Submit your post

Follow Us

ये झींगुर 17 साल जमीन के भीतर रहते हैं, फिर बाहर आकर बच्चे पैदा करते हैं और मर जाते हैं

अमेरिका का पूर्वी तट इस समय एक अजीब सी आवाज से गूंजता रहता है. 17 साल जमीन के भीतर रहकर, अंडरग्राउंड रहकर बिताने वाले कुछ झींगुर, लाल सुर्ख आंखों वाले झींगुर अब जमीन से बाहर निकल रहे हैं. ये आवाज इन्हीं झींगुरों की रहती है. ये हमिंग साउंड करते हैं. इतने बरस बाद ये जमीन से बाहर निकले हैं. अपने साथी के साथ संभोग करते हैं, बच्चे करते हैं और फिर मर जाते हैं. यानी जिंदगी के अंतिम कुछ दिन बिताने के लिए ये बाहर निकले हैं.

इस समय इन इलाकों में पेड़ों को तो माने इन झींगुरों ने पाट लिया है, ढक लिया है. जिस अजीब सी आवाज का हम ज़िक्र कर रहे हैं, वो निकालते हैं नर झींगुर. इस आवाज के जरिये वे मादा झींगुर को आकर्षित करते हैं. मादा झींगुर इस आवाज की दिशा में आती है. अगर कभी उसे आवाज सुनाई न दे तो वो वहां जाती है, जहां से आख़िरी बार उसने आवाज सुनी हो. इसलिए झींगुर की आवाज का प्रजनन में काफी महत्व होता है.

इस मौसम के आते ही वैज्ञानिक भी एक्टिव हो गए हैं. वे बदलते मौसम, मिट्टी के बदलते स्वभाव और जलवायु परिवर्तन के बीच ये अध्ययन करने की कोशिश कर रहे हैं कि इसका इन कीड़ों पर क्या असर पड़ रहा है.

दरअसल झींगुरों पर तापमान का बहुत ज़्यादा असर पड़ता है. जलवायु परिवर्तन के बीच 2017 में वैज्ञानिकों ने तमाम ऐसे झींगुर देखे थे, जो अपना 17 साल का काल पूरा किए बिना ज़मीन से बाहर आ गए थे. ऐसे में अब वैज्ञानिकों के अध्ययन का केंद्र ये सवाल है कि क्या इन झींगुरों के जीवन चक्र पर जलवायु परिवर्तन का बड़ा असर पड़ रहा है? यूनिवर्सिटी ऑफ कनेक्टिकट में 3 दशक से इन झींगुरों पर ही शोध चल रहा है. यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों का कहना है कि काफी समय से धरती का तापमान तेजी से बढ़ रहा है और उन्हें चिंता है कि इतने छोटे-छोटे जीव इससे तालमेल बैठा पाने में नाकाम रहे तो इनका जीवन चक्र बुरी तरह प्रभावित होगा और कई प्रजातियों के नष्ट होने का ख़तरा भी हो सकता है.

शोधकर्ता ये भी देख रहे हैं कि किन-किन क्षेत्रों में इस तरह के झींगुर पाए जाते हैं. साथ ही जहां से भी संभव हो, इनके कुछ DNA भी इकट्ठा किए जा रहे हैं ताकि उनके आधार पर ये देखा जा सके कि इन्हें कब पता चलता है कि अब बाहर आकर प्रजनन का समय आ चुका है. कैसे इनका जीवन चक्र चलता है?


क्या पत्ता गोभी में पाया जाने वाला ये कीड़ा मरता नहीं है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सुवेंदु अधिकारी और उनके भाई के खिलाफ राहत सामग्री चोरी करने के आरोप में FIR

सुवेंदु अधिकारी और उनके भाई के खिलाफ राहत सामग्री चोरी करने के आरोप में FIR

वेस्ट बंगाल पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है.

अलीगढ़ शराबकांड का मुख्य आरोपी और एक लाख का इनामी ऋषि शर्मा गिरफ्तार

अलीगढ़ शराबकांड का मुख्य आरोपी और एक लाख का इनामी ऋषि शर्मा गिरफ्तार

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जहरीली शराब से अब तक 108 लोगों की मौत हो चुकी है.

ट्विटर ने उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू के अकाउंट से ब्लू टिक हटाया, कुछ ही घंटे में रिस्टोर किया

ट्विटर ने उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू के अकाउंट से ब्लू टिक हटाया, कुछ ही घंटे में रिस्टोर किया

पर्सनल अकाउंट से हटा था ब्लू टिक, ट्विटर ने वजह बताई.

यूपीः भाजपा नेताओं ने हिस्ट्रीशीटर को पुलिस की गिरफ्त से छुड़ाकर भगा दिया, पुलिस अब तक तलाश रही है

यूपीः भाजपा नेताओं ने हिस्ट्रीशीटर को पुलिस की गिरफ्त से छुड़ाकर भगा दिया, पुलिस अब तक तलाश रही है

कानपुर की घटना, पुलिस ने शुरुआती FIR में बीजेपी नेताओं का नाम ही नहीं लिखा.

राजस्थान में क्या सचमुच कोरोना वैक्सीन की जमकर बर्बादी हो रही है?

राजस्थान में क्या सचमुच कोरोना वैक्सीन की जमकर बर्बादी हो रही है?

अशोक गहलोत सरकार का इनकार, लेकिन आंकड़े कुछ और ही बता रहे.

रिटायर्ड जस्टिस अरुण मिश्रा को मोदी सरकार ने NHRC चेयरमैन बनाया तो बवाल क्यों हो रहा है?

रिटायर्ड जस्टिस अरुण मिश्रा को मोदी सरकार ने NHRC चेयरमैन बनाया तो बवाल क्यों हो रहा है?

लोग जस्टिस अरुण मिश्रा को इस पद के लिए चुने जाने का बस एक ही कारण गिना रहे हैं.

क्या कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों को लेकर मोदी सरकार झूठ बोल रही है?

क्या कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों को लेकर मोदी सरकार झूठ बोल रही है?

अलग-अलग आंकड़े क्या कहानी बताते हैं?

लक्षद्वीप में दारू और बीफ़ वाले नियमों पर बवाल बढ़ा तो अमित शाह ने क्या कहा?

लक्षद्वीप में दारू और बीफ़ वाले नियमों पर बवाल बढ़ा तो अमित शाह ने क्या कहा?

लक्षद्वीप के सांसद मोहम्मद फैज़ल ख़ुद मिलने गए थे अमित शाह से

पत्रकार से IAS बने अलपन बंदोपाध्याय, जो ममता और मोदी सरकार में रस्साकशी की नई वजह बन गए हैं

पत्रकार से IAS बने अलपन बंदोपाध्याय, जो ममता और मोदी सरकार में रस्साकशी की नई वजह बन गए हैं

ममता बनर्जी ने केंद्र के आदेश की क्या काट ढूंढ निकाली है?

वैक्सीनेशन पर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को घेरा, पूछा- वैक्सीन का एक रेट क्यों नहीं?

वैक्सीनेशन पर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को घेरा, पूछा- वैक्सीन का एक रेट क्यों नहीं?

वैक्सीन की कमी, राज्यों के टेंडर जैसे मुद्दों पर भी सरकार से तीखे सवाल किए.