Submit your post

Follow Us

कोकीन के चलते कैसे इंडियन बिजनेसमैन के प्लान में फंसा इंटरनैशनल कैप्टन?

ब्रेंडन टेलर. जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज. ब्रेंडन टेलर ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक सनसनीखेज खुलासा किया है. इस खुलासे से क्रिकेट जगत हैरान है. ब्रेंडन टेलर ने बताया है कि उन्हें एक भारतीय बिजनेसमैन ने स्पॉट फिक्सिंग के लिए खूब ब्लैकमेल किया. जिसकी वजह से उन्हें मानसिक परेशानियों से जूझना पड़ा. और अंत में तंग आकर टेलर ने पूरी दुनिया के सामने पूरी कहानी रख दी.

जिम्बाब्वे के पूर्व खिलाड़ी ब्रेंडन टेलर ने ट्विटर पर एक लंबी पोस्ट लिखते हुए खुलासा किया कि अक्टूबर 2019 में वह इंडिया आए थे. उन्हें स्पॉन्सरशिप डील और जिम्बाब्वे में T20 टूर्नामेंट के बारे में बातचीत के लिए बुलाया गया था. टेलर उस समय आर्थिक तौर पर काफी कमजोर हो गए थे. साथ ही जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड ने भी छह महीने से सैलरी नहीं दी थी. और जिम्बाब्वे क्रिकेट का भविष्य भी अधर में लटका हुआ था. सवाल ये भी था कि क्या जिम्बाब्वे क्रिकेट आगे इंटरनेशनल मैच खेल पाएगा भी या नहीं?

इन सबके बीच इंडियन बिजनेसमैन से बातचीत होने के बाद ब्रेंडन टेलर को डिनर पर ले जाया गया. और ब्लैकमेल की कहानी यहीं से शुरू हुई. ब्रेंडन टेलर ने ट्वीट में आगे बताया,

‘उस शाम हमने शराब पी और उन्होंने खुले तौर पर मुझे कोकीन ऑफर किया. जिसे वे खुद भी ले रहे थे. इसके बाद मैं उसके जाल में फंसता चला गया. अगली सुबह, वही लोग मेरे होटल के कमरे में घुस गए और ड्रग्स लेते हुए मुझे मेरा वीडियो दिखाया और कहा कि अगर मैंने उनके लिए इंटरनेशनल मैचों में स्पॉट फिक्सिंग नहीं की, तो वो मेरा वीडियो वायरल कर देंगे. मुझे चिंता होने लगी. साथ ही होटल के कमरे में छह लोगों को देखकर मैं डर भी गया था.’

टेलर ने आगे बताया,

‘मुझे उन लोगों ने एडवांस में 15000 डॉलर दिए थे. और कहा कि काम होने के बाद बाकी के 20000 डॉलर देंगे. मैंने पैसे लिए ताकि प्लेन में बैठ सकूं और वापस घर आ सकूं. मुझे लगा कि मेरे पास कोई और दूसरा रास्ता नहीं है. लेकिन मुझे ये भी पता था कि इस चीज़ से बाहर निकलना है.’

बता दें कि ब्रेंडन टेलर ने स्वीकारा कि पैसा लेने के बाद भी उन्होंने कोई स्पॉट फिक्सिंग नहीं की. क्रिकेट और देश से गद्दारी नहीं की. साथ ही जिम्बाब्वे के इस पूर्व विकेटकीपर ने माफ़ी मांगते हुए कहा कि उन्होंने ICC को बताने में देरी की. टेलर ने आगे कहा,

‘वो बिजनेसमैन अपने इन्वेस्टमेंट पर रिटर्न चाहता था, जो कि मैंने नहीं दिया और न ही कभी दूंगा. मुझे इसे रिपोर्ट करने में चार महीने लग गए. जानता हूं कि मैंने बताने में लंबा वक्त लिया. लेकिन मुझे अपनी फैमिली को बचाना था. मैंने अपनी शर्तों पर ICC को अप्रोच किया. मैं ऑन रिकॉर्ड बताना चाहूंगा कि मैं किसी भी तरह की मैच फिक्सिंग में शामिल नहीं था. मैं कुछ भी हो सकता हूं, लेकिन मैं धोखेबाज नहीं.’

बता दें कि ब्रेंडन टेलर ने 2011 से लेकर 2021 तक जिम्बाब्वे के लिए तीनों फॉर्मेट के 71 मैच में कप्तानी की. 2015 विश्व कप के बाद ब्रेंडन टेलर ने कोलपैक डील साइन कर 29 साल की उम्र में संन्यास ले लिया था. बाद में जब डील खत्म हुई तो 2017 में इंटरनेशनल क्रिकेट में लौटे. टेलर ने जिम्बाब्वे के लिए 34 टेस्ट में छह शतक और 12 अर्धशतक की मदद से 2320 रन बनाए. वहीं 205 वनडे में टेलर ने 11 शतक और 39 अर्धशतक की मदद से 6684 रन बनाए. इसके अलावा टेलर ने 45 T20I मैचों में छह अर्धशतक की मदद से 934 रन भी बनाए.

बताते चलें कि ब्रेंडन टेलर के इस खुलासे पर अब तक ICC की तरफ से कोई बयान नहीं आया है. लेकिन पैसे लेने और देर से बताने के जुर्म में ब्रेंडन टेलर पर कई सालों का बैन लगना तय है.


विराट कोहली की प्रेस कॉन्फ्रेंस देख सौरव गांगुली ने कर ली थी ये बड़ी तैयारी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लल्लनटॉप अड्डा: 9 अप्रैल को मचने वाले धमाल का पूरा शेड्यूल पढ़ लो!

लल्लनटॉप अड्डा: 9 अप्रैल को मचने वाले धमाल का पूरा शेड्यूल पढ़ लो!

हंसी होगी, संगीत होगा और होंगे सौरभ द्विवेदी!

ED ने किन मामलों में सत्येंद्र जैन और संजय राउत के परिवारों की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की है?

ED ने किन मामलों में सत्येंद्र जैन और संजय राउत के परिवारों की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की है?

कार्रवाई पर संजय राउत भड़क गए हैं.

यूपी सरकार के लिए गोरखनाथ मंदिर हमला 'आतंकी घटना', हमलावर के पिता ने क्या बताया?

यूपी सरकार के लिए गोरखनाथ मंदिर हमला 'आतंकी घटना', हमलावर के पिता ने क्या बताया?

यूपी सरकार ने आरोपी के खिलाफ तगड़ी जांच के आदेश दे दिए हैं.

1 अप्रैल से E-Invoicing अनिवार्य, फर्जी बिल बनाने वालों की नींद उड़ी

1 अप्रैल से E-Invoicing अनिवार्य, फर्जी बिल बनाने वालों की नींद उड़ी

20 करोड़ सालाना बिक्री पर ई-इनवॉइसिंग जरूरी, टैक्स चोरी थमेगी.

रुचि सोया के FPO के 'चमत्कार' को नमस्कार करने के बजाय SEBI ने क्यों दिखाई सख्ती?

रुचि सोया के FPO के 'चमत्कार' को नमस्कार करने के बजाय SEBI ने क्यों दिखाई सख्ती?

वजह पतंजलि समूह का एक कथित संदेश बताया गया है?

योगी सरकार 2.0 में राज्यमंत्री बने नेताओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप?

योगी सरकार 2.0 में राज्यमंत्री बने नेताओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप?

कई पुराने तो कुछ नए चेहरों को मंत्रीमंडल में जगह मिली है.

योगी आदित्यनाथ ने ली CM पद की शपथ, जानें कौन-कौन बना मंत्री

योगी आदित्यनाथ ने ली CM पद की शपथ, जानें कौन-कौन बना मंत्री

योगी आदित्यनाथ के साथ 52 मंत्रियों ने भी ली शपथ

बीरभूम हिंसा पर सीएम ममता बनर्जी ने क्या कहकर अपनी ही पुलिस पर निशाना साधा?

बीरभूम हिंसा पर सीएम ममता बनर्जी ने क्या कहकर अपनी ही पुलिस पर निशाना साधा?

ममता बनर्जी ने घटना के पीछे साजिश होने की आशंका भी जताई.

बिहार विधानसभा में शून्य हुई VIP, तीनों विधायक बीजेपी में शामिल

बिहार विधानसभा में शून्य हुई VIP, तीनों विधायक बीजेपी में शामिल

बोचहां विधानसभा उपचुनाव और एमएलसी इलेक्शन से पहले मुकेश सहनी को तगड़ा झटका.

यूनिवर्सिटी बनी ही नहीं, राजस्थान सरकार ने बिल पेश कर दिया, फिर हुई मिट्टी पलीद!

यूनिवर्सिटी बनी ही नहीं, राजस्थान सरकार ने बिल पेश कर दिया, फिर हुई मिट्टी पलीद!

सरकार को बिल वापस लेना पड़ा, बीजेपी बोली- पूरे कुएं में भांग है.