Submit your post

Follow Us

कश्मीर, कुलभूषण और केजरीवाल पर कुमार विश्वास का 'बोल्ड' वीडियो

राजनीतिक पर्दे पर नेपथ्य में चल रहे कुमार विश्वास एक नए वीडियो के साथ सामने आए हैं. वह लंबे समय से ‘आप’ के कैंपेन और प्रचार से दूरी बनाए हुए हैं और इस बार उन्होंने देश के सामयिक मुद्दों पर पार्टी लाइन से इतर विचार रखे हैं. वीडियो में कुमार किसी नेता की तरह नहीं, बल्कि राष्ट्रवादी कवि की तरह कश्मीर, कुलभूषण जाधव और अरविंद केजरीवाल पर बात कर रहे हैं. वह लोगों की सुप्तता को लताड़ते हुए उनसे राजनीतिक खोलों से बाहर आने के लिए कह रहे हैं.

बेबाक राय रखने के लिए मशहूर कुमार अपनी पार्टी में कई बार असहमतियां जता चुके हैं. उन पर बीजेपी के लिए सॉफ्ट कॉर्नर रखने का आरोप भी लगा, लेकिन इस वीडियो में उन्होंने न सिर्फ प्रधानमंत्री और बीजेपी से सवाल किया, बल्कि इशारों-इशारों में यह भी बता दिया कि ‘आप’ और केजरीवाल भी आलोचना से ऊपर नहीं हैं. उनकी ये बात ‘आप’ को चुभ सकती है कि कुछ लोग सर्जिकल स्ट्राइक पर सरकार से श्रेय छीनने की कोशिश कर रहे हैं. वह लोगों को पार्टी लाइन से हटने और नेताओं की अंधी निष्ठा से बाहर आने की सलाह दे रहे हैं और खुद भी ऐसा कर रहे हैं.

अगर ‘बोल्ड’ शब्द मनोरंजन जगत के लिए आरक्षित नहीं है, तो कुमार का यह वीडियो बोल्ड है. वह शुरुआत में ही चेताते हैं कि किसी कवि, राजनीतिक पार्टी में काम करने वाले कार्यकर्ता या किसी सोशल एक्टिविस्ट कुमार विश्वास को कुछ देर एक किनारे रखकर सिर्फ उनकी बात पर गौर किया जाए.

पढ़िए कुमार के इस वीडियो की 10 खास बातें:

#1. बीते दिनों हमने कश्मीर का वीडियो देखा, जिसमें कुछ शोहदे सैनिकों के साथ बुरा सलूक कर रहे हैं. कुछ लोग सैनिकों के धैर्य की तारीफ कर रहे हैं, कुछ शोहदों को लताड़ रहे हैं, लेकिन क्या हम कुछ वक्त के लिए अपनी पार्टियों और नेताओं की चापलूसी के घेरे से बाहर आकर कुछ सोच सकते हैं? राज्य और केंद्र दोनों जगह एक ही सरकार होने के बावजूद कोई लफंगा भारत के बेटे पर हाथ कैसे उठा सकता है! कश्मीरियों को चुनाव पर भरोसा नहीं है और हम अपने रहनुमाओं पर फिदा हैं. हमें कोई चिंता ही नहीं है. अरे मोदी, राहुल, अरविंद, इंदिरा और योगी जैसे चेहरे तो आते-जाते रहेंगे हैं, लेकिन पांच हजार साल पुराना ये देश आगे भी हजारों सालों तक रहेगा.

#2. हम अमेरिका से पाकिस्तान को आतंकी देश घोषित करने के लिए कहते हैं, लेकिन हमने खुद क्या किया? पहले आप करिए. आपने तो पाक को मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा दे रखा है. अगर पाकिस्तान के प्याज और कपास के बिना हम मरते हैं, तो मर जाएं. अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा था कि हम भूखे रह लेंगे, लेकिन आत्मसम्मान से समझौता नहीं करेंगे. परमाणु परीक्षण पर प्रतिबंध लगाने के बावजूद अमेरिका को अपना माल बेचने के लिए हमारे दरवाजे पर आना पड़ा. हम 125 करोड़ हैं. किसी भी देश का फैसला कर सकते हैं.

#3. युद्ध की संभावना में जी रहे सब देश सुन लें, युद्ध भी है, बुद्ध भी है. जिसे चाहें, उसे चुन लें.

#4. पाकिस्तान के इतने हिंसक व्यवहार के बावजूद हम तय ही नहीं कर पा रहे हैं कि उसके साथ कैसा व्यवहार करें. हमें पहले यही तय करने की जरूरत है.

#5. अगर आप राष्ट्रवाद के नाम पर विश्वास मत हासिल करेंगे और फिर राष्ट्र के बेटों को थप्पड़ मारे जाएंगे, तो लोग आपसे सवाल करेंगे. भ्रष्टाचार मुक्ति के नाम पर अगर आप दिल्ली में सरकार बनाएंगे और अपने लोगों को भ्रष्टाचार पर मौन हो जाएंगे, तो लोग आपसे सवाल पूछेंगे.

#6. संकट बड़ा है, लेकिन हम इसे सामान्य समझ रहे हैं. हम सबके रहते कश्मीर में देश का झंडा जला दिया जाता है. तीन साल में 30 हजार किसान खुदकुशी कर चुके हैं. मनमोहन सरकार के दौर में भी किसानों ने खुदकुशी की थी, लेकिन क्या इस पर कुछ किया गया? कोई सांसद 20 हजार करोड़ का कर्ज लेकर विदेश भाग जाता है और हम चुप बैठे रहते हैं. अपने दल की सरकार होने की वजह से हम किसानों की मौत पर कुछ नहीं बोलते. ये पार्टी के लोग नहीं हैं, देश के लोग हैं.

#7. पाकिस्तानियों को पठानकोट में बुलाकर हमने सिंहों की पेशी करवा दी, कुत्तों के दरबार में. क्या हम 10-20 सालों के लिए भूल सकते हैं कि हमारे आसपास पाकिस्तान नाम का कोई देश भी है? तय कीजिए कि यह देश है या धर्मशाला!

#8. कुछ लोग सर्जिकल स्ट्राइक पर भी राजनीति करना चाहते हैं. कुछ पोस्टर लगाकर उसका श्रेय लेना चाहते हैं, तो कुछ सरकार से उसका श्रेय छीनना चाहते हैं. दोनों ही गलत हैं. घर में घुसकर मारने वाले बहादुर सैनिकों को सलाम. जब उसी सेना का एक सिपाही देश से शिकायत करता है कि उसे दाल के बजाय हल्दी का पानी पीना पड़ रहा है, तो हम चुप हो जाते हैं. नहीं बोलते, क्योंकि अभी तो अपनी सरकार है. सरकार अपनी है, तो सैनिक किसका है? अगर आपने उसके हक में बोलना बंद कर दिया, तो भारत की मांएं अपने बेटों को सरहद पर भेजना बंद कर देंगी.

#9. जब मुरली मनोहर जोशी लालचौक पर तिरंगा फहराने गए, तो अभी के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उस यात्रा के संयोजक थे. अच्छा लगता है जब पीएम दीवाली की छुट्टी में सियाचिन जाते हैं, लेकिन क्या हम पूरे कश्मीर को साथ लेकर लालचौक पर झंडा नहीं फहरा सकते. इतना बड़ा झंडा लगाएं कि उसका छाया पाकिस्तान तक दिखाई दे.

#10. अपनी राजनीतिक केंचुलियों से बाहर निकलिए और सवाल करना शुरू कीजिए.

देखिए कुमार विश्वास का यह वीडियो:


ये भी पढ़ें:

राजौरी गार्डन हार के बाद AAP को अगली बुरी खबर कुमार विश्वास से मिलेगी!

कुमार विश्वास के वो जोक्स जिन पर पब्लिक आज भी तालियां बजाती नहीं थकती

कुमार विश्वास और चेतन भगत के बीच बातों की जूतमपैजार

लो सुन लो कुमार विश्वास को

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या कहता है बिहार का पहला ओपिनियन पोल: NDA को मिलेगा बहुमत? नीतीश फिर बनेंगे सीएम?

क्या कहता है बिहार का पहला ओपिनियन पोल: NDA को मिलेगा बहुमत? नीतीश फिर बनेंगे सीएम?

लोकनीति और CSDS के ओपिनियन पोल की बड़ी बातें एक नजर में.

बिहार चुनाव में जितने उम्मीदवारों पर क्रिमिनल केस हैं, उससे ज्यादा तो करोड़पति हैं

बिहार चुनाव में जितने उम्मीदवारों पर क्रिमिनल केस हैं, उससे ज्यादा तो करोड़पति हैं

आपराधिक छवि वालों की इतनी तादाद से साफ है कि दलों को लगता है, 'दाग' अच्छे हैं

बीजेपी विधायक ने कहा- अगर राहुल 'छेड़छाड़' वाली बात साबित कर दें, तो मैं इस्तीफा दे दूंगा

बीजेपी विधायक ने कहा- अगर राहुल 'छेड़छाड़' वाली बात साबित कर दें, तो मैं इस्तीफा दे दूंगा

राहुल ने खबर शेयर की थी जिसमें लिखा था-बीजेपी विधायक रेप के आरोपी को थाने से छुड़ा ले गए.

बलिया गोलीकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

बलिया गोलीकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

एसटीएफ की टीम ने लखनऊ से पकड़ा. बलिया पुलिस को हैंडओवर करेगी.

हैदराबाद में भारी बारिश से सड़कों पर भरा पानी, परीक्षाएं टलीं, 11 लोगों की मौत

हैदराबाद में भारी बारिश से सड़कों पर भरा पानी, परीक्षाएं टलीं, 11 लोगों की मौत

एनडीआरएफ की टीम मदद में जुटी. लोगों से घरों में रहने की अपील.

सीएम जगनमोहन ने सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमना की शिकायत चीफ जस्टिस से क्यों कर दी?

सीएम जगनमोहन ने सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमना की शिकायत चीफ जस्टिस से क्यों कर दी?

ये पूरा मामला तो वाकई हैरान कर देने वाला है.

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

कहा- आर्टिकल 370 को हटाया जाना चीन कभी स्वीकार नहीं करेगा.

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

2024 तक देश के 6.62 लाख गांवों तक सुविधा पहुंचाने का लक्ष्य है.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

जस्टिस एनवी रमन्ना अगले संभावित चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया बन सकते हैं.

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

रिपब्लिक टीवी का आरोप है कि FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर एक्शन नहीं लिया गया.