Submit your post

Follow Us

ड्रग्स केस में कोर्ट ने आर्यन खान को बेल देने से इन्कार किया, दोबारा कस्टडी में भेजे गए

क्रूज़ शिप से कथित ड्रग्स के इस्तमाल मामले में गिरफ्तार किए गए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को कोर्ट ने बेल देने से इन्कार कर दिया. NCB ने कोर्ट में दावा किया कि आर्यन के फोन से उन्हें कुछ शॉकिंग मटीरियल मिला है. उसकी जांच के लिए उन्हें कम से कम 11 अक्टूबर तक आर्यन खान की कस्टडी मिलनी चाहिए. कोर्ट ने 11 तो नहीं लेकिन 7 अक्टूबर तक आर्यन खान, अरबाज़ मर्चेंट और मुनमुन धमेचा को NCB कस्टडी में भेज दिया है.

शनिवार को क्रूज़ शिप से डिटेन किए गए इन तीन लोगों से अगले दो दिन तक पूछताछ की गई. NCB ने इनके फोन जब्त कर लिए. उसी फोन से निकले चैट के आधार पर आर्यन समेत तीनों लोगों को गिरफ्तार किया गया. और उसी चैट के बेसिस पर ये दावा किया जा रहा है कि आर्यन खान किसी इंटरनेशनल ड्रग गैंग का हिस्सा हो सकते हैं. उन चैट्स को कोर्ट में NCB ने shocking, incriminating material यानी आर्यन को ड्रग केस से जोड़ने वाला हैरानीभरा मटीरियल बताया है.

कोर्ट में बहस के दौरान NCB ने कहा कि लड़कों के फोन से जो चैट निकली है, उसकी तहकीकात करने के लिए उन्हें 11 अक्टूबर तक की कस्टडी चाहिए होगी. उनकी इस दलील के जवाब में आर्यन के वकील सतीश मानशिंदे ने कहा कि उनके पास उन चैट्स की जांच करने के लिए दो दिन का समय था. इतने समय में उन्हें उन चैट्स के बारे में कुछ नहीं पता चला. इसलिए इस मामले में NCB को कस्टडी नहीं मिलनी चाहिए.

सतीष ने कोर्ट को बताया कि आर्यन के पास से NCB को किसी तरह का कोई ड्रग नहीं मिला है. जब ड्रग किसी और के पास से सीज़ किया गया है, तो फिर NCB को आर्यन को कस्टडी में लेने का कोई मतलब नहीं बनता.

आर्यन के दोस्त बताए जा रहे अरबाज़ मर्चेंट के पास से 6 ग्राम और मुनमुन धमेचा के पास से 5 ग्राम चरस बरामद की गई है. जबकि NCB का कहना है कि तीनों लड़कों के फोन से कुछ ऐसी चैट्स सामने आई हैं, जिससे ये पता चलता है कि ये लोग रेगुलर बेसिस पर पेडलर्स और सप्लायर्स के संपर्क में थे. NCB ने इसीलिए आर्यन समेत तीनों लड़कों को NDPS यानी नार्कोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटैंसेज एक्ट के तहत बुक किया है. इस एक्ट का मतलब ये है कि इन लोगों ने इल्लीगल तरीके से ड्रग्स खरीदे, इस्तेमाल किया और उसे बेचा.


वीडियो देखें: आर्यन की गिरफ्तारी के बाद शाहरुख खान को ट्रोल करने की सारी हदें पार

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

मृतक व्यक्ति पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप था.

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5G के रोल आउट को लेकर दिक्कतें चालू.

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

बीमा कंपनी गाड़ी चोरी या दुर्घटनाग्रस्त होने का बहाना बनाए तो ये आदेश दिखा देना.

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

दबी जुबान में क्या कह रही है पुलिस?

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.