Submit your post

Follow Us

महाराष्ट्र में रातों रात बदला गेम, देवेंद्र फडणवीस सीएम और एनसीपी के अजित पवार डिप्टी सीएम बने

1
शेयर्स

महाराष्ट्र में बड़ा राजनीतिक उलटफेर हो गया है. शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस पिछले कुछ दिनों से सरकार बनाने के लिए मीटिंग पर मीटिंग कर रहे थे. 22 नवंबर को ऐसी खबरें आईं कि 23 नवंबर यानी शनिवार को तीनों पार्टियां सरकार बनाने का दावा पेश करेंगी. लेकिन शनिवार सुबह बीजेपी ने एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बना ली. राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने देवेंद्र फडणवीस को सीएम पद की शपथ दिलाई. वहीं, अजित पवार को डिप्टी सीएम का पद मिला है. इससे पहले शरद पवार ने कहा था कि महाराष्‍ट्र में शिवसेना के नेतृत्‍व में सरकार बनेगी, लेकिन रातों रात बाजी पलट गई. और फडणवीस सीएम बन गए.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फडणवीस को दोबारा सीएम बनने पर बधाई दी. प्रधानमंत्री ने कहा कि मुझे विश्‍वास है कि दोनों नेता महाराष्‍ट्र के बेहतर भविष्‍य के लिए मिलकर काम करेंगे. शपथ लेने के बाद देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि हमने चुनाव जीता था. और शिवसेना पीछे हट गई. महाराष्‍ट्र को स्थिर शासन की जरूरत थी. इसलिए हम साथ आए हैं. हम राज्‍य को एक स्थिर सरकार देंगे. फडणवीस ने कहा कि राज्‍य को खिचड़ी सरकार की जरूरत नहीं थी. शिवसेना ने जनादेश का अपमान किया. इसलिए हमें यह कदम उठाना पड़ा.

अजीत पवार ने कहा कि चुनाव परिणाम के दिन से ही कोई भी पार्टी सरकार बनाने की स्थिति में नहीं थी. महाराष्‍ट्र कई समस्‍याओं का सामना कर रहा है जिसमें किसानों का मुद्दा शामिल है. महाराष्‍ट्र में किसानों की समस्‍या हमारी प्राथमिकता है. इसलिए हमने एक स्थिर सरकार बनाने का फैसला किया.

वही एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा कि ये फैसला पार्टी का नहीं है. शरद पवार ने उद्धव ठाकरे से बात की है. बीजेपी को समर्थन देना का फैसला एनसीपी का नहीं है. एनसीपी इस फैसले के साथ नहीं है. शरद पवार ने कहा कि अजित पवार ने पार्टी तोड़ दी. एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल ने कहा कि शरद पवार का महाराष्ट्र में गठित सरकार से कोई लेना-देना नहीं है. हम अजित पवार के फैसले का समर्थन नहीं करते हैं. बीजेपी को समर्थन अजित पवार का निजी फैसला है.

शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि अजित पवार वकील से मिलने के बहाने बाहर गए थे. सत्ता और पैसे के दम पर पूरा खेला हुआ है. अजित पवार नजर नहीं मिला पा रहे थे. अंधेरे में अजित पवार ने डाका डाला है. संजय राउत ने कहा कि राज्यपाल भी इसमें शामिल हैं. राजभवन की शक्तियों का दुरुपयोग हुआ है. बीजेपी और फडणवीस सत्ता के लिए कुछ भी कर सकते हैं.अजित पवार और उनके साथियों ने छत्रपति शिवाजी का नाम बदनाम किया है. आज सुबह दो बार उद्धव ठाकरे से शरद पवार की बात हुई थी. अजित पवार को ईडी की जांच का डर है.


उद्धव ठाकरे को महाराष्ट्र का सीएम बनाने पर कैसे राजी हुई कांग्रेस और एनसीपी?।दी लल्लनटॉप शो। एपिसोड 351

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

तापसी पन्नू ने सोनम कपूर के भाई के बारे में वो बात बोल दी है कि हंगामा होगा

अनिल कपूर को काफी चुभ सकती है ये बात.

उद्धव ठाकरे ही होंगे सीएम, शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की सरकार बनेगी!

23 नवंबर यानी शनिवार को हो सकता है एलान.

अलवर के एसपी ने नौ मुस्लिम पुलिसवालों से कहा, 'आगे से दाढ़ी मत रखना'

32 पुलिसवालों को इजाज़त मिली थी, सिर्फ इन नौ से वापस ले ली गई.

मैच के बीच पूरा ईडन चिल्लाया सचिन-सचिन और फिर 16 नवंबर 2013 की याद आ गई

सचिन के एक्सप्रेशंस अनमोल थे.

Google के इस कदम के बाद फेक न्यूज फैलाने वाले सिर पीट लेंगे

पॉलिटिकल ऐड्स से जुड़े नियमों को कड़ा कर दिया है.

'पति पत्नी और वो' के जिस डायलॉग से जनता को दिक्कत थी, उसके साथ कांड हो गया

फिल्म के एक्टर्स माफी मांग रहे हैं लेकिन जनता पब्लिक पर कोई असर नहीं है.

महेश कटारे को मिला साल 2019 का श्रीलाल शुक्ल स्मृति इफको साहित्य सम्मान

महेश को जनवरी 2020 में दिल्ली में सम्मानित किया जाएगा.

शमी की गेंद बांग्लादेशी खिलाड़ी के सिर पर लगी, उनका फिजियो नहीं आया तो कोहली ने अपना बुलवा लिया

मोहम्मद शमी बल्लेबाजों के स्टम्पस पर कम, शरीर पर ज्यादा गेंदे मार रहे हैं.

प्राइवेट कॉलेजों में मेडिकल की फीस घटने वाली है?

मौजूदा वक्त में 1.2 करोड़ रुपये तक की फीस ली जाती है.

ईशांत शर्मा ने मारा पंजा, पिंक टेस्ट में पस्त हुआ बांग्लादेश

12 साल बाद घर में ये कारनामा किया ईशांत ने.