Submit your post

Follow Us

ऑस्ट्रेलियन क्रिकेटर डीन जोंस नहीं रहे, IPL 2020 कमेंट्री के लिए भारत आए थे

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज क्रिकेटर डीन जोंस का निधन हो गया. वे आईपीएल कमेंट्री के लिए मुंबई में थे. यहीं पर 24 सितंबर को उन्हें हार्ट अटैक आया. इससे उन्हें बचाया नहीं जा सका. 59 साल के जोंस स्टार स्पोर्ट्स की कमेंट्री टीम के सदस्य थे. वे पिछले कई दिनों से मुंबई के एक होटल में ‘बायो बबल’ में रह रहे थे. डीन जोंस क्रिकेट से रिटायर होने के बाद से कमेंट्री और एनालिस्ट की भूमिका में थे. आईपीएल के लिए वे कई बरस से कमेंट्री कर रहे थे.

भारत में भी वे काफी लोकप्रिय थे. समाचार चैनल एनडीटीवी पर ‘प्रोफेसर डीनो’ के नाम से उनका क्रिकेट शो भी आता था. यह काफी लोकप्रिय शो था. आईपीएल के अलावा भी वे कई देशों में कमेंट्री करते थे. स्टार इंडिया ने बयान जारी कर कहा कि अचानक से आए गंभीर हार्ट अटैक के चलते जोंस का निधन हो गया.

ये जीवन है

जोंस की मौत ने सभी को हिला दिया. साथ ही उनकी मौत ने एक बार फिर से जीवन की अनिश्चितता को पुख्ता किया. दरअसल, 23 सितंबर को एक क्रिकेट फैन ने जोंस की कमेंट्री से शिकायत जताई. उसने ‘स्टार स्पोर्ट्स’ से उन्हें हटाने को कहा. साथ ही कहा कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो उसे म्यूट में मैच देखने होगा. बाद में जोंस ने इस फैन को जवाब भी दिया था. कहा था कि वे तो हटने से रहे. ऐसे में टीवी की आवाज म्यूट कर ले तो ठीक रहेगा. लेकिन 24 घंटे बाद अब जोंस इस दुनिया में ही नहीं हैं.

डीन जोंस का वह ट्वीट.
डीन जोंस का वह ट्वीट.

ऑस्ट्रेलिया के कामयाब क्रिकेटरों में शामिल थे जोंस

उनका जन्म ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न शहर में हुआ था. आगे चलकर ऑस्ट्रेलिया के लिए उन्होंने 52 टेस्ट और 164 वनडे मुकाबले खेले. टेस्ट में उन्होंने 46.55 की औसत से 3631 रन बनाए. इस फॉर्मेट में उन्होंने 11 शतक लगाए थे और 216 रन उनका सर्वोच्च स्कोर था. वहीं वनडे में उनके नाम 6068 रन थे. इसमें उन्होंने सात शतक और 46 फिफ्टी लगाई. जब वे रिटायर हुए थे, उस समय वनडे क्रिकेट में उनसे ज्यादा एवरेज केवल सर विवियन रिचर्ड्स की ही थी.

उल्टियां करते-करते डबल सेंचुरी मार दी थी

भारत के खिलाफ 1986 में मद्रास (चेन्नई) टेस्ट की उनकी पारी को काफी याद किया जाता है. यह टेस्ट टाई रहा था. लेकिन डीन जोंस ने डिहाइड्रेशन से जूझते और मैदान पर उल्टियां करते हुए भी खेलना जारी रखा. और दोहरा शतक जड़ दिया. वे 210 रन की पारी खेलकर पवेलियन लौटे. उनकी पारी के बूते ऑस्ट्रेलिया ने 574 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया. आगे चलकर मैच टाई रहा. मैच के बाद जोंस को आईवी ड्रिप यानी ग्लूकोज की बोतलें चढ़ानी पड़ी थी. जोंस की पारी को भारतीय सरजमीं पर किसी भी विदेशी बल्लेबाज की बेस्ट पारियों में गिना जाता है.

भारत में 1987 में हुए वर्ल्ड कप को ऑस्ट्रेलिया ने जीता था. इसमें भी डीन जोंस की अहम भूमिका थी. इस वर्ल्ड कप में उन्होंने 44 की औसत से 314 रन बनाए थे. और ऑस्ट्रेलिया को पहली बार वर्ल्ड चैंपियन बनाया था.

अमला को कह दिया था ‘आतंकी’

डीन जोंस ने पाकिस्तान सुपर लीग में कोचिंग की भूमिका भी अपनाई. कमेंटेटर की अपनी भूमिका में जोंस विवादों में भी रहे. साल 2006 में उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के क्रिकेटर हाशिम अमला के लिए ‘टेरेरिस्ट’ शब्द इस्तेमाल कर दिया था. इस पर काफी बवाल हुआ. बाद में जोंस को माफी मांगनी पड़ी.


Video: IPL 2020 शुरुआती हफ्ते में ही घायल हो चुके हैं आठ प्लेयर, ऐसे कैसे चलेगा खेल?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

दिल्ली के एम्स में उनका इलाज चल रहा था.

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

भारत में किसी खिलाड़ी को जो मुकाम हासिल नहीं हुआ, वो अब धोनी को मिलने वाला है.

अंतरिक्ष में भी लद्दाख जैसी हरकतें कर रहा है चीन

भारत के सैटेलाइट पर है ख़तरा!

चुनाव लड़ने के लिए गुप्तेश्वर पांडे ने दूसरी बार पुलिस सेवा से रिटायरमेंट ले ली है

2009 में भी गुप्तेश्वर पांडे ने वीआरएस लिया था, पर तब बीजेपी ने टिकट नहीं दिया था.

दिल्ली दंगे के लिए पुलिस ने अब इस ग्रुप को जिम्मेदार ठहराया है

चार्जशीट में दिल्ली पुलिस ने और क्या कहा है?

किस बात पर पंजाब में सनी देओल के 'सामाजिक बहिष्कार' की बात हो रही है?

कुछ लोग कह रहे हैं कि अपने गांवों में घुसने नहीं देंगे.

एक्ट्रेस के यौन शोषण के इल्ज़ाम पर अनुराग कश्यप का जवाब आया है

पायल घोष ने आरोप लगाया है.

चीन की इंटेलीजेंस को गोपनीय रिपोर्ट्स भेजने के आरोप में चीन की महिला सहित पत्रकार गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने कई सारे मोबाइल फोन, लैपटॉप समेत कई सेंसिटिव दस्तावेज भी बरामद किए हैं.

केरल और बंगाल से अल कायदा के 9 संदिग्ध आतंकी गिरफ्तार!

एनआईए ने दोनों राज्यों में छापे मारे.

हरसिमरत कौर बादल ने किसानों से जुड़े मुद्दे को लेकर मोदी सरकार से इस्तीफा दिया

हरसिमरत कौर केंद्र सरकार में फूड प्रॉसेसिंग इंडस्ट्रीज मिनिस्टर थीं.