Submit your post

Follow Us

ऑक्सीजन कंसंट्रेटर कालाबाजारी केस: मैट्रिक्स के CEO को जमानत देते हुए कोर्ट ने क्या कहा?

ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी से जुड़े मामले में मैट्रिक्स सेलुलर के CEO गौरव खन्ना समेत 4 लोगों को दिल्ली की साकेत कोर्ट ने ज़मानत दे दी है. कोर्ट ने चारों आरोपियों को 50-50 हज़ार के निजी मुचलके पर छोड़ा है.

कोर्ट ने क्या कहा?

जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान कोर्ट ने मंगलवार, 11 मई को कहा था कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के रेट को रेगुलेट करने के लिए सरकार कोई नियम नहीं बना रही है, फिर बिजनेसमैन को कैसे टारगेट कर सकते हैं. अगर बिजनेसमैन कुछ कमाने के लिए महामारी में कुछ कर रहा है तो वो अपराध की श्रेणी में कैसे आ सकता है.

कोर्ट ने कहा कि हम मीडिया में नहीं हैं. क्या हो रहा है समाज में ये दिखाना हमारा काम नहीं है. राज्य को अपने लोगों के लिए निष्पक्ष होना ज़रूरी है. चाहे वो बिजनेसमैन ही क्यों न हो. शराब भी महामारी में बेची जा रही है, क्योंकि उससे आर्थिक फ़ायदा होता है. लॉकडाउन में क्या बिज़नेस करना कोई अपराध है? अगर कोई बिजनेसमैन बाहर से कोई सामान मांगकर देश में बेच रहा है तो क्या ये गलत है?

पुलिस की दलील क्या रही?

सरकारी वकील अतुल श्रीवास्तव ने कहा कि पूरा विश्व कोरोना महामारी से प्रभावित है. आरोपियों ने इसका फायदा उठाते हुए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर महंगे दाम पर बेचने शुरू कर दिए. ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का रेट अमूमन 10 से 20 हजार रुपये होता है, लेकिन अभी की परिस्थितियों का लाभ उठाकर इन्होंने इसे 70 हजार तक में बेचना शुरू कर दिया.

Khan Chacha Restaurant
पुलिस ने साउथ दिल्ली के लोधी रोड सेंट्रल मार्केट में चल रहे एक रेस्टोरेंट एंड बार में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी के आरोप में  4 लोगों को गिरफ्तार किया था.

वहीं गिरफ्तार आरोपियों की ओर से पेश वकील ने कोर्ट से कहा कि कुछ भी गलत नहीं किया गया. सब कुछ लीगल तरीके से बेचा गया. फिर यह  कालाबाजारी कैसे हुई? लुकआउट नोटिस जारी करने का क्या मतलब है.

नवनीत कालरा की अग्रिम जमानत पर फैसला कल

वहीं न्यूज एजेंसी PTI की एक खबर के मुताबिक, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी के मामले में दिल्ली के मशहूर खान चाचा रेस्टोरेंट के मालिक नवनीत कालरा की अग्रिम जमानत याचिका पर कोर्ट 13 मई को फैसला सुनाएगी. अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश संदीप गर्ग ने अभियोजन और बचाव दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया.

हाल ही में नवनीत कालरा के तीन रेस्टोरेंट से पुलिस ने 524 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बरामद किए थे. संदेह है कि नवनीत कालरा अपने परिवार के साथ दिल्ली छोड़कर जा चुका है.

सुनवाई के दौरान सरकारी वकील अतुल श्रीवास्तव ने नवनीत कालरा की गिरफ्तारी से पहले जमानत याचिका का विरोध किया. कोर्ट को बताया कि नवनीत कालरा से हिरासत में पूछताछ की जरूरत है. कालरा को जमानत नहीं दी जानी चाहिए, क्योंकि वह प्रभावशाली व्यक्ति है. सरकारी वकील ने कहा कि नवनीत कालरा का इरादा जनता को बड़े पैमाने पर धोखा देना था. अगर दिल्ली पुलिस ने इस रैकेट का भंडाफोड़ नहीं किया होता तो कई लोग ठगे जाते.

Navneet
नवनीत कालरा की फाइल फोटो

कोर्ट को जब्त किए गए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर से संबंधित लैब रिपोर्ट भी दिखाई गई. इसमें कहा गया है कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर काम नहीं कर रहे हैं. उनकी क्वालिटी खराब है. वर्किंग कैपेसिटी सिर्फ 20.8 प्रतिशत है.

नवनीत कालरा के वकील ने क्या कहा?

नवनीत कालरा के वकील विकास पाहवा ने दलील दी कि जब सरकार ने ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के रेट फिक्स नहीं किए हैं, तो ऐसे में उनके मुवक्किल पर यह आरोप कैसे लग सकता है कि वह कंसंट्रेटर को ज्यादा दामों पर बेच रहे थे. विकास पाहवा ने कहा कि उनके क्वाइंट को बलि का बकरा बनाया जा रहा है. अगर मौका दिया जाए तो कालरा दो घंटे के भीतर एजेंसियों के सामने पेश हो सकते हैं. इस कठिन समय में जब कोरोना की वजह से जेल में भी हालात ठीक नहीं हैं कालरा को अग्रिम जमानत मिलनी चाहिए.


उम्मीद की बात: फ्री कोचिंग सेंटर चलाने वाले लड़के अब लोगों को ऑक्सीजन भी उपलब्ध कर रहे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

यूपी के हर जिले में कोरोना से जुड़ी शिकायतों की सुनवाई की हाई कोर्ट ने स्पेशल व्यवस्था कर दी है

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने चुनावी ड्यूटी में जान गंवाने वालों पर भी अहम फैसला दिया है.

नदी में कोरोना पीड़ितों के शव बहाने से क्या पानी संक्रमित हो जाता है?

बिहार और यूपी में ऐसे मामले सामने आ रहे हैं.

कनाडा के बाद अब अमेरिका में भी 12 से 15 साल के बच्चों को लगेगी फाइज़र की वैक्सीन

ये वैक्सीन भारत कब तक आएगी.

डॉक्टरों की सबसे बड़ी संस्था IMA ने कोरोना पर सरकार को खूब सुनाया है!

कहा-स्वास्थ्य मंत्रालय का रवैया हैरान करने वाला.

दिल्ली में फिर बढ़ा लॉकडाउन, इस बार और भी सख़्ती

दिल्ली के सीएम ने क्या बताया?

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

लगातार हो रही हिंसा की जांच के लिए होम मिनिस्ट्री ने अपनी टीम बंगाल भेज दी है.

पंजाबी फ़िल्मों के मशहूर एक्टर-डायरेक्टर सुखजिंदर शेरा का निधन

कीनिया में अपने दोस्त से मिलने गए थे, वहां तेज बुखार आया था.

सलमान खान ने मदद मांगने वाले 18 साल के लड़के को यूं दिया सहारा!

कुछ दिन पहले ही कोरोना से अपने पिता को गंवा दिया.

उत्तराखंड में एक और आपदा, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग के पास बादल फटा

भारी नुक़सान की ख़बरें लेकिन एक राहत की बात है

क्या वाकई केंद्र सरकार ने मार्च के बाद वैक्सीन के लिए कोई ऑर्डर नहीं दिया?

जानिए वैक्सीन को लेकर देश में क्या चल रहा है.