Submit your post

Follow Us

गुरुग्राम के डॉक्टर ने चाकू, हथौड़े से पहले पत्नी, बेटे और बेटी को मारा, फिर खुद फांसी लगा ली

मैं पूरी तरह नाकाम हो गया हूं. अपने साथ अपने परिवार को भी ले जा रहा हूं. मैं सही तरीके से अपना परिवार नहीं चला पाया. जो कुछ भी हुआ है उसका जिम्मेदार केवल मैं हूं.

2019 के जुलाई महीने की पहली तारीख. सुबह के आठ बजे काम वाली बाई ने घर की घंटी बजाई. न दरवाज़ा खुला, न किसी ने अंदर से आवाज़ ही दी. बाई मदद के लिए पड़ोसी के घर पहुंची. पड़ोसी ने घर के मालिक-मालकिन को फोन मिलाया. मगर दोनों के फोन बंद. आखिरकार पुलिस को बुलाया गया. पुलिस ने प्लंबर की मदद से दरवाज़ा खुलवाया. लोगों ने देखा, 55 साल के प्रकाश सिंह की लाश ड्रॉइंग रूम की छत पर लगे पंखे से टंगी है. अंदर बेडरूम में तीन और लाशें हैं- बेटी अदिति (21) और बेटा आदित्य (12). चौथी लाश पत्नी सोनू (49) की थी. तीनों खून के ढेर में पड़े थे. इन चार लाशों के अलावा घर में चार कुत्ते भी थे. वो ही ज़िंदा रहे बस. लोगों ने देखा, कुत्ते लाश के पास बैठे हैं. प्रकाश सिंह की जेब से एक सूइसाइड नोट मिला. इसपर 1 जुलाई की तारीख डली थी. इसमें जो लिखा था, वो आप ऊपर पढ़ चुके हैं.

ये कोमल हैं. प्रकाश इनके पति थे. कोमल का अपना स्कूल था (फोटो: इंडिया टुडे)
ये सोनू हैं. प्रकाश इनके पति थे. सोनू का अपना स्कूल था (फोटो: इंडिया टुडे)

एक महीने से ऑफिस नहीं जा रहे थे
प्रकाश सिंह गुड़गांव के सेक्टर 49 में रहते थे. ये काफी पॉश इलाका है. वो एक दवा बनाने वाली कंपनी में ऊंचे ओहदे पर थे. पत्नी सोनू हरियाणा में ही स्कूल चलाती थीं. इसके अलावा वो गरीब बच्चों के लिए भी एक स्कूल चलाती थीं. अदिति जामिया से पोस्ट ग्रेजुएशन कर रही थी. आदित्य 7वीं में पढ़ता था. प्रकाश पिछले तकरीबन एक महीने से काम पर नहीं जा रहे थे. उनके पास नौकरी नहीं थी. पुलिस का कहना है कि 15 जुलाई से प्रकाश को हैदराबाद में एक नौकरी जॉइन करनी थी.

चाकू और हथौड़ा
पुलिस को जिस कमरे में कोमल और दोनों बच्चों की लाशें मिलीं, वहीं से एक चाकू और हथौड़ा भी मिला. पोस्टमॉर्टम के मुताबिक, कोमल और दोनों बच्चों के सिर पर किसी धारदार और तेज़ हथियार से वार किया गया था. शुरुआती जांच से पुलिस को फिलहाल ये लग रहा है कि पहले प्रकाश ने अपनी पत्नी और बच्चों को मारा और फिर खुदकुशी कर ली. सोनू की बहन सीमा अरोड़ा दिल्ली के ईस्ट ऑफ कैलाश में रहती हैं. खबर मिलने पर वो मौके पर पहुंची. इस मामले में पुलिस ने जो केस दर्ज़ किया है, उसकी शिकायतकर्ता सीमा ही हैं.

इंडियन एक्सप्रेस में भी साक्षी दयाल की बायलाइन से ये खबर छपी है. ऑटोप्सी करने वाले डॉक्टर दीपक माथुर ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया-

महिला के सिर पर 19 जख़्म थे. बेटी के सिर पर आठ और बेटे के सिर पर 12 चोटें थीं. विसरा को आगे जांच के लिए भेजा गया है. उन्हें किसी तरह की दवा या नशीली चीज दी गई हो, ऐसा भी नहीं लगता. ये सारी मौतें आधी रात के करीब हुई होंगी.

ऐसे कई मामले होते हैं. जब इंसान पूरे परिवार को मारकर खुद की जान ले लेता है. मगर इतने हिंसक तरीके से चाकू मारकर, हथौड़े से वार करके बीवी-बच्चों की जान ले लो, ये तो बहुत ख़ौफनाक है.


पंजाब में 13 साल के बच्चे ने 4 साल की बच्ची से रेप के बाद आत्महत्या की कोशिश की

दिल्ली के पहाड़गंज में ससुर ने बहू का गला रेतकर थाने में सरेंडर कर दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लॉकडाउन के बीच इस कंपनी ने 600 लोगों को नौकरी से निकाल दिया?

स्थानीय विधायक ने मामले की शिकायत कर्नाटक सरकार और केंद्र सरकार से की है.

आयुष्मान कार्ड वालों की फ़्री कोरोना जांच होगी, लेकिन 2 करोड़ परिवार इस लिस्ट से ही ग़ायब!

क्या गड़बड़ी हुई गिनती में?

20 अप्रैल से कौन-कौन से लोग अपना काम-धंधा शुरू कर सकते हैं?

और खाने-पीने के सामान को लेकर सरकार ने क्या कहा?

लॉकडाउन के बीच ज़रूरी सामान भेजना है? बस एक कॉल पर हो जाएगा काम

रेलवे अधिकारियों ने शुरू की है 'सेतु' सर्विस.

सड़क पर मजदूरों संग खाना खाने वाले अर्थशास्त्री ने सरकार को कमाल का फॉर्मूला सुझाया है

कोरोना और लॉकडाउन ने मजदूर को कहीं का नहीं छोड़ा.

सरकार की नई गाइडलाइंस, जानिए किन इलाकों में, किन लोगों को लॉकडाउन से छूट

कोरोना से निपटने के लिए लॉकडाउन पहले ही बढ़ाया जा चुका है.

टेस्टिंग किट की बात पर राहुल गांधी ने भारत की तुलना किन देशों से की?

कहा, 'हम पूरे खेल में कहीं नहीं हैं.'

चीन से भारत के लिए चली टेस्टिंग किट की खेप अमरीका निकल गयी!

और अभी तक भारत में नहीं शुरू हो पाई मास टेस्टिंग.

कोरोना: मरीजों की खातिर बेड और लैब के लिए कितना तैयार है भारत, PM मोदी ने बताया

लॉकडाउन बढ़ाने के अलावा पीएम ने क्या-क्या कहा?

15 अप्रैल को लॉकडाउन-2 की जो गाइडलाइंस आनी हैं, उनमें क्या-क्या हो सकता है

पूरे देश में 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ चुका है.