालसाजी के आरोप में एफआईआर दर्ज करवाने जा रही है.

कांग्रेस ने ट्विटर से भी इस तथाकथित टूलकिट के बारे में शिकायत की थी. कांग्रेस ने उन सभी ट्विटर हैंडल्स को हमेशा के लिए सस्पेंड करने की गुजारिश की, जो ये टूलकिट शेयर कर रहे हैं. ट्विटर को भेजे लेटर में कांग्रेस ने लिखा कि बीजेपी के लोग गलत जानकारी फैलाने के लिए ट्विटर का इस्तेमाल कर रहे हैं. इसकी वजह से महामारी के दौरान देश में सामाजिक अशांति फैल सकती है.

ट्विटर की हेड ऑफ पॉलिसी एशिया पैसिफिक लॉरेन मायर्स ने इंडिया टुडे को बताया कि ट्विटर की नीति पूरी तरह से निष्पक्ष और विवेकपूर्ण है. ट्विटर ने यह भी साफ किया कि वह किसी की शिकायत पर मैनिपुलेटेड मीडिया लेबल नहीं करता बल्कि इसके लिए उसके अपने मानक हैं.

क्या होता है मैनिपुलेटेड मीडिया?

ट्विटर ने बीजेपी नेताओं के ट्वीट को ‘मैनिपुलेटेड मीडिया’ या भ्रामक करार दे दिया है. ट्विटर ऐसा तब करता है, जब वह शेयर किए गए किसी फोटो, वीडियो या ऑडियो में भ्रम पैदा करने वाले बदलाव पाता है. जिस इमेज या वीडियो को मैनिपुलेटेड मीडिया करार दिया जाता है, उसके नीचे एक लेबल लगा दिया जाता है. यदि आप उस पर क्‍लिक करेंगे तो इस बारे में विस्‍तार से जानकारी मिल जाएगी. यह लेबल चर्चा में तब आया था, जब अमेरिका में पूर्व राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के इलेक्शन में झूठे दावों वाले कई ट्वीट्स को ट्विटर ने भ्रामक बताकर ‘मैनिपुलेटेड मीडिया’ का लेबल लगा दिया था.


वीडियो – संबित पात्रा ने ‘टूलकिट’ के बारे में सौम्या वर्मा का नाम लेकर कांग्रेस पर क्या आरोप लगाए?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

लखनऊ में चोरों ने बीच रोड से फाइटर प्लेन का टायर उड़ाया, ट्रक से जा रहा था राजस्थान

लखनऊ में चोरों ने बीच रोड से फाइटर प्लेन का टायर उड़ाया, ट्रक से जा रहा था राजस्थान

मिराज फाइटर प्लेन का था टायर, पुलिस और एयरफोर्स जांच में जुटे

जन्म की सलाह देने वाले मां के डॉक्टर पर बेटी ने केस किया, लाखों का हर्जाना जीता

जन्म की सलाह देने वाले मां के डॉक्टर पर बेटी ने केस किया, लाखों का हर्जाना जीता

रीढ़ की हड्डी से जुड़ी एक गंभीर बीमारी से पीड़ित है लड़की.

देश में ओमिक्रॉन के दो मरीज मिले

देश में ओमिक्रॉन के दो मरीज मिले

कोरोना का यह नया वैरिएंट डेल्टा से भी 5 गुना ज्यादा खतरनाक है

'मिर्ज़ापुर' में ललित का रोल करने वाले एक्टर ब्रह्मा मिश्रा नहीं रहे

'मिर्ज़ापुर' में ललित का रोल करने वाले एक्टर ब्रह्मा मिश्रा नहीं रहे

पुलिस को ब्रह्मा के फ्लैट से उनकी डीकम्पोज़्ड बॉडी मिली.

जूही चावला ने बताया KKR के हारने पर टीम मीटिंग में क्या करते हैं शाहरुख खान

जूही चावला ने बताया KKR के हारने पर टीम मीटिंग में क्या करते हैं शाहरुख खान

जूही ने बताया कि जब टीम अच्छा नहीं खेल रही होती, तो शाहरुख उन्हें भी डांट लगा देते हैं.

क्वालकॉम की नई चिप कौन-कौन से एंड्रॉयड स्मार्टफोन में आएगी, जान लीजिए

क्वालकॉम की नई चिप कौन-कौन से एंड्रॉयड स्मार्टफोन में आएगी, जान लीजिए

क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 8 Gen 1 चिपसेट से आप 8K HDR वीडियो कैपचर कर पाएंगे.

UPTET पेपर लीक मामला: सचिव संजय उपाध्याय ने की थी बड़ी डील, दोस्त को ही दिया पेपर छापने का ठेका!

UPTET पेपर लीक मामला: सचिव संजय उपाध्याय ने की थी बड़ी डील, दोस्त को ही दिया पेपर छापने का ठेका!

यूपी STF की जांच में कई बड़े खुलासे हुए हैं

CBSE ने '2002 में मुस्लिम विरोधी हिंसा किसके शासन में फैली' पूछकर दिए चार ऑप्शन

CBSE ने '2002 में मुस्लिम विरोधी हिंसा किसके शासन में फैली' पूछकर दिए चार ऑप्शन

बवाल बढ़ने पर CBSE ने गलती मानते हुए कार्रवाई की बात कही

30 लाख से अधिक ट्वीट कर छात्रों ने रेलवे से पूछा, 'कब होगी परीक्षा?'

30 लाख से अधिक ट्वीट कर छात्रों ने रेलवे से पूछा, 'कब होगी परीक्षा?'

1000 दिन बीत गए, अब तक एग्जाम की डेट नहीं आई.

IPL 2022 के लिए रिटेन नहीं हुए ये 11 खिलाड़ी मिल जाएं तो जीतने वाली टीम तैयार हो जाएगी

IPL 2022 के लिए रिटेन नहीं हुए ये 11 खिलाड़ी मिल जाएं तो जीतने वाली टीम तैयार हो जाएगी

ये खिलाड़ी मिल जाएं तो कोई इन्हें हरा नहीं सकता.