Submit your post

Follow Us

IIT कानपुर-IIM अहमदाबाद से पढ़ा, बढ़िया नौकरी की, मगर सुसाइड करने पर मजबूर हो गया

39 साल के एक सॉफ्टवेर इंजिनियर ने 10वें फ्लोर से कूदकर जान दे दी. ये मामला है नोएडा के सेक्टर 128 का.

मरने वाले आदमी के पिता दिल्ली में रहते थे. बता दें कि नोएडा दिल्ली से सटा हुआ है. पिता को लगभग सुबह 10 बजे सिक्योरिटी गार्ड का फोन आया. कि उनके बेटे ने घर में आग लगा ली है. और पास के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती है. पिता भागकर पहुंचे. तो पता चला असल कहानी ये है कि उनके बेटे ने कूदकर अपनी जान दे दी है.

पिता ने हिंदुस्तान टाइम्स से बात करते हुए बताया कि उनका बेटा मानसिक रूप से खुश नहीं महसूस कर रहा था. उसकी शादी 2014 में हुई थी. तब वो गुरुग्राम की एक प्राइवेट कंपनी में था. और उसकी पत्नी हरिद्वार में एक सरकारी कंपनी में काम करती थी. कुछ समय दोनों अलग-अलग रहे. फिर दोनों ने अपनी नौकरियां बदल नोएडा सेक्टर 45 में रहना शुरू कर दिया.

मगर कुछ ही समय बाद दोनों में लड़ाइयां होने लगीं. और उन्हें एहसास हुआ के वो साथ नहीं रह सकते.

पिता का आरोप है कि वो उनका बेटा पत्नी के हाथों मानसिक प्रताड़ना झेल रहा था. दोनों में जब अनबन रहने लगी तो पत्नी ने पति पर घरेलू हिंसा और प्रताड़ना का केस कर दिया. मृतक के पिता के मुताबिक़ ये आरोप फर्जी थे. पत्नी ने कहा कि वो ये केस तभी वापस लेगी जब वो उसे 50 लाख रुपये और एक फ्लैट देगा.

पति ने नौकरी छोड़ने के बाद ‘स्टार्टअप’ शुरू किया था. मगर वो फेल हो गया. जिसके बाद उसे काफ़ी नुकसान हुआ था.

पिता की मानें तो उनके बेटे को प्लानिंग के तहत नुकसान पहुंचाया जा रहा था. उसके दो साले और ससुर ने न सिर्फ उसके साथ धक्का-मुक्की करने की कोशिश की. बल्कि गंभीर नुकसान पहुंचाने की धमकी भी दी. पति इसके बाद अलग होकर सेक्टर 128 में रहने लगा था.

पत्नी के खिलाफ मामला दर्ज है और एक्सप्रेसवे थाना पुलिस का ये कहना है कि जल्द ही वो इस मसले को सुलझा लेंगे. मगर जिन्होंने अपना बेटा खोया, उन्हें न्याय जाने कैसे मिलेगा.

सुसाइड करने वाला ये इंजिनियर आईआईटी कानपुर और आईआईएम अहमदाबाद से पढ़ा हुआ था. आपको बता दें कि ये दोनों ही इंस्टिट्यूट, देश के टॉप रैंकिंग कॉलेज हैं. जिनमें कितने ही स्टूडेंट्स का सालोंसाल पढ़कर भी सिलेक्शन नहीं होता.

न सिर्फ एक पिता ने अपना बेटा खोया है, बल्कि समाज ने एक अच्छा प्रोफेशनल भी खोया है.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कानपुर कांड की रात वहां मौजूद औरत ने फोन करके अपनी भाभी को क्या बताया, सुनिए ऑडियो

“पुलिस वाले हैं. विकास भैया ने मारा है, इन सब लोगों ने मारा है.”

यूपी पुलिस विकास दुबे के घर ये वाले हथियार खुद नहीं खोज पाई, आरोपी ने बताया कहां रखे हैं

इसके पहले पुलिस और फ़ोरेंसिक टीम विकास दुबे का घर ढहाकर छान चुकी है.

गूगल का भारत में 75,000 करोड़ रुपये के निवेश का पूरा प्लान क्या है

खुद सुंदर पिचाई ने ऐलान किया है.

राजस्थान: क्या है गहलोत-पायलट के बीच टकराव की वजह?

जयपुर से लेकर दिल्ली तक जोर आजमाइश हो रही है.

बच्चन परिवार की इकलौती सदस्य जिसे कोरोना नहीं हुआ

अमिताभ बच्चन और अभिषेक बच्चन COVID-19 पॉजिटिव निकले थे

यूपी STF ने विकास दुबे एनकाउंटर पर अब क्या नई बात बताई है?

कार पलटने की वजह क्या थी?

गैंगस्टर विकास दुबे एनकाउंटर में मारा गया

एक दिन पहले ही उज्जैन के महाकाल से पकड़ा गया था विकास दुबे.

कानपुर कांड : आरोपी की गिरफ़्तारी में सच कौन बोल रहा? यूपी पुलिस या आरोपी के घरवाले?

वीडियो में क्या कहा कानपुर कांड के आरोपी ने?

विकास दुबे को बचाने के लिए अपने ही साथियों को धोखा देने वाले दो पुलिसवाले धर लिए गए हैं

घटना में आठ पुलिसवाले शहीद हुए थे.

PM Cares के पैसों से बने वेंटिलेटर पर सवाल उठे तो बनाने वाले ने राहुल गांधी को घेर लिया

कहा कि राहुल गांधी के सामने डेमो दिखा सकता हूं.